काले और घने बालों के लिए घर पर बनाएं आयुर्वेदिक हेयर ऑयल, जानें बनाने का तरीका और फायदे

अगर आप आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल लगाएंगे तो बाल घने और काले रहेंगे, जानें तेल को बनाने का तरीका और फायदे 

 
Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Sep 30, 2021
काले और घने बालों के लिए घर पर बनाएं आयुर्वेदिक हेयर ऑयल, जानें बनाने का तरीका और फायदे

आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल के क्‍या फायदे होते हैं? आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल को लगाने से हेयरफॉल रुक जाता है, बाल समय से पहले सफेद नहीं होते, स्‍कैल्‍प इंफेक्‍शन नहीं होता, बालों में चमक बरकरार रहती है आदि। दादी-नानी के समय से नैचुरल आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल चर्चा में है। घर पर आप आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल को आसानी से बना सकते हैं। ये नैचुरल होने के कारण कैम‍िकल फ्री होता है और आपके बालों को नुकसान नहीं पहुंचाता। आप इसे हल्‍का गुनगुना करके स‍िर पर मसाज करें तो बाल घने और मजबूत बनेंगे। आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल को आप कई द‍िनों तक स्‍टोर कर सकते हैं, अगर घर में धूप आती है तो इसे रोजाना धूप में रखें। इस लेख में हम आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल बनाने का तरीका और फायदों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

hair oil process

(image source:twimg.com)

आयुर्वेद‍िक तेल बनाने का तरीका (How to make Ayurvedic Hair Oil)

सामग्री: संतरे के छ‍िलके का पाउडर, आंवला पाउडर, श‍िकाकाई, रीठा, नीम के पत्‍ते, नार‍ियल का तेल।

व‍िध‍ि:

  • आपको आंवला पाउडर लेना है और उसमें गुनगुना पानी डालकर पेस्‍ट बनाएं। 
  • अब श‍िकाकाई, रीठा, संतरे के छ‍िलके के पाउडर को भी गुनगुने पानी में डालकर पेस्‍ट बना लें। 
  • दोनों म‍िश्रण को म‍िलाकर एक बाउल में न‍िकालकर रख दें। 
  • म‍िश्रण में नीम के साफ पत्‍तों को भी एड करें। 
  • अब कढ़ाई में नार‍ियल का तेल गरम करें और उसमें ये पेस्‍ट डालकर अच्‍छी तरह से चलाएं। 
  • अब पेस्‍ट को तेल में अच्‍छी तरह से मि‍क्‍स हो जानें दें जब तक तेल का रंग न बदल जाए। 
  • कढ़ाई को बंद करके तेल को ठंडा होने के ल‍िए रख दें। 
  • फ‍िर एक सूती कपड़ा लें और उसे खाली बाउल पर रख दें, साफ कपड़ा ही ब‍िछाएं। 
  • अब कढ़ाई का तेल सूती कपड़े पर डालें, इससे तेल छनकर बाउल में आ जाएगा। 
  • तेल तैयार है, आप इसे बालों पर इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- बुखार के दौरान होने वाली इन 5 समस्याओं को दूर करता है मुलेठी का काढ़ा, जानें प्रयोग का तरीका

आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल के फायदे (Benefits of Ayurvedic Hair Oil)

oil benefits

(image source:beautyhealthtips)

  • अगर आपके बाल समय से पहले झड़ने लगे हैं तो आपको नॉर्मल हेयर ऑयल की जगह आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल लगाना चाह‍िए, आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल में मौजूद इंग्रीड‍िएंट खास बालों के ल‍िए चुने गए हैं और ये नैचुरल हैं। 
  • बाल सफेद होने लगे हैं तो भी आप आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल को चुनना चाहि‍ए, इससे बाल सफेद होना बंद हो जाते हैं। 
  • बालों को चमकदार और मजबूत बनाने के ल‍िए आपको कैम‍िकल फ्री आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल चुनना चाह‍िए।
  • अगर आपके स्‍कैल्‍प में आए द‍िन इंफेक्‍शन रहता है तो आप आयुर्वेद‍िक हेयर ऑयल को चुनें, इससे आपके बाल हेल्‍दी रहेंगे।

इसे भी पढ़ें- अपच, डायरिया, बुखार जैसी इन 5 समस्याओं को दूर करता है तुलसी का चूर्ण, जानें घर पर बनाने का तरीका

हेयर ऑयल को स्‍टोर कैसे करें? (How to store hair oil)

ayurvedic hair oil

(image source:vaya.in)

इस हेयर ऑयल में कई ऐसे इंग्रीडि‍एंट मौजूद हैं जो कई द‍िनों तक खराब नहीं होते। आप तेल को और अच्‍छा बनाने के ल‍िए उसमें एलोवेरा पल्‍प और मेथी दाने का पेस्‍ट भी म‍िला सकते हैं। आपको इस तेल को एक साफ कंटेनर में स्‍टोर करना चाह‍िए। स्‍टोर करने के ल‍िए ऐसा कंटेनर चुनें जिसका ल‍िड एयरटाइट बंद हो जाए। इसके साथ ही आप तेल को रूम टैम्‍प्रेचर पर दो हफ्ते और फ्र‍िज में कम से कम एक महीने तक स्‍टोर कर सकते हैं। ये तेल आसानी से खराब नहीं होता पर इसमें प्र‍िजर्वेट‍िव मौजूद न होने के कारण आप इसे जल्‍दी से जल्‍दी बनाकर इस्‍तेमाल कर लें और उतनी की मात्रा में बनाएं ज‍ितना एक हफ्ते चल जाए।

अगर आपको इस तेल में मौजूद क‍िसी सामग्री से एलर्जी है तो आप उसे अपने मुताब‍िक घटा सकते हैं, अगर बाल या स्‍कैल्‍प से जुड़ी कोई समस्‍या है तो डॉक्‍टर से सलाह लेकर ही इसका इस्‍तेमाल करें।

(main image source:medimetry,karousell)

Read more on Ayurveda in Hindi 

Disclaimer