अंडर-आई जेल सीरम लगाने का सही तरीका और सही समय क्या है?

जितनी जरूरत हेल्थ केयर की है उतनी ही जरूरत आंखों की देखभाल की भी है। इसके लिए अंडर आई सीरम का प्रयोग किया जा सकता है जानिए कैसे। 

Monika Agarwal
Written by: Monika AgarwalUpdated at: Sep 27, 2022 10:50 IST
अंडर-आई जेल सीरम लगाने का सही तरीका और सही समय क्या है?

आंखें हमारे शरीर के लिए पूरा दिन काम करती हैं। इसलिए आंखों का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है। आंखों का ध्यान ना रखने पर आंखों के नीचे काले घेरे, सूजी हुई आंखें, हाइपरपिगमेंटेशन, आई बैग और आंखों की झुर्रियां जैसी गंभीर समस्या होने लगती है। आंखों के आसपास की स्किन बेहद नाजुक होती है। हम आंखों को रगड़ने और पलक झपकने के लिए हर समय आंखों के आसपास की मांसपेशियां का उपयोग करते हैं। इसलिए इस जगह पर हाइड्रेशन और नमी अच्छी तरह बनाए रखने के लिए अंडर-आई केयर रूटीन बहुत जरूरी होता है। ऐसे में अंडर-आई जैल सीरम आंखों के आसपास पर्याप्त हाइड्रेशन, नमी और रीजेनरेशन के साथ बदल सकता है। तो आइए जानते हैं कि आप डेली रूटीन में इस अंडर-आई जैल सीरम का उपयोग कैसे करें- 

क्यों जरूरी है अंडर-आई जैल

आंखों की आसपास की त्वचा नाजुक होती है इसलिए आपको आंखों के नीचे जैल सीरम के साथ और कई चीजें भी लगानी चाहिए। इसके लिए आपको क्लींजिंग से शुरुआत करनी चाहिए। इसके बाद आप जैल, सीरम, लोशन, क्रीम या मलहम भी लगा सकते हैं। यह ध्यान रखें कि चेहरे पर सबसे पहले आई प्रोडक्ट ही लगाने चाहिए। अपने अंडर-आई की सही देखभाल करने के लिए उठने के बाद और सोने से पहले आई प्रोडक्ट के साथ अन्य प्रोडक्ट यूज कर सकते हैं। 

under-eye-skincare-routine-in-hindi

इसे भी पढ़ें - स्किन से बढ़ती उम्र के लक्षण कम कर सकता है आक का फूल, ऐसे करें इस्तेमाल

आई जैल की विशेषता

आई जेल का प्रयोग करने से आंखों के नीचे स्किन की सूजन या पफीनेस कम हो सकती है। जेल का प्रयोग स्किन को स्मूथ करता है और एक रिफ्रेश फीलिंग दे सकता है। इसके प्रयोग से स्किन नर्म होती है। यही नहीं कंसीलर के प्रयोग के समय यह उसमें रिंकल्स की लाइंस बनने से भी रोकता है। इसका प्रयोग आई लाइनर या काजल के प्रयोग को नुकसान नहीं पहुंचाता।

मॉर्निंग में आई रूटीन

मॉर्निंग में आई रूटीन के लिए शुरुआत करें। आंखों के नीचे जैल सीरम लगाकर इसके सही रिजल्ट्स आपको मिलते हैं। यह समय स्किन केयर रूटीन के लिए सही समय है। सबसे पहले क्लींजर से शुरुआत करें। इसके बाद टोनर, सीरम, आई क्रीम स्पॉट ट्रीटमेंट, मॉइस्चराइज़र, फेस ऑयल और इसके बाद सनस्क्रीन लगा सकते हैं। अंडर-आई जैल सीरम से पहले और बाद के प्रोडक्ट यूज करने से आंखों के नीचे की स्किन को सुरक्षा मिलती है। 

नाइट में आई रूटीन

सोने से पहले का समय आई रूटीन के लिए बेहद खास माना जाता है। सोने से पहले आप अपनी आंखों और चेहरे को अच्छी तरह से धो लें और वापस से आई रुटीन को दोहराएं। इससे प्रोडक्ट आपकी स्किन में अवशोषित होंगे और जिससे आंखों के नीचे की स्किन स्वस्थ होगी। 

इसे भी पढ़ें - स्किन और बालों की कई समस्याएं दूर करेगा बेल की पत्ती और नारियल का तेल, ऐसे करें प्रयोग

अपनी आंखों की देखभाल करना बेहद जरूरी है क्योंकि आंखों के नीचे काले घेरे या डलनेस आपकी पर्सनैलिटी पर असर डालते हैं। स्वस्थ आंखें आपकी खूबसूरती को बढ़ाती हैं। आंखों की देखभाल करने के लिए आपको कठिनाई हो सकती है लेकिन यह आपके लिए जरूरी है। जिससे आपको पोषण और सही देखभाल की कमी को कवर करने के लिए मेकअप की जरूरत ना पड़े।

Disclaimer