पब्लिक टॉयलेट इस्तेमाल करने से पहले जान लें कुछ जरूरी बातें, वर्ना हो सकते हैं बीमारी या इंफेक्शन के शिकार

पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है, वर्ना आप कई तरह के इंफेक्शन का शिकार हो सकते हैं।

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Mar 12, 2021 09:00 IST
पब्लिक टॉयलेट इस्तेमाल करने से पहले जान लें कुछ जरूरी बातें, वर्ना हो सकते हैं बीमारी या इंफेक्शन के शिकार

हमारे देश में पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल ज्यादातर लोग करते हैं। मॉल, रेस्तरां, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन और लगभग सभी सार्वजनिक स्थानों पर पब्लिक टॉयलेट होता है और इसका इस्तेमाल भी किया जाता है। लेकिन क्या आपको पता है कि पब्लिक टॉयलेट के इस्तेमाल के समय अगर जरूरी सावधानी नहीं बरती गयी तो कई बीमारियों के चपेट में भी आ सकते हैं। सार्वजानिक शौचालय के दरवाजों के हैंडल से लेकर, टॉयलेट शीट और वाश बेसिन तक संक्रमण फैला सकते हैं। बाहर मॉल,रेलवे स्टेशन आदि पर सार्वजानिक शौचालयों का इस्तेमाल करना लोगों की मज़बूरी होती है, ऐसे में इसके इस्तेमाल से जुड़ी कुछ बातें है जिनका ध्यान नही रखा गया तो तमाम तरह की संक्रमण और कीटाणु जनित बीमारियों का ख़तरा बना रहेगा।

inside4_publictoilet

कोरोनाकाल में पब्लिक टॉयलेट के इस्तेमाल से जुड़ी जरूरी बातें (Precautions While Using Public Toilet in COVID-19 Era)

आमतौर पर पब्लिक टॉयलेट में साफ़ सफाई का ध्यान जरूर रखा जाता है लेकिन कई बार कुछ जगहों पर बहुत ज्यादा गंदे सार्वजानिक शौचालय देखने को मिलते हैं। मजबूरन इनका इस्तेमाल भी लोगों को करना पड़ता है, ऐसे में इनके इस्तेमाल से जुड़ी कुछ बातें जान लेना जरूरी है। खासकर कोरोना वायरस के समय में पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से पहले अधिक सतर्कता बरतनी चाहिए। ऐसी जगहों पर वायरस के संक्रमण का ख़तरा बढ़ जाता है। गंदे सिंक, दरवाजों के हैंडल, टॉयलेट शीट और पानी की टोटी से भी संक्रमित होने का ख़तरा है। इसलिए सार्वजानिक स्थानों पर शौचालयों का इस्तेमाल करते वक़्त इन बातों को ध्यान में रखना बेहद जरूरी है।

  • पब्लिक टॉयलेट में बिना मास्क पहने न जाएं।
  • हो सके तो कम समय शौचालय के भीतर रहे।
  • सार्वजनिक शौचालय का इस्तेमाल करते समय कम से कम चीजों को छुएं।
  • बाहर निकलकर अपने हाथों को सही तरीके से धुलें।
  • साबुन न होने पर सैनिटाइजर का इस्तेमाल जरूर करें।
  • शौचालय में लोगों के बीच उचित दूरी बनाए रखें।
  • अधिक भीड़भाड़ वाले सार्वजानिक शौचालयों का उपयोग करने से बचें।

inside2_publictoilet

सामान्यतः लोग पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करते वक़्त जरूरी सावधानी नही बरतते हैं जिसकी वजह से उन्हें कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है ऐसे में सार्वजानिक शौचालयों का इस्तेमाल करते वक़्त इन बातों को ध्यान में रखना बेहद जरूरी है।

1. पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करते वक़्त अपने सामान का रहें ध्यान (Take Care of Your Personal Belongings)

सार्वजानिक शौचालयों में संक्रमण और कीटाणुओं का ज्यादा ख़तरा साथ ले गए सामानों से होता है। हाथ और शरीर को शौचालय का इस्तेमाल करने बाद लोग साफ़ करते हैं लेकिन ये कीटाणु बैग आदि सामान के जरिए आपके घर तक भी पहुंच सकते हैं। ऐसे में अपने ले गए सामानों को जमीन पर रखने से बचें और कोशिश करें कि सामानों को किसी सुरक्षित जगह ही रखा जाए। ज्यादातर सार्वजनिक शौचालयों में दरवाजों के पीछे हुक इत्यादि की व्यवस्था होती है जिसका इस्तेमाल छोटे बैग, जैकेट इत्यादि को रखने के लिए किया जा सकता है।

2. हाथों की सफाई है जरूरी (Wash Your Hands Properly)

पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने के बाद अपने हाथों को अच्छी तरह से साफ़ जरूर कर लें। हाथों से कीटाणुओं को दूर करने के लिए अच्छे साबुन से हाथों को अच्छी तरीके से धोएं। खासकर कोरोना वायरस के समय इन बातों का पालन जरूर करें। किसी भी प्रकार का संक्रमण हमारे हाथों के जरिए ही सबसे ज्यादा फैलता है ऐसे में हाथों के साथ-साथ नाख़ून और उँगलियों के बीच की जगह अच्छी तरीके से सफाई बेहद जरूरी है।

3. फ्लश का इस्तेमाल करते समय इन बातों का रखें ध्यान (How to use public toilet Flush)

सार्वजानिक शौचालयों में फ्लश का इस्तेमाल करते समय सावधानी रखना बेहद जरूरी है। सैकड़ों लोग रोजाना फ्लश को अपने हाथों से दबाते हैं ऐसे में एक दूसरे से सक्रमण के फैलने का ख़तरा ज्यादा हो जाता है। इस बात का हमेशा ध्यान रखें की फ्लश का इस्तेमाल करने के बाद हाथ शरीर के किसी अन्य अंगों को न छुएं। अगर हो सके तो फ्लश का इस्तेमाल करते समय टिश्यू पेपर की सहायता लें। संक्रमण से बचने के लिए फ्लश को चलाते समय टॉयलेट शीट को ढक दें।

इसे भी पढ़ें : वेस्टर्न टॉयलेट के इस्तेमाल से बढ़ सकता है यूटीआई का खतरा, जानें टायलेट से फैलने वाले इंफेक्शन्स के बारे में

inside6_publictoilet

4. यात्रा के दौरान अपने साथ साबुन या एंटीबैक्टीरियल वाइप्स साथ रखें (Carry Soap or Antibacterial Wipes while Travelling)

यात्रा करने के दौरान अक्सर लोगों को सार्वजानिक शौचालयों का इस्तेमाल करना पड़ता है। ऐसे में कही भी यात्रा पर निकालने से पहले अपने साथ साबुन या एंटी बैक्टीरियल वाइप साथ रखें। हाथों की साफ सफाई से लेकर टॉयलेट शीट या फिर शौचालयों के दरवाजों का इस्तेमाल करते समय एंटीबैक्टीरियल वाइप का इस्तेमाल आपको संक्रमण से दूर रखेगा। इससे आप टॉयलेट के इस्तेमाल से होने वाले कई संक्रमित बीमारियों से बच सकते हैं।

इसके अलावा किसी भी पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से पहले इन बातों को अपने ध्यान में रखकर आप संक्रमण और सार्वजनिक शौचालयों का इस्तेमाल करने होने वाली बीमारियों से बच सकते हैं।

  • सबसे ज्यादा ख़तरा हाथों से किसी चीज को छूने से होता है ऐसे में हाथों से कम से कम चीजों को छुएं।
  • छोटे पब्लिक टॉयलेट में जाने से बचें, बड़े पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करना ज्यादा सुरक्षित माना गया है।
  • किसी भी व्यक्ति द्वारा इस्तेमाल की गई टॉयलेट शीट, या यूरिनल का इस्तेमाल 1 मिनट बाद करें।
  • टॉयलेट शीट का इस्तेमाल करने से पहले हो सके तो उसे पेपर या किसी दूसरी चीज की सहायता से कवर करें।
  • हाथों से कम चीजों को छुए, जरूरी हो तो टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें।
  • हाथ धोने के बाद सार्वजनिक शौचालयों के तौलियों का इस्तेमाल बिलकुल न करें।
  • सार्वजानिक शौचालयों में फ़ोन का इस्तेमाल करने से बचें।
  • कम से कम समय में सार्वजानिक शौचालय से बहार निकलने की कोशिश करें।

इसे भी पढ़ें : सार्वजनिक टॉयलेट को इस्तेमाल करने में रहें थोड़ा सावधान, कोरोना संक्रमण का खतरा है ज्यादा

inside3_publictoilet

सार्वजनिक शौचालयों के असुरक्षित इस्तेमाल से होने वाले खतरे (Side Effects of Using Dirty Public Toilets)

गंदे या कम साफ़ पब्लिक टॉयलेट के इस्तेमाल से कई तरह के संक्रमण से ग्रसित होने का ख़तरा बना रहता है। टॉयलेट एक ऐसी जगह मानी जाती है जहां किसी भी प्रकार के संक्रमण के फैलने ख़तरा अन्य जगहों की तुलना में ज्यादा होता है। सैकड़ों लोगों द्वारा इस्तेमाल किये जाने वाले सार्वजानिक शौचालयों में साफ सफाई भी बेहतर ढंग से नही हो पाती है जिसकी वजह से संक्रमण जनित बीमारियों का ख़तरा बढ़ जाता है। पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से शरीर के कई अंगों से जुड़े इन्फेक्शन के होने का ख़तरा रहता है ऐसे में जरूरी सावधानियों का पालन करना आवश्यक है। गंदे या असुरक्षित सार्वजानिक शौचालयों के इस्तेमाल से इन बीमारियों का ख़तरा बढ़ जाता है।

  • मूत्र रोग या यूरिन इन्फेक्शन
  • आंतों से जुड़े संक्रमण
  • वायरल संक्रमण का ख़तरा
  • स्किन से जुड़े रोगों का ख़तरा
  • स्ट्रेप्टोकोकस या गले का संक्रमण
  • डायरिया और निमोनिया जैसी बीमारियां

हमें उम्मीद है कि पब्लिक टॉयलेट के इस्तेमाल के बारे में दी गयी यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। किसी भी सार्वजानिक शौचालयों का इस्तेमाल करते वक़्त इन बातों का पालन जरूर करें। खुद को संक्रमण से बचाएं और अगर आपको किसी भी प्रकार का गंभीर संक्रमण से जुड़ा रोग है तो पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने से बचें इससे दूसरे लोगों को इससे बचाया जा सकता है।

Read more on Miscellaneous in Hindi 

 

 
Disclaimer