कैंसर से लंबे समय तक लड़ने में मददगार होती है विवाहित जिंदगी

बोस्टन के हावर्ड मेडिकल स्कूल के डॉक्टर एयल आइजर के अनुसार, कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी होने के बावजूद विवाहित व्‍यक्‍ित लंबे समय तक जीवित रहता है।

एजेंसी
लेटेस्टWritten by: एजेंसीPublished at: Sep 25, 2013
कैंसर से लंबे समय तक लड़ने में मददगार होती है विवाहित जिंदगी

marriage tied to cancer survial विवाहित लोगों को एक-दूसरे से जिंदगी में होने वाले फायदों के बारे में तो सभी जानते हैं। अब नए शोध से कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी के इलाज में विवाह के प्रभावी उपचार के रूप में उभरने की पुष्टि हुई है।

 

अमेरिकी अनुसंधानकर्ताओं के अनुसार कैंसर के वो मरीज जो इलाज के समय विवाहित होते हैं वे अविवाहित मरीजों की तुलना में ज्यादा समय तक जीवित रहते हैं। अध्ययन में पाया गया कि वास्तव में कुछ कैंसर रोगों से बचाव में कीमोथेरेपी की अपेक्षा विवाहित होना ज्यादा प्रभावकारी साबित होता है।

 

अनुसंधानकर्ता बोस्टन के हावर्ड मेडिकल स्कूल के डॉक्टर एयल आइजर इस अध्ययन के प्रमुख है। उनके अनुसार विवाहित मरीजों में इसकी शुरुआती चरण में ही पहचान होने से रोग का समय रहते उचित इलाज हो जाता है जो मरीजों को जीवन प्रत्याशा बढ़ाने में सहायक होता है।

 

उन्होंने कहा कि अध्ययन से यह पहली बार पता चला है कि कैंसर के प्रमुख रूपों जैसे फेफड़े, स्तन, अग्नाशय, प्रोस्टेट, लीवर, सिर, गर्दन, ओवेरियन और भोजन नलिका रोगियों के लंबे समय तक जीवित रहने में विवाह कैसे फायदेमंद साबित होता है।

 

आइजर ने उम्‍मीद जताई कि विवाह के कारण मिलने वाली सामाजिक मदद ही लोगों के लिए इस बीमारी से उबरने में मददगार साबित होती है। अध्ययन के परिणाम बताते है कि जो मरीज विवाहित नहीं हैं उन्हें बीमारी का पता चलने पर सुधार के लिए दोस्तो की मदद लेनी चाहिए और डॉक्टरों से भी लगातार संपर्क करना चाहिए।

 

Read More Health News In Hindi

Disclaimer