Low BP Symptoms: शरीर में लो ब्लड प्रेशर के कारण दिख सकते हैं ये 7 लक्षण, न करें नजरअंदाज

Low BP Symptoms in Hindi  : लो ब्लड प्रेशर के कारण लोगों के शरीर में अलग-अलग लक्षण नजर आते हैं। जिसमें से कुछ लक्षण गंभीर हो सकते हैं। 

 
Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Feb 08, 2022Updated at: Feb 08, 2022
Low BP Symptoms: शरीर में लो ब्लड प्रेशर के कारण दिख सकते हैं ये 7 लक्षण, न करें नजरअंदाज

ब्लड प्रेशर वो प्रेशर होता है, जो हार्ट द्वारा पंप किए गया खून आर्टरीज पर डालता है, जिसका बैलेंस होना स्वस्थ रहने के लिए बेहद जरूरी है। अगर आपका ब्लड प्रेशर बहुत ज्यादा है, तो इससे भी शरीर को खतरा है और अगर आपका ब्लड अचानक से कम हो जाता है तो ये भी आपके शरीर के लिए सही नहीं है।  सामान्य ब्लड प्रेशर 120/80 है। लेकिन अगर किसी का ब्लड प्रेशर इससे नीचे यानी कि 90/60 है तो, ये लो बीपी में आता है। इस दौरान शरीर का ब्लड सर्कुलेशन औसत से कम हो जाता है। अक्सर लोग लो ब्लड प्रेशर को गंभीरता से नहीं लेते हैं। जबकि शरीर में लो ब्लड प्रेशर के कारण खून उन आवश्यक अंगों तक नहीं पहुंच पाता है जो उनके कामकाज में बाधा डालते हैं। ऐसे में हृदय, किडनी, फेफड़े और मस्तिष्क आंशिक या पूरी तरह से काम करना बंद कर सकते हैं। इससे शरीर में कई लक्षण (Low bp symptoms) नजर आ सकते हैं। लेकिन उससे पहले जानते हैं लो ब्लड प्रेशर का कारण।

Insidebpcheck

डॉ. तपन घोष (DR. Tapan Ghosh), प्रिंसिपल कंसलटेंट, कार्डियोलॉजी, फॉर्टिस अस्पताल, वसंत कुंज, दिल्ली, बताते हैं कि लो ब्लड प्रेशर कई कारणों से हो सकता। जैसे कि शरीर में पानी की कमी के कारण, स्ट्रेस से, बहुत देर तक भूखा रहने से,  खराब लाइफस्टाइल से, कुछ दवाइयों के कारण सर्जरी, जेनेटिक कारणों से या फिर किसी गंभीर चोट के कारण। ये सभी कभी भी आपमें लो ब्लड प्रेशर का कारण बन सकते हैं। इनके कारण शरीर में कई लक्षण (Low blood pressure symptoms in hindi) नजर आ सकते हैं। जैसे कि

लो ब्लड प्रेशर के लक्षण- Low BP Symptoms in Hindi 

1. चक्कर आना

लो ब्लड प्रेशर होने पर लोगों में चक्कर आने की समस्या नजर आती है। दरअसल,  लो ब्लड प्रेशर होने पर हृदय मस्तिष्क को पर्याप्त खून की आपूर्ति नहीं कर पाता है। मस्तिष्क में इस अपर्याप्त ब्लड सप्लाई के कारण लोग बेहोश हो जाते हैं, चक्कर आने लगता है या फिर सिर घूमने की शिकायत करते हैं।

2. धुंधला दिखाई देना

लो ब्लड प्रेशर के कारण कई बार आंखों से धुंधला दिखाई दे सकता है। या फिर अचानक से आंखों के आगे अंधेरा छा सकता है। दरअसल, ये इसलिए होता है क्योंकि ब्लड प्रेशर कम होने से ऑप्टिक तंत्रिका के पोषक तत्व और ऑक्सीजन की आपूर्ति बंद हो जाती है, जिससे तंत्रिका टिशूज क्षतिग्रस्त हो जाते हैं और खो जाते हैं, जिससे अचानक से धुंधला नजर आने लगता है।

इसे भी पढ़ें : डायरिया (दस्त) होने के क्या कारण हो सकते हैं? एक्सपर्ट से जानें इसके लक्षण, खतरे और बचाव के लिए सावधानियां

3. कमजोरी और थकान

लो ब्लड प्रेशर का मतलब है कि आपके महत्वपूर्ण अंगों को उतना रक्त प्रवाह नहीं मिल रहा है जितना उन्हें चाहिए। अगर ऐसा होता है, तो आप थका हुआ या अस्वस्थ महसूस कर सकते हैं। साथ ही इस दौरान शरीर में पोषक तत्वों की कमी भी महसूस होने लगती है जो कि लो ब्लड प्रेशर का ही एक लक्षण है। 

4. मतली या उल्टी

लो ब्लड प्रेशर कई बार शरीर में पानी की कमी के कारण होती है। ऐसे में व्यक्ति को रह-रह कर मतली महसूस हो सकती है या फिर उल्टी करने का भी मन हो सकता है। ऐसे में जरूरत ये है कि आप तुरंत ही पानी पिएं। पानी ना सिर्फ डिहाईड्रेशन को कम करता है बल्कि, बीपी को बैलेंस करता है और शरीर का टैंप्रेचर भी सही करता है।  

Inside1lowbp

5.  कंसंट्रेशन की कमी

कंसंट्रेशन की कमी लो ब्लड प्रेशर की वजह से भी हो सकती है। दरअसल, लो ब्लड प्रेशर के दौरान मस्तिष्क में ब्लड सर्कुलेशन धीमा पड़ने लगता है और कुछ सेल्स पोषक तत्वों की कमी से निष्क्रिय होने लगते हैं, जिससे ध्यान लगाना मुश्किल हो जाता है। इसके कारण मस्तिष्क में क्षति और इसके संज्ञानात्मक कामों में कमी आ सकती है।

इसे भी पढ़ें : पैरों में होने वाले रैशेज किन कारणों से होता है? जानें इससे बचाव के उपाय

6. हाथ पैर ठंडे होना

लो ब्लड प्रेशर के कुछ लक्षणों में हाथ-पैर तेजी से ठंडे पड़ने लगते हैं। इस दौरान धमनियां सिकुड़ती हैं, तो त्वचा, पैरों और हाथों में रक्त का प्रवाह कम हो जाता है। ये क्षेत्र ठंडे पड़ जाते हैं और कई बार नीले भी हो सकते हैं। ऐसे में लो बीपी होने पर लोगों को तुरंत ही मोजे पहना दें।

7. चेहरा पीला पड़ना

बीपी कम होने के साथ ऑक्सीजन व रेड सेल्स में भी कमी आने लगती है। जिस वजह से त्वचा पीली पड़ने लगती है। ऐसे में आप इस लो बीपी को बैलेंस करने के लिए उन्हें तुरंत जूस ले सकते हैं या फिर गर्म दूध पी सकते हैं। इससे जैसे ही बीपी बैलेंस होगी आपकी त्वचा की रंगत वापिस आ जाएगी। लेकिन इसके बाद भी आपको सर्तक रहने की जरूरत है ताकि ये स्थिति दोबारा ना हो। 

इसके अलावा भी लो ब्लड प्रेशर के कई गंभीर लक्षण नजर आ सकते हैं। जैसे कि दौरे पड़ना या फिर बोलने में कंफ्यूजन। साथ ही कई बार ये स्ट्रोक का कारण भी बन जाता है।  इसलिए आपको इन तमाम परेशानियों से बचे रहने के लिए लो ब्लड प्रेशर होते ही इसे संतुलित करने की कोशिश करनी चाहिए।

all images credit: freepik

Disclaimer