बच्‍चों का ऐसे रखें ख्‍याल, बीमारी दूर से ही भाग जाएगी!

बच्चों की इन बीमारियों से सबसे ज्यादा उनके माता-पिता परेशान होने लगते हैं। अगर आप चाहते हैं कि आपका बच्चा सर्दियों के दौरान स्वस्थ और हमेशा हंसता और खेलता रहे तो इस 10 टिप्‍स को जरूर फॉलो करें।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Oct 27, 2017
बच्‍चों का ऐसे रखें ख्‍याल, बीमारी दूर से ही भाग जाएगी!

सर्दियों का मौसम शुरू हो चुका है। ऐसे मौसम बड़ों से ज्‍यादा बच्‍चों को सबसे ज्‍यादा परेशानी होती है। क्‍योंकि वह अपनी बात को ठीक तरह से कह नहीं पाते हैं। सर्दी का मौसम शुरू होते ही बच्चों में नाक बहना, गले में खराश, जुकाम जैसी समस्याएं होने लगती हैं। बच्चों की इन बीमारियों से सबसे ज्यादा उनके माता-पिता परेशान होने लगते हैं। अगर आप चाहते हैं कि आपका बच्चा सर्दियों के दौरान स्वस्थ और हमेशा हंसता और खेलता रहे तो इस 10 टिप्‍स को जरूर फॉलो करें।

इसे भी पढ़ें: हाथ धोने से होते हैं ये 5 फायदे, बीमारियां होंगी छूमंतर

बच्‍चों का ऐसे रखें ख्‍याल

  • बच्चों को तलाभुना या फास्टफूड खिलाने के बजाए सुबह पौष्टिक नाश्ता दें। उन्हें फल, हरी सब्जियां और दालों से परिपूर्ण नाश्ता कराएं।
  • रात में बादाम को भिगो दें। सुबह बादाम घिसकर गुनगुने दूध में डालकर पिलाएं।
  • बच्चों को कमरे में बैठे रहने देने के बजाए धूप में निकलने को कहें। इससे उन्हें विटामिन डी मिलेगा, जो शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाता है।
  • ठंड के दौरान बच्चों को ठंडी चीजें देने से परहेज करें।
  • बच्चों को खाने से पहले और बाद में एंटी बैक्टीरियल साबुन से हाथ धुलाना न भूलें। इससे कीटाणु नहीं फैलेंगे।
  • घर पर कंप्यूटर पर खेलने देने के बजाए रोजाना बीस मिनट मैदान में खेलने के लिए प्रेरित करें। इससे उनका शारीरिक विकास अच्छा होगा।
  • बच्चों को ठंड में जरूरत से ज्यादा गर्म कपड़े न पहनाएं।
  • रोजाना साफ सुथरे स्वेटर पहनाएं। लगातार कई दिन तक एक ही स्वेटर पहनने से उसमें धूल और गंदगी जम जाती है। इससे कीटाणु उसमें जम जाते हैं और कीटाणुओं के कारण बीमारी फैलने की आशंका रहती है।
  • ठंड में रोज नहलाना संभव न हो तो गीले कपड़े से बच्चों का बदन पोंछे।
  • बच्चों को समय पर सोने की आदत डालें। सोने से पहले टीवी देखने देने के बजाए उन्हें कुछ पढ़ने के लिए प्रेरित करें।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Parenting

Disclaimer