स्किन पर ग्‍लो बढ़ाने के चक्कर में न करें ये 5 गलत‍ियां

कई बार कोश‍िश करने के बाद भी त्‍वचा में नहीं बढ़ रहा है ग्‍लो, तो इसके पीछे कई गलत‍ियां हो सकती हैं। जानते हैं इनके बारे में।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Oct 28, 2022 12:15 IST
स्किन पर ग्‍लो बढ़ाने के चक्कर में न करें ये 5 गलत‍ियां

हर कोई ग्‍लोइंग त्‍वचा का मुरीद होता है। साफ और चमकदार त्‍वचा के ल‍िए लोग न जाने क्‍या-क्‍या जतन करते हैं। लेक‍िन सब तरह के प्रयासों के बाद भी अच्‍छा पर‍िणाम देखने को नहीं म‍िलता है। इसका एक कारण है बाजार में म‍िलने वाले उत्‍पादों का ज्‍यादा इस्‍तेमाल। हमें लगता है महंगी क्रीम या लोशन लगा लेने से त्‍वचा सुंदर और चमकदार नजर आएगी पर ऐसा नहीं है। त्‍वचा में ग्‍लो बरकरार रखने के ल‍िए सही स्‍क‍िन केयर रूटीन फॉलो करें। इसके अलावा कुछ ऐसी गलत‍ियां हैं ज‍िनके कारण आपकी त्‍वचा का ग्‍लो छ‍िन सकता है। इनके बारे में हम आगे जानेंगे।

skin glow

1. ज्यादा मेकअप करना

त्‍वचा से ग्‍लो या शाइन कम हो रही है? इसका एक कारण मेकअप का ज्‍यादा इस्‍तेमाल या मेकअप को हटाने का गलत तरीका भी हो सकता है। मेकअप, त्‍वचा के ल‍िए क‍िसी भी तरह से फायदेमंद नहीं होता है। उसके ज्‍यादा इस्‍तेमाल से त्‍वचा में ग्‍लो कम हो जाता है। इसके अलावा मेकअप हटाने का गलत तरीका भी एक कारण हो सकता है। त्‍वचा से मेकअप हटाने के ल‍िए पहले कच्‍चे दूध का इस्‍तेमाल करें। उसके बाद फेसवॉश लगाएं। मेकअप को हटाने के ल‍िए डबल क्‍लीज‍िंग मेथड को अपनाएं।  

इसे भी पढ़ें- स्किन पर नैचुरल ग्लो चाहिए? अपनी डाइट और स्किन केयर रूटीन में आज से करें ये 5 बदलाव

2. त्‍वचा को ज्‍यादा स्‍क्रब करना 

त्‍वचा को ज्‍यादा स्‍क्रब करने के कारण भी त्‍वचा का ग्‍लो छ‍िन सकता है। कई लोग जरूरत से ज्‍यादा बार फेसवॉश और स्‍क्रब का इस्‍तेमाल कर लेते हैं। ऐसा करने से त्‍वचा में मौजूद नैचुरल ऑयल की मात्रा कम हो जाती है। द‍िन में 2-3 बार फेसवॉश का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इससे ज्‍यादा बार फेसवॉश न लगाएं। हफ्ते में 2 बार से ज्‍यादा स्‍क्रब का इस्‍तेमाल करने से बचें। 

3. बिना सोचे घरेलू नुस्खों का प्रयोग

बहुत सारे लोग स्किन पर ग्लो लाने के लिए कई तरह के घरेलू उपायों का प्रयोग करते हैं। लोगों को लगता है कि नैचुरल होने के कारण हर घरेलू उपाय उनके लिए कारगर साबित होगा, मगर ऐसा नहीं होता। कुछ घरेलू उपायों से आपकी स्किन को नुकसान भी पहुंच सकता है। जैसे- नींबू के रस को स्किन के लिए फायेदमंद माना जाता है। मगर यदि इसका प्रयोग सीधे त्वचा पर कर लिया जाए, तो ये स्किन को जला भी सकता है। इसी तरह एप्पल साइडर विनेगर, आलू का रस, मुल्तानी मिट्टी, गुलाबजल आदि को ठीक से न इस्तेमाल करने पर ये स्किन की ड्राईनेस बढ़ाकर एजिंग के लक्षणों को बढ़ा सकते हैं।

4. नए-नए ब्रांड्स के प्रोडक्ट्स ट्राई करना

बहुत सारे लोग एक प्रोडक्ट के कुछ दिन के इस्तेमाल के बाद असर न दिखने पर तुरंत ब्रांड बदलकर नया प्रोडक्ट इस्तेमाल करने लगते हैं। सभी ब्रांड्स के स्किन केयर प्रोडक्ट्स में अलग-अलग केमिकल्स का प्रयोग होता है। इसलिए बहुत जल्दी-जल्दी प्रोडक्ट्स बदलने पर आपकी स्किन का पीएच लेवल बिगड़ सकता है और कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। कोशिश करें कि नया प्रोडक्ट खरीदने से पहले उसका ट्रायल वर्जन लेकर ट्राई करें। 

5. सिर्फ स्किन केयर प्रोडक्ट्स से खूबसूरत बनने की कोशिश

बहुत सारे लोगों को लगता है कि वो मंहगे स्किन केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करेंगे, तो उनकी स्किन पर ग्लो आएगा या वो ज्यादा आकर्षक दिखेंगे। ये धारणा बिल्कुल गलत है। आपकी खूबसूरती आपकी बाहरी देखभाल से ज्यादा आपके भीतरी स्वास्थ्य पर निर्भर करती है। अगर आप ग्लोइंग, स्मूद और खूबसूरत स्किन पाना चाहते हैं, तो स्किन केयर प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से ज्यादा हेल्दी लाइफस्टाइल पर ध्यान दें। फल-सब्जियों का सेवन, नट्स और सीड्स का सेवन, ज्यादा पानी पीना, दूध वाली चाय के बजाय हर्बल चाय का सेवन आदि ऐसे तरीके हैं, जो आपके स्किन को भीतर से ग्लोइंग बना सकते हैं।

त्‍वचा को ग्‍लोइंग बनाए रखने के ल‍िए बाजार के उत्‍पादों से बचें। सही स्‍क‍िन केयर रूटीन फॉलो करें और हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल अपनाएं।

Disclaimer