कोविड से रिकवरी के बाद थकान, दर्द और तनाव दूर करने का देसी इलाज जानें एक्ट्रेस भाग्यश्री से

एक्‍ट्रेस भाग्‍यश्री ने हाल ही में कोव‍िड फटीग को दूर करने के ल‍िए नार‍ियल और नीलगिरी तेल का घरेलू नुस्‍खा फैंस के साथ शेयर क‍िया है

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 24, 2021
कोविड से रिकवरी के बाद थकान, दर्द और तनाव दूर करने का देसी इलाज जानें एक्ट्रेस भाग्यश्री से

नीलगिरी और कोकोनट तेल के इस्‍तेमाल से आप कोविड फटीग के दौरान होने वाले दर्द, तनाव जैसी समस्‍याओं से राहत पा सकते हैं। नीलग‍िरी और कोकोनट ऑयल में एंटी-बैक्‍टीर‍ियल गुण भी होते हैं तो इससे बॉडी में फंगल इंफेक्‍शन होने का डर भी नहीं रहता। ये देसी नुस्‍खा कई आयुर्वेद‍िक डॉक्‍टर तो बताते ही हैं इसके अलावा एक्‍ट्रेस भाग्‍यश्री ने भी अपने फैन्‍स के साथ हाल ही में कोविड फटीग से बचने के ल‍िए ये देसी इलाज शेयर क‍िया है। एक्‍ट्रेस ने अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट के जर‍िए अपने फैंस से नीलग‍िरी और नार‍ियल तेल के इस्‍तेमाल का तरीका साझा करते हुए बताया है क‍ि ये देसी तरीका आप घर पर आसानी से इस्‍तेमाल करके खुद को तनाव मुक्‍त रख सकते हैं।

actress bhagayashree

एक्‍ट्रेस भाग्‍यश्री ने अपने सोशल पोस्‍ट के जर‍िए कोरोना काल में लोगों को पॉज‍िट‍िव सोचने के ल‍िए प्रेरित क‍िया और उससे खुद को सेफ रखने के कई उपाय साझा क‍िए। भाग्‍यश्री इन द‍िनों अपने सोशल अकांउट के जर‍िए लोगों के बीच फ‍िटनेस का महत्‍व समझाती नजर आती हैं। भाग्‍यश्री खुद भी योग, कसरत और हेल्‍दी डाइट की मुरीद हैं। भाग्‍यश्री ने अपने सोशल अकाउंट पर ल‍िखा है क‍ि जब आप कोरोना संक्रमण के दौरान आइसोलेशन में होते हैं तो थकान और दर्द सहना मुश्‍क‍िल हो सकता है, कोविड से जुड़ी तमाम परेशान‍ियों से बचने के ल‍िए स्‍ट्रेस कम करें। 

एक्‍ट्रेस भाग्‍यश्री ने बताया कोव‍िड फटीग का देसी इलाज (Actress Bhagyashree shares remedy for covid fatigue) 

एक्‍ट्रेस भाग्‍यश्री ने बताया क‍ि आप कोविड फटीग को दूर करने के ल‍िए नीलग‍िरी और नार‍ियल के तेल का इस्‍तेमाल करें। नीलग‍िरी के तेल के इस्‍तेमाल से लंग्‍स में मौजूद पैसेजवेज (फेफड़ों का मार्ग) साफ होंगे और आपको सांस लेने में आसानी होगी। इस तरीके के इस्‍तेमाल से आपको गले और नाक में हो रही समस्‍या से राहत म‍िलेगी। एक्‍ट्रेस ने अपने फैन्‍स को संकट की घड़ी में हौसला बनाए रखने की बात कही है, साथ ही उन्‍होंने बताया है क‍ि इस महामारी से बचने के ल‍िए खुद को फ‍िट रखें और हेल्‍दी डाइट की मदद लें।

इसे भी पढ़ें- कोव‍िड से रिकवरी के बाद थकान और कमजोरी कैसे दूर करें? जानें डायटीश‍ियन स्‍वात‍ि बाथवाल से 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Bhagyashree (@bhagyashree.online)

घर पर बनाएं नारि‍यल और नीलग‍िरी तेल का म‍िश्रण (Coconut and Eucalyptus oil)

कोविउ फटीग से बचने के ल‍िए आप नार‍ियल का तेल और नीलग‍िरी के तेल को म‍िक्‍स करके हाथ-पैर में सुबह और रात माल‍िश करें। इससे दर्द भी कम होगा। तेल की करीब 10 से 15 बूंदों को आप 1: 6 के अनुपात में म‍िलाएं। 

इसे भी पढ़ें- कोरोना से ठीक होने के बाद कमजोरी और थकान से हैं परेशान तो पिएं ये 9 ड्रिंक्स, Swati Bathwal से जानें फायदे

नारि‍यल और नीलग‍िरी तेल के फायदे (Benefits of coconut and eucalyptus oil)

  • 1. नार‍ियल का तेल हम सभी के घरों में आसानी से म‍िल जाता है। नार‍ियल के तेल के इस्‍तेमाल से बॉडी में फंगल इंफेक्‍शन या एलर्जी की समस्‍या दूर होती है।
  • 2. आप स्‍क‍िन से जुड़ी समस्‍याओं को दूर करने के ल‍िए नार‍ियल तेल को कई तरीकों से इस्‍तेमाल कर सकते हैं। नार‍ियल तेल, स्‍क‍िन और बॉडी दोनों के ल‍िए फायदेमंद है।
  • 3. बात करें नीलग‍िरी की तो नीलग‍िरी के तेल के इस्‍तेमाल से इंफेक्‍शन दूर होता है, नीलगि‍री में एंटी-बैक्‍टीर‍ियल गुण होते हैं
  • 4. अगर आपती बॉडी में कहीं दर्द या जलन हैं तो भी आप नीलगिरी का तेल इस्‍तेमाल कर सकते हैं।
  • 5. ज‍िन लोगों को मांसपेश‍ियों में दर्द होता है उनके ल‍िए नीलग‍िरी का तेल रामबाण इलाज है। 

महामारी से बचने के ल‍िए हेल्‍दी डाइट और कसरत की मदद लें, अगर आपको क‍िसी चीज से एलर्जी है तो देसी नुस्‍खा अपनाने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह जरूर लें। 

Read more on Home Remedies in Hindi 

Disclaimer