क्या ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से किडनी वाकई स्वस्थ रहती है? जानें एक्सपर्ट की राय

ग्रीन टी स्वास्थ्य के लिए काफी हेल्दी होता है। किडनी के लिए भी इससे कई लाभ हो सकते हैं। जानते हैं क्या ग्रीन टी में नींबू डालकर किडनी को फायदे होते है

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Aug 16, 2022Updated at: Aug 16, 2022
क्या ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से किडनी वाकई स्वस्थ रहती है? जानें एक्सपर्ट की राय

Kidney and green Tea : किडनी को स्वस्थ रखना शरीर के लिए बहुत ही जरूरी माना जाता है। इसकी मदद से शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर किया जा सकता है। साथ ही यह अन्य समस्याओं को कम कर सकता है। किडनी को स्वस्थ रखने के लिए ग्रीन टी और नींबू पानी पीने की सलाह दी जाती है। ऐसे में सवाल यह है कि क्या ग्रीन टी के साथ नींबू का सेवन करने से किडनी को स्वस्थ रखा जा सकता है? इस विषय की जानकारी के लिए हमने गाजियाबाद स्वर्ण जयंती के आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर राहुल चतुर्वेदी से बातचीज की। आइए जानते हैं क्या नींबू के साथ ग्रीन टी पीने से किडनी को स्वस्थ रखा जा सकता है? 

क्या नींबू के साथ ग्रीन टी किडनी के लिए है फायदेमंद?

आयुर्वेदाचार्य राहुल चतुर्वेदी का कहना है कि ग्रीन टी के साथ नींबू का सेवन करने से किडनी स्टोन की परेशानियों को कम किया जा सता है। कुछ रिसर्च में बताया गया है कि ग्रीन टी पीने से किडनी स्टोन का खतरा कम हो सकता है। वहीं, नींबू भी किडनी की परेशानियों को दूर करने में प्रभावी होता है। ऐसे में इन दोनों का मिश्रण किडनी स्टोन और किडनी से जुड़ी अन्य परेशानियों को कम करने में असरदार साबित हो सकता है। 

किडनी की समस्याओं में ग्रीन टी

ग्रीन टी में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट मुख्य रूप से पॉलीफेनोल का प्रभाव हाइपरयूरिसीमिया को कम करता है, जो क्रोनिक किडनी डिजीज और प्रीग्लोमेरुलर आर्टेरियोपैथी के लिए जिम्मेदार माना जाता है। ऐसे में ग्रीन टी किडनी रोगियों के लिए हेल्दी हो सकता है। 

ग्रीन टी में एपिगैलोकैटेचिन गैलेट का स्तर काफी उच्च होता है जो किडनी की पथरी के खतरे को भी कम कर सकता है। किडनी में किसी तरह की समस्या या फिर डैमेज होने की स्थिति में एक्सपर्ट ग्रीन टी पीने की सलाह दे सकते हैं। 

ग्रीन टी में ईसीजी (एपिकेचिन गैलेट) होता है। यह एक शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट  है जो किडनी को डैमेज होने से रोक सकता है। इसके सेवन से किडनी की सूजन और कोशिकाओं को डैमेज होने से रोका जा सकता है। 

किडनी स्टोन के लिए ग्रीन टी 

किडनी स्टोन की परेशानियों को कम करने के लिए ग्रीन टी काफी हेल्दी साबित हुई है। इसके अर्क में मौजूद गुण स्टोन की परेशानियों को कम करता है। साथ ही स्टोन को विकसित होने से भी रोकता है। 

 ग्रीन टी कैल्शियम ऑक्सालेट के साथ मिलकर इसके क्रिस्टल को अलग-अलग टुकड़ों में बांटती है, जिससे यह धीरे-धीरे मूत्र पथ के रास्ते बाहर निकल सकती है। 

शोध के अनुसार, ग्रीन टी के अर्क कैल्शियम ऑक्सालेट को कम करने और विकसित होने से रोकने में असरदार साबित हो सकती है। ऐसे में ग्रीन टी आपकी किडनी के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। 

 
Disclaimer