नारियल तेल और रतनजोत का मिश्रण है सेहत के लिए इन 5 तरीकों से उपयोगी, जानें इससे मिलने वाले फायदे

रतनजोत और नारियल तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल जैसे गुण होते हैं। इनके मिश्रण का इस्तेमाल त्वचा और बालों की सुंदरता में किया जाता है। 

सम्‍पादकीय विभाग
स्वस्थ आहारWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Dec 06, 2021Updated at: Dec 06, 2021
नारियल तेल और रतनजोत का मिश्रण है सेहत के लिए इन 5 तरीकों से उपयोगी, जानें इससे मिलने वाले फायदे

रतनजोत और नारियल तेल के कई फायदे हैं । रतनजोत को हम अल्कानेट के नाम से भी जानते है। रतनजोत की जड़ों, पत्तों और फलों के काफी उपयोग हैं। रतनजोत में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। साथ ही उसमें नेफ्थोक्विनोन, फ्लेवोनोइड्स, अल्केनिन और शिकोनिन जैसे रसायन भी पाए जाते हैं। नारियल तेल में भी कैल्शियम और मैग्नीशियम पाया जाता है। रतनजोत और नारियल तेल का उपयोग त्वचा, बालों के साथ-साथ जोड़ों के दर्द में भी काफी लाभदायक होता है। इसके अलावा इसके उपयोग से बुखार और खांसी को भी कम करने में मदद मिलती है। आइए जानते हैं इसके फायदे विस्तार से।

रतनजोत और नारियल तेल के फायदे (benefits of Ratanjot and coconut oil)

1. त्वचा के लिए फायदेमंद

त्वचा के लिए रतनजोत और नारियल तेल के फायदे हैं । नारियल तेल का इस्तेमाल त्वचा को हाइड्रेट और कोमल रखने के लिए किया जाता है। रतनजोत और नारियल तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो त्वचा के कील-मुहांसों को ठीक करने के लिए काफी उपयोगी होते हैं। इसके पत्तों को पीसकर नारियल तेल के साथ मिलाकर लगाने से कील-मुहांसे जल्दी ठीक हो सकते हैं।

2. अनिद्रा और तनाव में मददगार

अनिद्रा और तनाव में रतनजोत के जड़ के तेल का इस्तेमाल से डिप्रेशन, अनिद्रा और तनाव को कम करने में मदद मिलती है। रतनजोत के जड़ों के तेल के साथ नारियल तेल मिलाकर सोने से पहले उसकी सुगंध लेने से और सिर पर लगाने से आपको नींद अच्छी आएगी और तनाव की परेशानी भी ठीक हो सकती है। रतनजोत के जड़ का तेल बनाने के लिए नारियल या सरसों के तेल को धीमी आंच पर एक बर्तन में गर्म कर लें। जब तेल गर्म हो जाए तो, उसमें रतनजोत मिक्स कर लें। अब इसे 4-5 मिनट के लिए धीमी आंच पर अच्छे से पका लें। इसे पकाकर गैस को बंद कर दें और तेल को ठंडा होने के लिए छोड़ दें। 

इसे भी पढ़ें- दिमाग तेज करने और तनाव से छुटकारा दिलाने में मददगार हैं ये 5 जड़ी-बूटियां, जानें कैसे करें सेवन

3. बालों के लिए उपयोगी

रतनजोत और नारियल तेल दोनों ही बालों के लिए बहुत अच्छे होते हैं। रतनजोत बालों को प्राकृतिक रूप से चमक प्रदान करता है। साथ ही नारियल तेल आपके स्कैल्प के ब्लड सर्कुलेशन को सुधारने और दिमाग को तेज करने में भी मदद करता है। इन दोनों के मिश्रणों से आपके बाल जल्दी बड़े होते हैं और घने भी हो सकते हैं।

4. गाठिया रोगों में आराम

रतनजोत के पत्तों का उपयोग गाठिया के दर्द को भी ठीक करने के लिए किया जा सकता है। जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि रतनजोत के पत्तों में एंटी-बायोटिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो, जोड़ों के दर्द और सूजन में जल्द आराम दे सकता है। साथ ही नारियल तेल का मिश्रण त्वचा में जलन और रूखेपन से राहत पाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

ratanjot-coconut-benefits

Image Credit - Freepik

5. घाव भरने के लिए मददगार

रतनजोत का उपयोग घाव भरने के लिए भी किया जाता है। रतनजोत में एल्केनिन की उपस्थिति से घाव जल्दी ठीक हो सकता है और पत्तों के रस में नारियल तेल मिलाकर लगाने से घाव जल्दी भर सकता है।

इसे भी पढ़ें- दो मुंहे बालों के लिए तेल: डैमेज और दो-मुंहे बालों से छुटकारा पाने के लिए लगाएं ये 7 तरह के तेल

 नारियल तेल और रतनजोत के इस्तेमाल (Uses of Coconut oil and Ratanjot)

1. रतनजोत के पत्तों को पीसकर और उसमें नारियल तेल मिलाकर लगाने से त्वचा के कील-मुहांसों को ठीक किया जा सकता है।

2.  रतनजोत के पत्तों में आंवला पाउडर और नारियल तेल मिलाकर लगाने से बाल की ग्रोथ और साइनिंग बनी रहती है।

3. रतनजोत के पत्तों को पीसकर नारियल तेल में मिलाकर दर्द या घाव वाले स्थान पर लगा सकते हैं।

4. रतनजोत के जड़ों के तेल को नारियल तेल में मिलाकर जोड़ों में मिलाकर लगाने से सूजन और दर्द कम हो सकता है।

5. रतनजोत के पाउडर को पानी में मिलाकर पीने से फायदा मिलता है।

6. इसके अलावा आप रतनजोत और नारियल तेल मिलाकर सिर पर लगाने से अनिद्रा और तनाव में राहत मिलती है।

रतनजोत और नारियल तेल मिश्रण के नुकसान

इसके अलावा रतनजोत और नारियल तेल के इस्तेमाल से गर्भवती महिलाओं को बचना चाहिए क्योंकि इससे आपके शिशु को नुकसान हो सकता है। रतनजोत के अधिक सेवन से आपके लीवर को नुकसान हो सकता है। रतनजोत के फल और पत्तों का सीधे तौर पर इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। साथ ही हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को भी संतुलित मात्रा में रतनजोत का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा एलर्जी की समस्या में भी इसके सेवन से बचना चाहिए। इसके इस्तेमाल से पहले आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं। 

Disclaimer