गर्मी में बच्चों की स्किन में होने वाली आम समस्याएं और उनके लिए घरेलू नुस्खे

गर्मियों में बच्‍चों को स्‍क‍िन से जुड़ी समस्‍याएं होती हैं और धीरे-धीरे इंफेक्‍शन का रूप ले लेती हैं इसल‍िए इससे बच्‍चे को बचाने के उपाय जान लें 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 18, 2021Updated at: May 18, 2021
गर्मी में बच्चों की स्किन में होने वाली आम समस्याएं और उनके लिए घरेलू नुस्खे

क्‍या आपके बच्‍चे को भी गर्मी के द‍िनों में स्‍क‍िन से जुड़ी समस्‍याएं होने लगती हैं? इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे बच्‍चे के कपड़े या वो जिस जगह है वहां मॉइश्‍चर का ज्‍यादा होना, गंदगी, प्रोडक्‍ट्स का र‍िएक्‍शन आद‍ि। इन लापरवाही के चलते बच्‍चे को फंगल इंफेक्‍शन, दाने, घमौरी, खुजली और स्‍क‍िन से जुड़ी अन्‍य समस्‍याएं होने लगती हैं। इससे बचने के ल‍िए बच्‍चे को हमेशा सूखा रखें। गर्मी के द‍िनों में च‍िपच‍िपाहट होती है इसल‍िए बच्‍चे के कपड़ों को कम से कम दो बार बदलें। अगर आपको लग रहा है क‍ि हर मौसम में बच्‍चे की स्‍क‍िन की समस्‍या एक जैसी रहती हैं तो ध्‍यान दें क‍ि आप उसकी स्‍क‍िन पर कैसे स्‍क‍िन प्रोडक्‍ट्स इस्‍तेमाल कर रहे हैं। वहीं कुछ आसान घरेलू नुस्‍खे हैं जि‍नकी मदद से आप बच्‍चों में होने वाली स्‍क‍िन समस्‍याओं को दूर कर सकते हैं। ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमनेओम स्किन क्लीनिक, लखनऊ के वरिष्ठ कंसलटेंट डर्मेटोलॉज‍िस्‍ट डॉ देवेश मिश्रा (Dr. Devesh Mishra) से बात की।

 fungal infection in kids

1. फंगल इंफेक्‍शन (Fungal infection in kids during summers)

गंदगी के कारण गर्मी के द‍िनों में बच्‍चों को फंगल इंफेक्‍शन हो जाता है, ये इंफेक्‍शन प्राइवेट पार्ट या स्‍क‍िन के क‍िसी भी ऐसे ह‍िस्‍से में होने की आशंका ज्‍यादा होती है जहां पसीना आता है जैसे अंडरआर्म्स। फंगल इंफेक्‍शन के चलते स्‍क‍िन पर लाल न‍िशान हो सकते हैं। फंगल इंफेक्‍शन से बचने के ल‍िए बच्‍चे को हमेशा साफ कपड़ पहनाएं, गर्मी के मौसम में कपड़े कम से कम दो बार बदलें। ज‍िस ड‍िटर्जेंट से आप बच्‍चे के कपड़े साफ करें वो माइल्‍ड होना चाह‍िए। 

घरेलू  नुस्‍खा (Home remedy for fungal infection)

  • बच्‍चे को फंगल इंफेक्‍शन होने पर प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से में नार‍ियल तेल, हल्‍दी, एलोवेरा, एप्‍पल साइडर व‍िनेगर या दही लगा सकते हैं। 
  • फंगल इंफेक्‍शन होने पर नीम की पत्‍त‍ियों का इस्‍तेमाल करें। नीम की पत्‍त‍ियों को पानी में उबालकर उस पानी से प्रभाव‍ित हिस्‍से को साफ कर लें, कुछ समय में फंगल इंफेक्‍शन दूर हो जाएगा। 

2. व्‍हाइट बंप्‍स (White Bumps problem in kids)

व्‍हाइट बंप्‍स को मील‍िया भी कहा जाता है। या इसे व्‍हाइट स्‍पॉट्स भी कहते हैं। ये बच्‍चों की नाक, गाल या ठुड्डी के ह‍िस्‍से पर सफेद दाग बन आता है। प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से की त्‍वचा दाग जैसी नजर आती है। जैसे-जैसे ग्‍लैंड्स खुलते हैं दाग अपने आप चले जाते हैं, हालांक‍ि अगर ज्‍यादा बड़े ह‍िस्‍से में दाग हो तो डॉक्‍टर को द‍िखाएं। 

घरेलू नुस्‍खा (Home remedy for white bumps)

इसे भी पढ़ें- बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कैसे खिलाएं ड्राई फ्रूट्स और नट्स?

3. ड्राय स्‍क‍िन और खुजली (Dry skin and itching in summers)

eczema in kids

अगर आपके घर में क‍िसी को एक्‍ज‍िमा है या स्‍क‍िन इंफेक्‍शन है तो बच्‍चे को गर्मी के मौसम में खुजली की समस्‍या हो सकती है। खुजली के कारण चेहरे पर रैशेज होने लगते हैं। इसके अलावा कोहनी, बांह और चेस्‍ट पर भी रैशेज हो सकते हैं जो पपड़ी की तरह उभर आते हैं। डॉ देवेश ने बताया क‍ि इस समस्‍या से बचने के ल‍िए बच्‍चे के कपड़े धोते समय आप पानी में ड‍िस्‍इंफेक्‍टेंट म‍िलाएं और कपड़ों को रोज धूप द‍िखाएं। कुछ बच्‍चों को गर्मी के द‍िनों में ड्राय स्‍क‍िन की समस्‍या भी होती है इससे बचने के ल‍िए डॉक्‍टर आपको क्रीम बता सकते हैं। 

घरेलू नुस्‍खा (Home remedy for dry skin and itching)

  • ड्राय स्‍क‍िन से बचने के ल‍िए बच्‍चे की स्क‍िन पर रोज तेल से माल‍िश करें। माल‍िश से बच्‍चों की त्‍वचा हेल्‍दी रहती है और इससे उन्‍हें नींद भी अच्‍छी आती है। 
  • गर्मी के द‍िनों में खुजली की समस्‍या से बच्‍चे को बचाने के ल‍िए ऐसी क्रीम लगाएं ज‍िसमें मेंथॉल, कैलेम्‍लाइन या एलोवेरा हो। 

इसे भी पढ़ें- बच्चों में वयस्कों से अलग हो सकते हैं कोरोना के लक्षण, जानें किन लक्षणों को नहीं करना चाहिए नजरअंदाज

4. घमौर‍ियां (Heat Rash problem in kids during summers)

गर्मी के मौसम में ज्‍यादा पसीना न‍िकलने से बच्‍चों को भी घमौर‍ियां हो जाती हैं। घमौर‍ियों के कारण बच्‍चों के शरीर पर गुलाबी या लाल दानें न‍िकल आते हैं। इससे बचने के ल‍िए बच्‍चे को कॉटन के कपड़े पहनाएं। बच्‍चे को हमेशा सूखा ही रखें। घमौर‍ियों से बचाने के ल‍िए बच्‍चे को ज्‍यादा पाउडर न लगाएं, इससे पाउडर के कण श्‍वास नली में जा सकते हैं। इसके साथ ही ये ध्‍यान रखें क‍ि आप बच्‍चे के ल‍िए जो भी स्‍क‍िन केयर प्रोडक्‍ट लें वो खुशबूदार न हो और न ही उसमें कैम‍िकल्‍स हों। 

घरेलू नुस्‍खा (Home remedy for heat rash)

  • बच्‍चे को घमौर‍ियां होने पर प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से में रूमाल में बर्फ रखकर सेक करें।
  • घमौरी होने पर आप बच्‍चे को खीरे का पेस्‍ट भी लगा सकते हैं, इसके ल‍िए खीरे को फ्र‍िश में रख दें, ठंडा होने के बाद उसका पेस्‍ट बना लें और प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से में लगाएं, इससे फर्क पड़ेगा। 
  • घमौरियां होने पर ओटमील का पेस्‍ट, चंदन और बेकिंग सोडा को म‍िलाकर पेस्‍ट बना लें और उसे प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से में लगाकर 15 म‍िनट बाद साफ कर लें। 

5. बेबी एक्‍ने (Baby acne problem in kids during summers)

छोटे बच्‍चों को भी एक्‍ने की समस्‍या होती है ज‍िसे हम बेबी एक्‍ने कहते हैं। कई पैरेंट्स अपने बच्‍चों को सुबह के समय गरम पानी से नहलाते हैं ज‍िस कारण एक्‍ने न‍िकल आते हैं, इस बात का ध्‍यान रखें क‍ि ज्‍यादा गरम पानी से बच्‍चे को न नहलाएं, क्‍यों बच्‍चों की स्‍क‍िन बहुत संवेदनशील होती है, उनके चेहरे पर छोटे-छोटे प‍िंपल जैसे दाने भी उभर आते हैं। ऐसा होने पर बच्‍चे का चेहरा न रगड़ें उसे माइल्‍ड लोशन लगाएं। माइल्‍ड सोप से उसका चेहरा साफ करें और साफ कपड़े से पोंछ दें। 

घरेलू नुस्‍खे (Home remedy for baby acne)

  • शहद और नींबू का पेस्‍ट बनाकर प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से पर लगाएं और 15 म‍िनट बाद साफ पानी से बच्‍चे का चेहरा धो दें। 
  • कॉर्नस्‍टॉर्च को पानी के साथ म‍िलाकर एक्‍ने पर लगाएं, कुछ द‍िनों में बच्‍चे के चेहरे से एक्‍ने पूरी तरह ठीक हो जाएंगे। 

ऊपर बताई क‍िसी भी तरह की स्‍क‍िन प्रॉब्‍लम अगर आपको अपने बच्‍चे में नजर आती है तो देरी न करें, उसे डॉक्‍टर के पास ले जाएं। डॉक्‍टर एंटीबॉयोट‍िक्‍स या एंटी-एलर्जी दवाओं के जर‍िए स्‍क‍िन प्रॉब्‍लम दूर सकते हैं। 

Read more on Children Health in Hindi 

Disclaimer