Coronavirus: हाथ की घड़ी, अंगूठी और चूड़ियों पर भी जमा हो सकता है कोरोना वायरस, सिर्फ हाथ धोना नहीं पर्याप्त

कोरोना वायरस आपकी अंगूठी, चूड़ियों, ब्रेसलेट और घड़ी पर कई दिनों तक संक्रामक रूप से एक्टिव रह सकता है। इससे बचाव के लिए जानें जरूरी बातें।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 18, 2020
Coronavirus: हाथ की घड़ी, अंगूठी और चूड़ियों पर भी जमा हो सकता है कोरोना वायरस, सिर्फ हाथ धोना नहीं पर्याप्त

कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए सभी एक्सपर्ट्स एक ही जरूरी सलाह दे रहे हैं और वो है कि अपने हाथों को समय-समय पर साबुन और पानी से धोते रहें। अगर यह संभव न हो तो कम से कम एल्कोहल वाले हैंड सैनिटाइजर से हाथों को साफ कर लें। वास्तव में यही एक तरीका है, जिससे आप अपने मुंह, आंखों औक नाक के संपर्क में आने से कोरोना वायरस को रोक सकते हैं। मगर अंजाने में कुछ गलतियां आपके बार-बार हाथ धोने के प्रयास को खराब कर सकती हैं और पर्याप्त सावधानी के बाद भी आप कोरोना वायरस का शिकार हो सकते हैं। दरअसल कोविड-19 नामक बीमारी फैलाने वाला खास जीवाणु, जिसे कोरोना वायरस नाम दिया गया है, प्लास्टिक, कांच और धातु पर कई दिनों तक एक्टिव रह सकता है। ऐसे में अगर आप हाथ धोने में कोताही नहीं बरतते हैं, लेकिन आपने अपने हाथ में अंगूठी, घड़ी, ब्रेसलेट और चूड़ियां पहन रखी हैं, तो भी इस वायरस की चपेट में आने का खतरा बना रहता है।

डरें नहीं, केवल सावधानी बरतें

हालांकि इतनी बातें पढ़कर आपको डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि ये स्थिति तभी बनेगी जब आपके आसपास कोरोना के विषाणु मौजूद होंगे या आप कोरोना के बीमार के संपर्क में आए होंगे। मगर चूंकि ये वायरस खतरनाक है, इसलिए सावधानी जरूरी है। आपको कम से कम कोरोना वायरस के प्रसार के पूरी तरह बंद हो जाने तक अंगूठी, ब्रेसलेट, चूड़ियां आदि नहीं पहनना चाहिए। ऐसा करना उन लोगों के लिए ज्यादा जरूरी है, जो पब्लिक प्लेसेज पर अभी भी जा रहे हैं या पब्लिक ट्रांसपोर्ट का प्रयोग कर रहे हैं।

Watch Video: कोरोना वायरस को रोकने के लिए क्या है हाथ धोने का सही तरीका, जानें एक्सपर्ट से

9 दिन तक एक्टिव रह सकता है कोरोना वायरस

हाल में कोरोना वायरस पर की गई एक रिसर्च में वैज्ञानिकों ने पाया कि कोरोना वायरस की संक्रामकता कई तरह के मैटीरियल्स पर कई दिनों तक एक्टिव रह सकती है। इस रिसर्च के अनुसार कोरोना वायरस

  • स्टील की सतह पर 48 घंटे (2 दिन)
  • एल्युमिनियम की सतह पर 2 से 8 घंटे
  • अन्य धातुओं पर लगभग 5 दिन
  • लकड़ी पर 4 दिन
  • पेपर पर 4-5 दिन
  • कांच पर 4-5 दिन
  • प्लास्टिक की सतह पर 5 से 9 दिन तक
  • सर्जिकल ग्लब्स पर 8 घंटे तक
  • डिस्पोजेबल गाउन पर 2 दिन
  • पीवीसी पर 5 दिन
  • सेरामिक और टेफलॉन पर 5 दिन तक एक्टिव रह सकता है।

अंगूठी, घड़ी आदि से क्यों है खतरा?

2018 में जॉर्जिया स्टेट यूनिवर्सिटी के द्वारा की गई एक रिसर्च में पाया गया कि हेल्थकेयर से जुड़े लोग जैसे- डॉक्टर और नर्स आदि जब हाथों में अंगूठी पहनकर काम करते थे, तो तमाम साफ-सफाई के बावजूद उनके अंगूठी के निचले हिस्से की त्वचा प बैक्टीरिया जमा पाए जाते थे। इस अध्ययन में ये भी पाया गया कि जिन लोगों ने अपने हाथों में अंगूठी या घड़ी नहीं पहनी थी, हाथ धोने के बाद उनके हाथ ज्यादा अच्छी तरह बैक्टीरियामुक्त होते थे।

क्या है हाथ धोने का सही तरीका?

कोरोना वायरस के प्रसार के लिए सही तरीके से हाथ धोना जरूरी है। अगर आप हाथ में साबुन लगाकर और तुरंत पानी से धोकर फुरसत पाते हैं, तो रुकें। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार कोरोना वायरस को पूरी तरह खत्म करने के लिए और हाथों को अच्छी तरह साफ करने के लिए कम से कम 20 सेकंड तक हाथों पर साबुन को लगाकर आपस में रगड़ना जरूरी है। इसलिए जब आप हाथों को धोएं तो इस बात का ध्यान रखें कि आपके हाथ कम से कम 20 सेकंड तक धुले हुए हों।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer