Fact Checked

Fact Check: क्या सप्लीमेंट्स लेने से फर्टिलिटी कम होती है? जानें डाक्टर से

Fact Check: इंटरनेट पर यह कहा जाता है कि सप्लीमेंट्स का सेवन करने से फर्टिलिटी कमजोर होती है, जानें क्या सप्लीमेंट लेने से फर्टिलिटी कम होती है?

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Oct 06, 2022 19:56 IST
Fact Check: क्या सप्लीमेंट्स लेने से फर्टिलिटी कम होती है? जानें डाक्टर से

Do Supplements Affect Fertility: आज के दौर में बॉडी बिल्डिंग और एक्सरसाइज का क्रेज युवाओं में बहुत तेजी से बढ़ा है। तेजी से बॉडी-बिल्डिंग करने के लिए युवा तमाम तरह के सप्लीमेंट्स का सेवन भी करते हैं। ये सप्लीमेंट्स कई तरह के केमिकल आदि का इस्तेमाल कर बनाए जाते हैं। जल्दी से बॉडी बनाने के चक्कर में युवा गलत तरीके से इन सप्लीमेंट का सेवन करने लगते हैं। बहुत ज्यादा सप्लीमेंट्स का सेवन करने से शरीर पर कई तरह के नकारात्मक प्रभाव भी पड़ते हैं। इंटरनेट पर ऐसा कहा जाता है कि बॉडी-बिल्डिंग सप्लीमेंट का बहुत ज्यादा इस्तेमाल करने से आपकी फेतिलिटी पर असर पड़ता है। सेहत और खानपान से जुड़ी ऐसी बातों की सच्चाई बताने के लिए हम 'धोखा या हकीकत' नाम से एक सीरीज चला रहे हैं। इसके तहत हम आपको ऐसी ही बातों की सच्चाई डॉक्टर या एक्सपर्ट के जरिए देने की कोशिश कर रहे हैं। ओनलीमायहेल्थ की स्पेशल Fact Check सीरीज 'धोखा या हकीकत' में आइए जानते हैं, क्या सप्लीमेंट्स लेने से फर्टिलिटी प्रभावित होती है? 

क्या सप्लीमेंट लेने से फर्टिलिटी कम होती है?- Do Supplements Affect Fertility in Hindi

जिम जाने वाले युवाओं में सप्लीमेंट्स लेने का और तेजी से बॉडी बनाने का क्रेज है। अक्सर लोग जल्दबाजी में बॉडी-बिल्डिंग करने के लिए तमाम तरह के सप्लीमेंट्स का सेवन करने लगते हैं। जिम के लिए एनाबॉलिक स्टेरॉयड और अन्य कैफीन युक्त सप्लीमेंट्स का सेवन आपकी फर्टिलिटी पर नकारात्मक असर डाल सकता है। बाबू ईश्वर शरण सिंह हॉस्पिटल के सीनियर फिजिशियन डॉ समीर कहते हैं कि एनाबॉलिक स्टेरॉयड युक्त सप्लीमेंट्स का सेवन करने से आपके शुक्राणुओं की संख्या पर असर पड़ता है। बिना डॉक्टर या एक्सपर्ट की सलाह लिए खुद से बहुत ज्यादा एनाबॉलिक स्टेरॉयड युक्त सप्लीमेंट्स का सेवन करने से आपके शुक्राणुओं पर नकारात्मक असर पड़ सकता है।

Do Supplements Affect Fertility

इसे भी पढ़ें: Fact Check: क्‍या पीरियड्स में टैम्पोन यूज करने से वर्ज‍िन‍िटी खो जाती है? जानें डॉक्‍टर से

प्री-वर्कआउट सप्लीमेंट्स के प्रभाव

आमतौर पर युवा वर्कआउट करने से पहले प्री-वर्कआउट सप्लीमेंट्स का सेवन करते हैं। इसका सेवन ज्यादातर लोग शरीर को एनर्जी देने और एक्सरसाइज करने की क्षमता बढ़ाने के लिए करते हैं। कई शोध और अध्ययन इस बात की पुष्टि करते हैं कि बहुत ज्यादा प्री-वर्कआउट सप्लीमेंट का सेवन करना भी आपकी सेहत पर भारी पड़ सकता है। इसकी वजह से आपके शुक्राणुओं के भीतर डीएनए क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। प्री-वर्कआउट सप्लीमेंट्स में कैफीन की मात्रा होती है और इसका बहुत ज्यादा सेवन डबल स्ट्रैंड डीएनए ब्रेक का काम करता है।

इसके अलावा बहुत ज्यादा मात्रा में प्रोटीन शेक या पाउडर वाले प्रोटीन सप्लीमेंट का सेवन भी आपकी सेहत पर बुरा असर डालता है। इसकी वजह से न सिर्फ आपकी फर्टिलिटी गंभीर रूप से प्रभावित होती है बल्कि इसके कारण आपके शरीर पर कई दूसरे नकारात्मक प्रभाव भी पड़ते हैं। एक्सरसाइज या जिम में वर्कआउट करने वाले लोगों को बिना डॉक्टर या एक्सपर्ट की सलाह के सप्लीमेंट्स का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer