प्रेगनेंसी के लक्षण नजर आने पर भी नेगेटिव आ रही है रिपोर्ट, तो जानें इसके 4 कारण

मॉर्निंग सिकनेस, जी मिचलाना जैसे लक्षणों के बाद भी यदि प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आते हैं तो इसके पीछे हो सकते हैं कुछ कारण

Monika Agarwal
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: Monika AgarwalPublished at: Aug 07, 2022Updated at: Aug 07, 2022
प्रेगनेंसी के लक्षण नजर आने पर भी नेगेटिव आ रही है रिपोर्ट, तो जानें इसके 4 कारण

अगर महिला कंसीव करने की कोशिश कर रही हैं और उसको प्रेगनेंसी से जुड़े लक्षण देखने को मिल रहे हैं, तो वे इन्हें देखकर काफी अच्छा महसूस कर सकती हैं। लेकिन कई बार प्रेगनेंसी के लक्षण नजर आने के बाद भी प्रेगनेंसी रिपोर्ट नेगेटिव आ जाती है, ऐसे में महिला उदास हो जाती है। नवीन हॉस्पिटल के सीनियर गायनोकोलॉजिस्ट एंड इनफर्टिलिटी स्पेशलिस्ट डॉक्टर डीडी वर्मा बताते हैं कि प्रेगनेंसी के लक्षण नजर आने के बाद भी अगर रिपोर्ट नेगेटिव आती है, तो इसके पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं।

1. प्रेगनेंसी टेस्ट काफी पहले कर लेना

जब आप प्रेगनेंट होती हैं, तो आपके शरीर में एचसीजी नामक हार्मोन बनना शुरू हो जाता है। इसी हार्मोन को पहचानकर टेस्ट पॉजिटिव आता है। जब प्रेगनेंसी को थोड़ा समय हो जाता है, तब ही यह हार्मोन पकड़ में आ पाता है। इसलिए अगर बहुत जल्दी प्रेगनेंसी टेस्ट किया जाता है, तो यह नेगेटिव आ सकता है। 

2. सैंपल का डाइल्यूट होना

प्रेगनेंसी टेस्ट सुबह-सुबह के पहले पेशाब के साथ ही करना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से HCG पकड़ में आ पाता है। अगर आप सुबह उठकर काफी ज्यादा पानी पी लेती हैं या फिर पूरी रातभर पानी पीती रहती हैं, तो पेशाब में पानी डाइल्यूट होने की वजह से भी सही नतीजे न आने जैसी स्थिति देखने को मिल सकती है।

अगर प्रेग्नेंसी टेस्ट करते समय शरीर में HCG लेवल काफी लो होता है, तो भी कभी कभार सही नतीजे नहीं देखने को मिलते हैं। क्योंकि इतने कम लेवल डिटेक्ट नहीं हो पाते हैं। अगर दिन के किसी भी समय चेक कर लेती हैं, तो इस हार्मोन का पकड़ में आ पाना मुश्किल होता है। यह सुबह के समय ही शरीर में हाई लेवल में पाया जाता है।

इसे भी पढ़ें- ‘क्रिप्टिक प्रेगनेंसी' में प्रेगनेंट होने के बाद भी नहीं दिखते कोई लक्षण, डॉक्टर से जानें इसके बारे में

3. टेस्ट करने में ज्यादा समय लगा देना

जिस प्रकार ज्यादा जल्दी प्रेगनेंसी टेस्ट करने से गलत नतीजे सामने आ सकते हैं। उसी प्रकार ज्यादा देर में टेस्ट करने से भी गलत नतीजे सामने आ सकते हैं। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि इस समय शरीर में HCG के लेवल ज्यादा मात्रा में बढ़ जाता है। इसकी वजह से टेस्ट नेगेटिव निकल सकता है।

4. टेस्ट किट का खराब होना

अगर आप सही ढंग से टेस्ट नहीं करती हैं, तो भी टेस्ट के नतीजों में बदलाव देखने को मिल सकता है। वैसे तो अधिकतर टेस्ट कीट सही नतीजे ही देते हैं,  लेकिन अगर टेस्ट कीट भी फॉल्टी आ गई तो समझ जाइए कि आपके नतीजों में गलती पाई जा सकती है। एक्सपायरी डेट को भी जरूर चेक कर लें और किट को उससे पहले ही चेक करें।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण क्या होते हैं और कितने दिन बाद दिखाई देते हैं? डॉक्टर से जानें

अगर आप सही ढंग से और सही समय पर टेस्ट कराती हैं, तो नतीजे सही ही देखने को मिलते हैं। लेकिन अगर आप टेस्ट को सही ढंग से करती हैं और फिर भी आपको लग रहा है कि इसके रिजल्ट सही नहीं होंगे तो आपको या तो कुछ समय बाद दूसरा टेस्ट करवाना चाहिए। 

Disclaimer