Doctor Verified

क्या बच्चों के लिए प्रोटीन पाउडर सुरक्षित है? एक्सपर्ट से जानें बच्चों के लिए इसके फायदे, नुकसान और सावधानियां

आप भी बच्‍चों को देते हैं प्रोटीन पाउडर तो जानें क‍िन बातों का रखना चाह‍िए ख्‍याल 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 22, 2022Updated at: Jan 22, 2022
क्या बच्चों के लिए प्रोटीन पाउडर सुरक्षित है? एक्सपर्ट से जानें बच्चों के लिए इसके फायदे, नुकसान और सावधानियां

कुछ पैरेंट्स बच्‍चों के शरीर में प्रोटीन की कमी दूर करने के ल‍िए प्रोटीन पाउडर देते हैं, इसका सेवन करवाने से पहले आपको जानना चाह‍िए क‍ि क्‍या वाकई ये आपके बच्‍चे के ल‍िए सेफ है। अगर बच्‍चे के शरीर में प्रोटीन की कमी है तो आप उसे दही, भुना हुआ चना, नट बटर, ब्राउन राइस, टोफू, सोया म‍िल्‍क, बीन्‍स, मटर, दाल, चने आद‍ि का सेवन करवा सकते हैं। इन सभी चीजों में प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है। अगर बच्‍चे इनका सेवन करेंगे तो उनके शरीर में प्रोटीन की कमी नहीं होगी और अलग से प्रोटीन पाउडर का सेवन नहीं करना पड़ेगा। इस लेख में हम बच्‍चों को प्रोटीन पाउडर देने से पहले बरतने वाली सावधानी, फायदे और नुकसान पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के डफर‍िन अस्‍पताल के वर‍िष्‍ठ बाल रोग व‍िशेषज्ञ डॉ सलमान खान से बात की।

protein powder and babies

image source:google

बच्चों को लिए प्रोटीन पाउडर सुरक्ष‍ित है? (Is protein powder safe for kids) 

जो बच्‍चे अपनी डाइट ठीक से लेते हैं उन्‍हें प्रोटीन पाउडर लेने की जरूरत नहीं होती, ऐसा हो सकता है क‍ि बच्‍चों के शरीर में प्रोटीन की कमी हो पर केवल उन बच्‍चों को प्रोटीन पाउडर लेने की सलाह दी जाती है जिन्‍हें डाइट के जर‍िए प्रोटीन न द‍िया जा सके या खाने से ज‍िन बच्‍चों को प्रोटीन न म‍िल रहा हो। अगर जरूरत से ज्‍यादा प्रोटीन का सेवन बच्‍चे कर लें तो इससे उनकी तबीयत ब‍िगड़ सकती है इसल‍िए डॉक्‍टर की सलाह के बगैर उन्‍हें प्रोटीन पाउडर न दें, साथ ही आप बच्‍चे को घर में बनाया हुआ प्रोटीन पाउडर दें, बाजार के प्रोटीन पाउडर बच्‍चों की सेहत खराब कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- जन्म के पहले साल शिशु को अक्सर होती हैं 5 समस्याएं, डॉक्टर से जानें कैसे करें बचाव

बच्‍चों के ल‍िए प्रोटीन पाउडर के फायदे (Benefits of protein powder for children)

  • ज‍िन बच्‍चों को डॉक्‍टर प्रोटीन पाउडर दूध में डालकर पीने की सलाह देते हैं उन्‍हें आप प्रोटीन पाउडर डॉक्‍टर की सलाह पर दे सकते हैं।
  • ज‍िन बच्‍चों का वजन कम होता है यानी जो बच्‍चे अंडरवेट होते हैं उन्‍हें डॉक्‍टर प्रोटीन पाउडर का सेवन करने की सलाह देते हैं।
  • मेटाबॉल‍िक स‍िंड्रोम होने के कारण या जो बच्‍चे वेज‍िटेर‍ियन फूड खाते हैं, उन्‍हें भी डॉक्‍टर प्रोटीन पाउडर का सेवन करने की सलाह दी जाती है।

बच्‍चों के ल‍िए प्रोटीन पाउडर के नुकसान (Side effects of protein powder for children)

protein and baby

image source:google

प्रोटीन पाउडर का ज्‍यादा इस्‍तेमाल करने से बच्‍चों के शरीर में क‍िडनी स्‍टोन हो सकते हैं। प्रोटीन पाउडर में कई ऐसे तत्‍व मौजूद होते हैं जो बच्‍चों के शरीर के ल‍िए हान‍िकारक होते हैं। कई ऐसे भी प्रोटीन पाउडर होते हैं ज‍िनमें क्र‍िएट‍िन कम्‍पाउंड मौजूद होता है, इससे बच्‍चों का वजन बढ़ सकता है। साथ ही बाजार में म‍िलने वाले प्रोटीन पाउडर में शुगर की ज्‍यादा मात्रा होती है, इसे अगर बच्‍चे रोजाना प‍िएंगे तो उनका वजन भी बढ़ सकता है। ज्‍यादा प्रोटीन का सेवन करने से बच्‍चों के ल‍िए शरीर में न्‍यूट्र‍िशन की कमी हो सकती है। अगर ज्‍यादा प्रोटीन पाउडर बच्‍चों को देंगे तो उन्‍हें पेट संबंधी श‍िकायतें जैसे डायर‍िया, पेट में दर्द, कब्‍ज की श‍िकायत, पेट में गैस की श‍िकायत हो सकती है। कई बच्‍चों को प्रोटीन पाउडर का सेवन करने से लैक्‍टोज इंटॉलरेंस की समस्‍या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें- बच्चों को सलाद कैसे खिलाएं? जानें 5 आसान तरीके

बच्‍चों के ल‍िए प्रोटीन पाउडर का इस्‍तेमाल करते समय क‍िन बातों का ध्‍यान रखें? (Precautions for children while consuming protein powder)

  • ज‍िन बच्‍चों की उम्र एक साल व उससे कम हो उन्‍हें प्रोटीन पाउडर न दें।
  • ज‍िन बच्‍चों को डॉक्‍टर प्रोटीन पाउडर देने की सलाह देते हैं उन्‍हें आप सुबह नाश्‍ते में दूध में म‍िलाकर प्रोटीन पाउडर दे सकते हैं।
  • जो बच्‍चे स्‍पोर्ट्स या दूसरी एक्‍टीव‍िटी में जुड़े होने के कारण ज्‍यादा कैलोरी बर्न करते हैं उन्‍हें प्रोटीन की जरूरत भी ज्‍यादा होती है। 
  • अगर बच्‍चे की उम्र 14 से 18 साल है तो उसे एक द‍िन में 50 से 52 ग्राम प्रोटीन पाउडर दे सकते हैं। 
  • अगर 14 से 18 उम्र की लड़की है तो उसे एक द‍िन में 43 से 46 ग्राम प्रोटीन पाउडर दें सकते हैं।
  • 9 से 13 साल के बच्‍चों को 30 से 34 ग्राम प्रोटीन पाउडर प्रत‍िद‍िन दे सकते हैं।
  • अगर बच्‍चे की उम्र 4 से 8 साल के बीच है तो उसे 15 से 19 ग्राम प्रोटीन पाउडर हर द‍िन द‍िया जा सकता है।
  • अगर बच्‍चे कीक उम्र 1 से 3 साल है तो उसे 14 ग्राम से ज्‍यादा प्रोटीन पाउडर एक द‍िन में न दें।

आप बच्‍चे को केवल वही प्रोटीन पाउडर दें जो डॉक्‍टर ने प्रिस्क्राइब क‍िया हो क्‍योंक‍ि बाजार में म‍िलने वाले प्रोटीन पाउडर में एडड प्रोटीन या शुगर हो सकती है ज‍िससे बच्‍चे की सेहत ब‍िगड़ सकती है इसल‍िए डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें।

main image source:google

Disclaimer