Fact Check: प्रेग्‍नेंसी में केसर खाने से क्या सच में बच्‍चा गोरा पैदा होता है? जानें सच्चाई

Does Drinking Saffron Milk Make Babies Fair: गोरा बच्चा पैदा करने के लिए महिलाएं प्रेग्नेंसी में केसर खाती हैं, जानें क्या सच में यह फायदेमंद है?

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Aug 11, 2022Updated at: Aug 11, 2022
Fact Check: प्रेग्‍नेंसी में केसर खाने से क्या सच में बच्‍चा गोरा पैदा होता है? जानें सच्चाई

Does Drinking Saffron Milk Make Babies Fair: प्रेगेंसी का समय किसी भी महिला के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है। प्रेग्नेंसी के दौरान खानपान का सही ध्यान न रखने से कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। इस दौरान महिलाएं खुद को और गर्भ में पल रहे शिशु को हेल्दी रखने के लिए तमाम तरह के फूड्स का सेवन करती हैं। प्रेग्नेंसी को लेकर महिलाओं में कई तरह की भ्रामक बातें भी प्रचलित हैं। कुछ महिलाएं गर्भ में पल रहे बच्चे को गोरा पैदा करने के लिए भी तमाम तरह की चीजों का सेवन करती हैं। ज्यादातर महिलाएं गोरा बच्चा पैदा करने के लिए प्रेग्नेंसी के दौरान केसर का सेवन करती हैं या केसर वाले दूध का सेवन करती हैं। लेकिन क्या केसर वाला दूध पीने से सच में गोरा बच्चा पैदा होता है? ओनलीमायहेल्थ की स्पेशल Fact Check सीरीज 'धोखा या हकीकत' में आइए जानते हैं, क्या सच में केसर खाने या केसर वाला दूध पीने से गोरा बच्चा पैदा होता है? जानें इसको लेकर क्या कहते हैं एक्सपर्ट।

प्रेग्‍नेंसी में केसर खाने से क्या सच में बच्‍चा गोरा पैदा होता है?- Does Drinking Saffron Milk Make Babies Fair in Hindi

Does Drinking Saffron Milk Make Babies Fair

गोरा बच्चा पैदा करना लगभग हर महिला का सपना होता है। बहुत सी महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान तमाम ऐसी चीजों का सेवन करती हैं, जिनके बारे में यह कहा जाता है कि ऐसा करने से बच्चा गोरा पैदा होता है। स्टार हॉस्पिटल की स्त्री और प्रसूति रोग विशेषज्ञ डॉ विजय लक्ष्मी कहती हैं कि बच्चे का रंग गोरा होना या काला होना मेलेनिन के स्तर पर निर्भर करता है। शरीर में मेलेनिन (Melanin) का स्तर बहुत ज्यादा होने से डार्क स्किन होती है, वहीं स्किन में मेलेनिन की संतुलित मात्रा स्किन के रंग को गोरा करने में मदद करती है। बच्चा गोरा पैदा करने के लिए केसर खाना या केसर वाला दूध पीना फायदेमंद है, इस बात को लेकर कोई भी वैज्ञानिक सबूत मौजूद नहीं है। चूंकि केसर का सेवन करने से आपकी सेहत को कई फायदे मिलते हैं, इसलिए लोग ऐसा समझते हैं कि प्रेग्नेंसी में इसका सेवन करने से बच्चे का रंग भी गोरा होगा। 

प्रेग्नेंसी में केसर खा सकते हैं या नहीं?- Is It Safe to Eat Kesar During Pregnancy in Hindi

प्रेग्नेंसी में केसर खाने के कई फायदे होते हैं। केसर में मौजूद औषधीय गुण सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। प्रेगनेंसी के दौरान केसर खाने से महिलाओं का स्ट्रेस भी कम होता है और मूड स्विंग्स की समस्या में भी फायदा मिलता है। रोजाना संतुलित मात्रा में केसर खाने से गर्भवती महिलाओं को फायदा मिलता है। कई शोध और अध्ययन यह कहते हैं कि प्रेग्नेंसी में केसर खाने से गर्भपात का भी खतरा होता है। केसर खाने से डिलीवरी के दौरान होने वाले दर्द को कम करने में भी फायदा मिलता है। लेकिन प्रेग्नेंसी में बहुत ज्यादा केसर खाने से बचना चाहिए। प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में बहुत ज्यादा केसर खाने से कई परेशानियां हो सकती हैं। इसलिए बिना डॉक्टर की सलाह के प्रेग्नेंसी के दौरान केसर का सेवन नहीं करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: Fact Check: क्या खड़े होकर पानी पीने से वाकई घुटने खराब होते हैं? जानें इस दावे की सच्चाई

गोरा बच्चा पैदा करने के लिए किसी भी चीज का सेवन करने से पहले आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए। बच्चे की स्किन का रंग मेलेनिन और जीन पर निर्भर करता है। इसलिए आपको इन बातों पर भरोसा करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। कई बार कुछ चीजों का सेवन करने से आपको नुकसान भी हो सकता है। गर्भवस्था से जुड़े किसी भी भ्रामक बात की सच्चाई जानने के लिए आप हमें अपना सवाल कमेंट बॉक्स में लिखकर भेज सकते हैं।

(Image Courtesy: Freepik.com)

 
Disclaimer