रोजाना सिर्फ 10 मिनट करें ये काम, कभी नहीं आएगा हार्टअटैक

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 11, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • आजकल हार्टअटैक एक आम समस्या बनती जा रही है।
  • मोटे दिखने वाले लोग भी स्वस्थ रह सकते हैं।
  • एक्सरसाइज से मोटे लोगों में हार्टअटैक का खतरा कम होता है।

बिगड़ते लाइफस्टाइल के चलते आजकल हार्टअटैक लोगों में एक आम समस्या बनती जा रही है। सिर्फ बुजुर्ग ही नहीं बल्कि आजकल युवा भी दिल की बीमारी के शिकार हो रहे हैं। हार्ट अटैक आने के वैसे कई कारण होते हैं। लेकिन तनाव, चिंता और किसी एक चीज के बारे में बहुत ज्यादा सोचना हार्ट अटैक के मुख्य लक्षण हैं। आज हम आपको इस बीमारी से बचने का एक  अचूक उपाय बता रहे हैं। हाल ही में हॉलैंड में हुए एक शोध में कहा गया है कि मोटापा हमेशा बुरा ही नहीं होता। मोटे दिखने वाले लोग भी स्वस्थ रह सकते हैं, बशर्ते वे नियमित व्यायाम करें। एक्सरसाइज से मोटे लोगों में हार्टअटैक का खतरा बेहद कम हो जाता है।

इस शोध में पाया गया है कि मिडिल एज में व्यायाम का नियम बनाने वालों के लिए मोटापा परेशानी का सबब नहीं रह जाता है। शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि ऐसा जरूरी नहीं है कि मोटापे का संबंध हमेशा बीमारी से ही हो। विशेषज्ञों का कहना है कि शारीरिक बनावट से इतर नियमित व्यायाम करने से दिल का दौरा पडऩे या आघात का खतरा नहीं के बराबर रह जाता है। शोधकर्ताओं ने इस नतीजे पर पहुंचने के लिए 5300 लोगों के आंकडों का आकलन किया।

इसे भी पढ़ें : लिवर की हर समस्या से छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू नुस्खे

इन सभी की उम्र 55 वर्ष या उससे अधिक थी। इन्हें 15 वर्र्षों तक डॉक्टर्स की निगरानी में रखा गया। विशेषज्ञों ने देखा कि जो लोग अत्यधिक मोटे और सुस्त थे, उनमें दिल संबंधी बीमारियों का खतरा मोटे मगर सक्रिय लोगों के मुकाबले तीन गुना तक अधिक था। यानी शारीरिक सक्रियता और व्यायाम भले ही किसी को मोटापे से न बचाएं लेकिन हार्ट अटैक जैसे खतरे से अवश्य बचा सकते हैं।

डॉक्टर की राय है कि अच्छा भोजन और एक्सरसाइज हेल्दी लाइफ के लिए बेहद जरूरी है। ऐसा करने से आप फिट रहते हैं और जब फिट रहेंगे तो आपको किसी तरह की बीमारी की आशंका भी न के बराबर रहेगी। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने शरीर की जरूरतों और मांग को समझें। ध्यान रखना जरूरी है कि हर तरह की एक्सरसाइज सबके लिए नहीं होती। जरूरी है कि आप किसी विशेषज्ञ से ट्रेनिंग लें या सप्ताह में कम से कम पांच दिन अलग-अलग एक्सरसाइज करें ताकि शरीर का हर हिस्सा ऐक्टिव रह सके। कोई बीमारी हो तो पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Heart Attack

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES2809 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर