किचन के कीड़े-मकौड़ों को मार देता है पुदीने का पौधा, जानें कैसे

पुदीने को आप स्‍प्रे के तौर पर इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसका प्रयोग आप घर में मच्‍छर, कीड़े-मकौड़े, मक्खियां इत्‍यादि को भगाने में आपकी मदद करेगा। इसके छिड़काव से कमरे में एक अलग तरह की खुशबू महसूस

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Sep 07, 2018
किचन के कीड़े-मकौड़ों को मार देता है पुदीने का पौधा, जानें कैसे

नेचर और जड़ी-बूटियों के करीब रहने से हेल्‍थ के प्रति कई संतोषजनक परिणाम देखने को मिलते हैं। अगर आपके आसपास ऐसा नजारा देखने को नहीं मिलता है तो आप इस प्रकार का वातावरण अपने आस-पास बना सकते हैं। इसके लिए ज्‍यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है। किसी नर्सरी में जाएं और हेल्‍थ फ्रेंडली पौधों को लेकर आएं और गमले में लगाकर घर के छज्‍जे, बेडरूम, किचन हॉल में रखें।

यहां हम फूलदार और सजावटी पौधों की बात नहीं कर रहे बल्कि उन जड़ी-बूटी वाले पौधों की बात कर रहे हैं जो आप खाना पकाने में एक घटक के तौर पर इस्‍तेमाल करते हैं। इनमें से एक पौधा है पुदीने का पौधा, जी हां यह एक ऐसा पौधा है जिसे किचन में रखने मात्र से काफी हद तक कीट-पतंगों के लिए repellant यानी निरोधक का काम करता है। 

 

अगर चुपके से कीड़े आपके रसोईघर में अपना रास्ता बना रहे हैं, तो निश्चित रूप से आपको एक पुदीने का पौधा लगाने की जरूरत है। पुदीना प्रकृतिक रूप से आपके घर में कीट-पतंगों को बढ़ने से रोकती है साथ ही घर को एक खुशनुमा एहसास देता है। ये पौधा चींटियों, मच्छरों और चूहों की तरह कीट पतंगों को भी रोकता है। 

वैसे तो बगीचे में पुदीने का पौधा तेजी से फैलता है लेकिन अगर आप इसे घर में लगाना चाहते हैं तो किसी छोटे से गमले में एक छोटा सा पौधा लगा दें। कोशिश ये करें कि पौधा ऐसी जगह हो जहां सूरज की रोशनी मिलती रहे इसके अलावा आप भी पानी देते रहें। 

इसे भी पढ़ें: मनोवैज्ञानिक समस्या है एडजस्टमेंट डिसॉर्डर, जानें लक्षण और बचाव 

स्‍प्रे के तौर पर करें इस्‍तेमाल

पुदीने को आप स्‍प्रे के तौर पर इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप पुदीने की पत्तियों को लेकर पानी में उबाल लें। इससे पुदीने का अर्क पानी में आ जाएगा। अब इस पानी को छानकर स्‍प्रे बॉटल में भर लें। इसका प्रयोग आप घर में मच्‍छर, कीड़े-मकौड़े, मक्खियां इत्‍यादि को भगाने में आपकी मदद करेगा। इसके छिड़काव से कमरे में एक अलग तरह की खुशबू महसूस कर पाएंगे।  

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Living In Hindi 

Disclaimer