आपके सिंक में पड़े बर्तन कहीं घर में न फैला दे वायरस, अगली बार बर्तन धोते वक्त बरतें ये सावधानियां

आपके सिंक में मौजूद बर्तन आपके घर के कोने-कोने में बैक्टीरिया फैला सकते हैं। लेख में जानें बर्तनों को सही से धोने से तरीका। 

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Apr 15, 2020Updated at: Apr 15, 2020
आपके सिंक में पड़े बर्तन कहीं घर में न फैला दे वायरस, अगली बार बर्तन धोते वक्त बरतें ये सावधानियां

बहुत सी महिलााओं को ये आदत होती है कि वह अपने घर के बर्तनों को एक या दिन तक सिंक में रखकर मांझना पसंद करती हैं। कभी-कभार ये समय और लंबा भी हो सकता है। महिलाओं की इस आदत को हालांकि समझना मुश्किल है लेकिन पर्थ की एक स्वास्थ्य साइकोलॉजिस्ट इस विचारधार को बदलने के लिए एक मिशन पर है और ये पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि आखिर हम सिंक को गंदा क्यों छोड़ देते हैं। कर्टिन यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ साइकोलॉजी की सहायक प्रोफेसर बारबरा मुल्लान का कहना है कि उन्होंने रसोईघर में इस व्यवहार को जानने के लिए वर्षों तक अध्ययन किया है। 

sink

उनका कहना है कि मेरी पीएचडी इस बात पर थी कि क्यों लोग सेफ फूड हैंडलिंग की गतिविधियों में शामिल नहीं होते हैं। बर्तन न धोना घर के दूसरे कोने में कीटणाओं को फैलाने का एक आम जरिया है। सहायक प्रोफेसर मुल्लान का कहना है कि कुलमिलाकर अगर आप अपने घर में गंदे बर्तन छोड़ देते हैं तो आप संभावित रूप से घर के दूसरे सदस्यों और जानवरों के आस-पास बैक्टीरिया फैला सकते हैं। 

प्रोफेसर ने कहा कि बैक्टीरिया किसी भी सतह पर जिंदा रह सकता है और साफ सतह पर तो कम से कम चार दिन तक बैक्टीरिया रह सकता है।  उन्होंने कहा कि बर्तनों पर खाने के अवशेष जैसी अन्य चीजें हो सकती हैं, जिसके कारण बैक्टीरिया लंबे वक्त तक जिंदा रह सकता है। 

माइक्रोवेव स्पंज और बैक्टीरिया सूप 

सिंक में बर्तन छोड़ना हानिकारक हो सकता है लेकिन उसके आस-पास फैले बैक्टीरिया किसी व्यक्ति में गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं का शिकार होने की संभावनाओं को बढ़ा सकते हैं। सहायक प्रोफेसर मुल्लान का कहना है कि अधिकतर अध्ययनों में ये सामने आया है कि डिश वॉशर में साफ किए गए बर्तन सबसे ज्यादा साफ होते हैं। उनका कहना है कि डिशवॉशर में बर्तन छोड़ देना किसी समस्या से कम नहीं है क्योंकि ये गंदे होते हैं। इतना ही नहीं आप ये नहीं चाहेंगे कि कोई दूसरा व्यक्ति आए और बर्तनों को छुएं और उनपर लगे बैक्टीरिया को फैलाए।

इसे भी पढ़ेंः टेंशन भरे इस माहौल में लंबी और हेल्दी लाइफ के लिए फॉलो करें ये 6 टिप्स, जीवन में भर जाएंगी खुशियां ही खुशियां

cleansink

अगर आप हाथ से बर्तन धोते हैं आपको ये टिप्स फॉलो करने चाहिएः 

  • बर्तनों को गर्म पानी से धोएं। 
  • पानी उतना ही गर्म करें जितना आप सहन कर सकें। 
  • हो सके तो रबर के दस्ताने पहनें।
  • डिटर्जेंट या ऐसे स्क्रब और ब्रश का उपयोग करें ताकि आप वास्तव में ताकत के साथ गंदगी को साफ कर सकें।
  • बर्तनों को साफ करने के लिए एक साफ कपड़े का उपयोग करें, क्योंकि आपके रसोई घर में सामान्य रूप से कपड़ा ही सबसे गंदा चीज होती है।
  • बर्तन के कपड़े को साफ रखने का सबसे अच्छा तरीका है उन्हें नियमित रूप से बदलने के अलावा, उन्हें माइक्रोवेव करना।

इसे भी पढ़ेंः आपके इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाते हैं ये जरूरी 5 जरूरी पोषक तत्व, जानें स्त्रोत

सहायक प्रोफेसर मुल्लान का कहना है कि यह सुनने में थोड़ा अजीब सा लगता है, लेकिन अगर आप इसे धोते हैं तो इसमें कोई भोजन चिपका नहीं रहेगा और आप इसे एक मिनट के लिए माइक्रोवेव में रख दें। ऐसा करने के बाद आप आमतौर पर आप अपने डिशक्लॉथ का अनिश्चित काल तक उपयोग कर सकते हैं। उनका कहना है कि बर्तन को सिंक में भिगोने का समय भी "स्वच्छता के दृष्टिकोण से" अच्छा नहीं है।" अगर आप 60 डिग्री से नीचे के पानी के तापमान में बर्तन डाल रहे हैं तो यह बैक्टीरिया के लिए प्रजनन का सही स्थल बना देता है।

उन्होंने कहा कि अगर आप इतने तापमान वाले पानी में बर्तन छोड़ देते हैं तो ये एक बैक्टीरिया वाला सूप बन जाता है और फिर जब आप सिंक में हाथ डालते हैं तो ये आपके हाथ पर चिपक जाते हैं। और यदि आप अपने हाथों को ठीक से नहीं धोते हैं तो आप रसोई को दूषित करने जा रहे हैं।

इसका एकमात्र समाधान है कि बर्तनों को सिंक से बाहर रखने की कोशिश करें।

Read More Articles On Mind and Body in Hindi

Disclaimer