बच्चों की मेमोरी पावर बढ़ा सकता है म्यूजिकल ट्रेनिंग, जानें क्या है बच्चों के मस्तिष्क से जुड़ा ये रोचक शोध

आप चाहते हैं कि आपके बच्चे अधिक बुद्धिमान और तेज हों, तो उन्हें म्यूजिकल ट्रेनिंग दें। जानें इसके फायदों को लेकर क्या कहता है ये शोध।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Oct 09, 2020Updated at: Oct 09, 2020
बच्चों की मेमोरी पावर बढ़ा सकता है म्यूजिकल ट्रेनिंग, जानें क्या है बच्चों के मस्तिष्क से जुड़ा ये रोचक शोध

बच्चों की पढ़ाई को लेकर अक्सर हम लोग परेशान होते हैं और उन्हें तमाम तरह की शिक्षा देने की कोशिश करते हैं। वहीं एक शोध की मानें, तो जिन बच्चों को म्यूजिक यानी कि संगीत की शिक्षा मिलती है उन बच्चों का दिमाग बहुत तेज होता है। जी हां, इस शोध की मानें तो संगीत आपके मस्तिष्क को बेहतर बनाता है। वहीं  इंस्ट्रूमेंट बजाना सीखना दिमाग की प्रतिक्रिया को तेज बनाने का काम करता है। दरअसल  पोंटिफिकल कैथोलिक विश्वविद्यालय में हुए अध्ययन के अनुसार, संगीत में प्रशिक्षित बच्चों का ध्यान नियंत्रण और दिमाग पर कंट्रोल बहुत अच्छा होता है। ऐसे बच्चे मानसिक रूप से काफी दुरुस्त और कामों को करने में काफी कंसंट्रेटेड होते हैं। वहीं इस शोध ने म्यूजिक और मस्तिष्क को लेकर (How music develops a child's brain)और भी कुछ रोचक खुलासे किए हैं। आइए जानते हैं उनके बारे में विस्तार से।

insidechildmusicskills

क्या कहता है शोध?

संगीत और मस्तिष्क को लेकर किए गए इस शोध में बताया है कि कैसे म्यूजिक दिमाग को लचीला और रचनात्मक बनाने का काम करता है। वहीं ऐसे बच्चों के मस्तिष्क क्षेत्रों में अधिक सक्रियता होती है, जिसके कारण वो बेहतर पाठन क्रिया वाले, उच्च लचीलापन, अधिक रचनात्मकता और जीवन की बेहतर गुणवत्ता वाले होते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि सबसे महत्वपूर्ण खोज यह है कि दो अलग-अलग तंत्र ध्यान और काम करने वाले मेमोरी (WM) कार्य में संगीत के प्रशिक्षित बच्चों के बेहतर प्रदर्शन को रेखांकित करते हैं। एक जो अधिक डोमेन वाले सामान्य ध्यान तंत्र का समर्थन करता है और दूसरा वह जो अधिक डोमेन वाले विशिष्ट श्रवण एन्कोडिंग तंत्र का समर्थन करता है।

इसे भी पढ़ें : बच्चों में क्यों होता है हार्मोन असंतुलन? जानें बच्चों में कैसे लगाएं इस स्थिति का पता और क्या है इसका इलाज

म्यूजिक और बच्चों का मस्तिष्क

संगीत की शिक्षा औसत बच्चे को भी एक बेहतर श्रोता बनाती है। पर इसका सबसे बड़ा फायदा ये है कि हर हफ्ते कुछ घंटों तक म्यूजिक सीखने से बच्चों में भाषा कौशल, गणित की क्षमता और स्मृति तेज हो जाती है। वास्तव में, एक बेहतर स्मृति बचपन की संगीत शिक्षा के प्रमुख लाभों में से एक है। ऐसा इसलिए क्योंकि स्मृति हर मानसिक उपकरण के मूल में है।विशेषज्ञों का कहना है कि संगीत की शिक्षा मस्तिष्क के काम (Music training strengthens kids brains) करने के तरीके और इसके आसपास की दुनिया को समझने के कई तरीकों को बदल देती है। सूचना प्राप्त करने,  उसे समझने और याद करने की क्षमता सभी को म्यूजिक तेज बना सकता है। वहीं सात साल से छोटे बच्चों को संगीत की शिक्षा देने आगे चल कर उन्हें कई फायदे पहुंचाता है। जैसे कि

insidebrainandmusic

इसे भी पढ़ें : मैथ पढ़ने और टेबल्स याद रखने में फिस्ड्डी है आपका बच्चा? दिमाग तेज करने के लिए पिलाएं ये 3 ब्रेन बूस्टिंग

वहीं हेलसिंकी विश्वविद्यालय के एक अध्ययन के अनुसार, जिन बच्चों को शुरू से ही संगीत की शिक्षा मिली होती है उन बच्चों का दिमाग  बहुत तेज गतिविधियों वाला होता है। फ्रंटियर्स इन न्यूरोसाइंस के एक अन्य अध्ययन में कहा गया है कि संगीत बच्चों की संज्ञानात्मक क्षमताओं को बढ़ाता है, जिसमें भाषाआधारित तर्क, अल्पकालिक स्मृति, योजना बनाना और बेहतर शैक्षणिक प्रदर्शन आदि शामिल है। इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए अपने बच्चों को बचपन से कोई एक वाद्य बजाना, गाना या सिर्फ संगीत सुनने के लिए प्रोत्साहित करें। ये तमाम काम उनके मस्तिष्क को उत्तेजित करता है, जो नए तंत्रिका कनेक्शन को भी बढ़ावा देता है। वहीं म्यूजिकल बीट्स को सुनने से आपके बच्चे को बेहतर मैथ्स स्किल भी मिल सकती है क्योंकि यह याददाश्त, ध्यान और एकाग्रता में सुधार करता है।

Read more articles on Health-News in Hindi

Disclaimer