Doctor Verified

प्रेगनेंसी में आंख के इंफेक्‍शन से बचने के ल‍िए डॉक्‍टर से जानें बचाव के उपाय

प्रेगनेंसी में आंखों के संक्रमण से बचने के ल‍िए डॉक्‍टर के बताए कुछ आसान उपायों की मदद ले सकते हैं। जानें इनके बारे में। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Jan 14, 2023 16:00 IST
प्रेगनेंसी में आंख के इंफेक्‍शन से बचने के ल‍िए डॉक्‍टर से जानें बचाव के उपाय

प्रेगनेंसी में मह‍िलाओं को कई शारीर‍िक समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। इनमें से एक है आंख का संक्रमण। आई संक्रमण के कई कारण हो सकते हैं। हार्मोनल बदलाव के कारण या बढ़ते ब्‍लड सर्कुलेशन के कारण मह‍िलाएं आंख वाले संक्रमण की चपेट में आ जाती हैं। प्रेगनेंसी में बैक्‍टीर‍ियल या वायरल इंफेक्‍शन की चपेट में आने से कंजंक्‍ट‍िवाइट‍िस की बीमारी हो सकती है। इसके कारण आंख में दर्द, खुजली या जलन जैसे लक्षण नजर आते हैं। प्रेगनेंसी के दौरान मह‍िलाओं को वॉटर र‍िटेंशन के कारण आंख में सूजन आ जाती है। ज्‍यादा नमक के सेवन से भी आंखों में सूजन होती है। ये सूजन ज्‍यादा समय के ल‍िए रहे, तो च‍िंता का कारण बनती है। प्रेगनेंसी के दौरान आंखों की इन सभी समस्‍याओं से बचने के ल‍िए कुछ आसान उपायों की मदद ले सकते हैं। इन उपायों को बारे में आगे बात करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

eye infection pregnancy

1. ठंडे पानी से आंखों को धोती रहें 

आंखों को साफ करने के ल‍िए ठंडे पानी का इस्‍तेमाल करें। इससे आंखों में जमा कचरा न‍िकल जाएगा। द‍िन में 5 से 6 बार आंखों पर ठंडे पानी के छींटे डालें। आंख को साफ करने के ल‍िए क‍िसी अन्‍य व्‍यक्‍त‍ि का तौल‍िया या कपड़ा इस्‍तेमाल करने से बचें। आंख को साफ ट‍िशू की मदद से साफ कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी में आंख आने (Conjunctivitis) के होते हैं ये 7 कारण, जानें लक्षण और बचाव 

2. आंख को बार-बार छूने से बचें 

प्रेगनेंसी में आंख के संक्रमण से बचने के ल‍िए आंखों को बार-बार छूने से बचना चाह‍िए। कई मह‍िलाएं आंखों को बार-बार मलती हैं ज‍िससे संक्रमण बढ़ सकता है। इस आदत से बचें। प्रेगनेंसी के दौरान कई मह‍िलाओं की आंखें कमजोर हो जाती हैं और उन्‍हें अड़चन महसूस होती है। ऐसी स्‍थि‍त‍ि में डॉक्‍टर से संपर्क करें। खुद से क‍िसी दवा का सेवन न करें।   

3. कॉन्‍टेक्‍ट लेंस का प्रयोग प्रेगनेंसी में न करें 

प्रेगनेंसी के दौरान कॉन्‍टेक्‍ट लेंस के प्रयोग से बचना चाह‍िए। कॉन्‍टेक्‍ट लेंस अगर ठीक से साफ करके नहीं पहनेंगे, तो आंख में संक्रमण हो सकता है। अक्‍सर प्रेगनेंसी में कमजोर आंखों के चलते मह‍िलाएं कॉन्‍टेक्‍ट लेंस का प्रयोग कर लेती हैं। लेक‍िन इस गलती से बचना चाहए। बाहर जा रही हैं, तो सनग्‍लासेज का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। इससे आपकी आंखों को यूवी रेज से होने वाले नुकसान से बचाया जा सकता है।     

4. साफ-सफाई का ख्‍याल रखें 

प्रेगनेंसी में साफ-सफाई का खास ख्‍याल रखें। ज्‍यादातर मामलों में गंदे हाथ से आंखें संक्रम‍ि‍त होती हैं। प्रेगनेंसी में कुछ भी खाने के बाद या पहले हाथों को साफ करें। प्रेगनेंसी के दौरान हाथों में नेलपेंट न लगाएं। इसमें मौजूद केमि‍कल्‍स के कारण भी आंख में संक्रमण हो सकता है। नाखूनों में मैल न जमने दें और प्रेगनेंसी और ड‍िलीवरी के बाद नाखूनों को छोटा रखें।    

5. प्रेगनेंसी में आई मेकअप से बचें 

प्रेगनेंसी के दौरान आंख के संक्रमण से बचने के ल‍िए आई मेकअप से दूर रहें। आई मेकअप में कई ऐसे केम‍िकल्‍स म‍िले होते हैं जो हमारी आंख को नुकसान पहुंचाते हैं। प्रेगनेंसी में आई मेकअप के साथ-साथ मेकअप के अन्‍य उत्‍पादों के ज्‍यादा इस्‍तेमाल से भी बचना चाह‍िए। कई मह‍िलाएं मेकअप उतारने का सही तरीका इस्‍तेमाल नहीं करतीं और मेकअप त्‍वचा या आंख पर लगा रहता है। लंबे समय तक ये आदत संक्रमण का कारण बनती है।  

प्रेगनेंसी में आंख के इंफेक्‍शन को ठीक करने के ल‍िए डॉक्‍टर की मदद लें। डॉक्‍टर की सलाह के बगैर एंटीबायोट‍िक्‍स का इस्‍तेमाल न करें। 

Disclaimer