प्रेग्नेंसी के दौरान पेट में कीड़े होने के 7 लक्षण, कारण और उपचार

गर्भावस्था के दौरान पेट में कीड़े होने की समस्या के कारण महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। जानते हैं कारण, लक्षण और बचाव

Garima Garg
Written by: Garima GargUpdated at: Jul 27, 2021 12:24 IST
प्रेग्नेंसी के दौरान पेट में कीड़े होने के 7 लक्षण, कारण और उपचार

गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलाओं के शरीर में कुछ बदलाव आते हैं और उन्हीं बदलाव के कारण महिलाओं को कुछ समस्याओं से भी गुजरना पड़ता है। कुछ समस्याओं के लक्षण पहले ही नजर आते हैं तो कुछ समस्याएं शरीर के अंदर घर बना लेत हैं। ऐसी समस्या है प्रेगनेंसी के दौरान पेट में कीड़े हो जाना। पेट में कीड़े यानी एंटरबियस वर्मिकुलरिस की समस्या हो जाना। बता दें कि पेट के कीड़े सफेद रंग के बेहद पतले और छोटे होते हैं। अब सवाल यह है कि क्या गर्भावस्था के दौरान पेट में कीड़े हो सकते हैं? जी हां, एनसीबीआई द्वारा किए गए शोध के मुताबिक कीड़े मौजूद हो सकते हैं। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि अगर प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को पेट में कीड़े हो जाएं तो क्या क्या लक्षण नजर आ सकते हैं। साथ इसके कारण और बचाव भी जानेंगे। पढ़ते हैं आगे...

प्रेगनेंसी के दौरान पेट में कीड़े होने के लक्षण

यदि किसी महिला को गर्भावस्था के दौरान पेट में कीड़े हो जाते हैं तो निम्न लक्षण नजर आ सकते हैं-

1 - महिलाओं को बेचैनी होना

2 - वेजाइना में जलन महसूस करना

3 - गुदा के आसपास जलन महसूस करना

4 - गुदा के आसपास की त्वचा का संक्रमित हो जाना

5 - गुदा के आसपास खुजली महसूस करना

6 - खुजली के कारण नींद ना आना

7 - नींद न पूरी होने के कारण चिड़चिड़ापन महसूस करना

नोट  -अगर पेट में कीड़ों की संख्या ज्यादा हो जाती है तो महिलाएं मैं लक्षण भूख की कमी और वेतन की कमी भी नजर आते हैं।

इसे भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी के दौरान क्यों आता है नाभि में बदलाव? जानें कारण, इससे होने वाली परेशानियां और बचाव के टिप्स

गर्भावस्था के दौरान पेट में कीड़े होने के कारण

अगर किसी सामान्य व्यक्ति के पेट में कीड़े हुए हैं या किसी गर्भावस्था के दौरान महिला को पेट में कीड़े हुए हैं तो दोनों के पीछे के कारण एक ही होते हैं और इसका कारण है साफ सफाई का पूर्ण ध्यान ना रख पाना। इससे अलग कुछ और भी कारण हैं जो निम्न प्रकार हैं-

1 - पेट में कीड़ों की समस्या एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में व्यक्ति में आसानी से हो सकती है। जैसे भोजन के माध्यम से या बिस्तर के माध्यम से आदि से।

2 - अगर किसी व्यक्ति के नाखून में इसके अंडे चिपक गए हैं और वह नाखून को मुंह में देता है तब भी व्यक्ति पेट में कीड़े की समस्या से ग्रस्त हो सकता है। बता दें कि रात में पिनबॉर्म के अंडे जमा होते हैं जो शरीर में तेज खुजली पैदा कर सकते हैं। ऐसे में जब व्यक्ति खुजाता है तो उसकी नाखूनों में वह अंडे चिपक जाते हैं और फिर एक स्थान से दूसरे स्थान पर आसानी से चले जा सकते हैं।

प्रेगनेंसी के दौरान पेट में कीड़े होने से इलाज

प्रेगनेंसी के दौरान अगर गुदा के आसपास व्यक्ति को ज्यादा खुजली लगता है तो ये आम लक्षणों में से एक होता है। ऐसे में कॉटन स्वैब जो एक प्रकार का उपकरण होता है यह गुदा के पास रखा जाता है और पेट में कीड़ों के अंडों का पता लगाया जाता है। इसके अलावा नेल सैंपल, यह भी एक प्रकार का माइक्रोस्कोप होता है जिसमें नाखून के नीचे के सैंपल लेकर अंडो के बारे में पता लगाया जाता है। बता दें कि जब महिलाओं को ज्यादा खुजली लगती है सुबह नाखून की मदद से उस स्थान को खुजाती हैं, जिसके कारण अंडों के कुछ अंश नाखून से चिपक जाते हैं, जिसके कारण डॉक्टर को उन अंश को प्राप्त कर इलाज में सहायक मिलती है। इसके अलावा टेप टेस्ट, इसमें ट्रांसपेरेंट टेक गुदा के आसपास तीन दिनों तक लगाई जाती है और जब उस टेप के अंदर अंडे चिपक जाते हैं तो माइक्रोस्कोप की मदद से उन्हें देखा जाता है।

इसे भी पढ़ें- बच्चेदानी में सूजन के पीछे हो सकते हैं ये 7 कारण, जानें लक्षण और उपाय

प्रेगनेंसी में पेट में कीड़े होने से बचाव

1 - नाखूनों को साफ रखें।

2 - नाखूनों को लंबे ना होने दें।

3 - अपने आसपास सफाई का ध्यान रखें।

4 - बेडशीट को धोते समय गर्म पानी का इस्तेमाल करें।

5 - हाथों को बार बार मुंह में ना लेकर जाएं।

6 - टूथपेस्ट का इस्तेमाल भी धोकर करें।

7 - प्रेगनेंसी के दौरान पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल कम करें।

8 - प्रेगनेंसी के दौरान रोज नहाएं।

9 - शौचालय जाने के बाद अपने हाथों को गर्म पानी और साबुन से धोएं।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी के दौरान क्यों होता है गर्दन में दर्द? जानें इसका कारण और बचाव के लिए टिप्स

प्रेगनेंसी के दौरान पेट में कीड़े होने के घरेलू उपाय

1 - नींबू का रस

नींबू के रस से पेट में कीड़े होने की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। ऐसे में आप आधे नींबू को एक गिलास पानी में निचोड़ कर पिएं। ऐसा करने से प्रेगनेंसी के दौरान हुई पेट में कीड़ों से राहत मिलेगी।

2 - लहसुन का प्रयोग

यदि महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान रोज सुबह उठकर 2 लहसुन की कलियों को अच्छे से चबाएं। ऐसा करने से भी पेट के कीड़ों से बचाव किया जा सकता है। गर्भवती महिलाएं लहसुन का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह पर भी कर सकती हैं।

3 - काला नमक और आंवले का सेवन

बता दें कि आंवले के जूस से भी पेट में कीड़े की समस्या को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप आंवले को मिक्सी में चलाएं और पानी मिलाकर अच्छे से पीस लें। अब पीसने के बाद मिश्रण को छाने और उसके बाद उसमें चुटकी भर काला नमक डालकर सेवन करें। ऐसा करने से प्रेगनेंसी के दौरान हुए पेट में कीड़ों से राहत मिलेगी।

बता दें कि ऊपर बताई गई चीजें आंवला, नींबू, लहसुन यह तीनों प्रेगनेंसी के दौरान ली जा सकती है। इनसे किसी भी प्रकार का नुकसान गर्भवती महिला को नहीं होता है।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि प्रेगनेंसी के दौरान पेट में कीड़े होने के कारण महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में सावधानी बरतनी जरूरी है। अगर ऊपर बताए गए लक्षण महिलाओं को नजर आते हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है। लेकिन महिलाएं कुछ घरेलू उपायों की मदद से भी अपनी समस्या को दूर कर सकती हैं। हम महिलाओं को सलाह देते हैं कि किसी भी चीज को अपनी डाइट में जोड़ने या घटाने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

 इस लेख में इस्तेमाल की जानें वाली फोटोज़ Freepik से ली गई हैं।

Read More Articles on women health in hindi

Disclaimer