Doctor Verified

इन 5 समस्याओं को दूर करने के लिए करें अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल, जानें कैसे

Castor Leaves Benefits: आयुर्वेद में अरंडी के पत्तों को फायदेमंद माना गया है। इसकी पत्तियों का इस्तेमाल कई समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Mar 11, 2022Updated at: Mar 11, 2022
इन 5 समस्याओं को दूर करने के लिए करें अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल, जानें कैसे

Castor Leaves Uses in Hindi: आयुर्वेद में कई ऐसी जड़ी-बूटियां हैं, जिनका उपयोग कई समस्याओं को दूर करने के लिए घरेलू उपाय के तौर पर किया जाता है। इन्हीं में से एक है अरंडी का पेड़ (Castor Plant in Hindi)। अरंडी का पेड़ औषधीय गुणों से भरपूर होता है। अरंडी के बीजों, टहनियों और पत्तियों में अनेक गुण पाए जाते हैं। आज हम आपको अरंडी के पत्तों के घरेलू उपायों (Castor Leaves in Hindi) के बारे में बताने जा रहे हैं। अरंडी के पत्तों में ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो कई समस्याओं को दूर करने में कारगर माने जाते हैं। चलिए आयुर्वेदाचार्य श्रेय शर्मा से विस्तार से जानते हैं घर पर अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल किन-किन समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जा सकता है। 

अरंडी के पत्तों के घरेलू उपाय (Castor Leaves Uses in Hindi)

आयुर्वेद में अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल कई समस्याओं को दूर (Castor Leaves Benefits) करने के लिए किया जाता है। इनका इस्तेमाल चिकित्सा उपायों में किया जाता है। आप चाहें तो छोटी-छोटी समस्याओं को दूर करने के लिए भी घर पर अरंडी के पत्तों का उपयोग कर सकते हैं। 

1. घाव भरने के लिए अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल

अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल घाव जल्दी भरने के लिए किया जा सकता है। अरंडी के पत्तों में ऐसे कई प्राकृतिक गुण पाए जाते हैं, जो त्वचा के घाव को जल्दी भरने में असरदार होते हैं। अरंडी के पत्तों का उपयोग सूजन भी कम करते हैं। घाव भरने के लिए आप अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

castor oil for constipation

2. कब्ज दूर करे अरंडी के पत्ते (Castor Leaves for Constipation)

अरंडी के पत्तों का उपयोग कब्ज की समस्या (Constipation Meaning in Hindi) दूर करने के लिए भी किया जा सकता है। इसके लिए आप अरंडी के पत्तों को सूखाकर पाउडर बना लें। इस पाउडर को सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ लें। इससे आपका पेट अच्छी तरह से साफ होगा। लेकिन कब्ज के लिए अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। अरंडी के पत्तों से कब्ज की समस्या दूर होती है

3. शरीर के दर्द में आराम दिलाए अरंडी के पत्ते

अक्सर जब शरीर में दर्द होता है, तो लोग अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। इसके लिए आप एक तवे पर तेल गर्म करें, इसमें अरंडी के पत्ते रखें, फिर प्रभावित स्थान पर लगाएं। दिन में 2-3 बार ऐसा करने से आपके दर्द में काफी आराम मिलेगा। शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द से आराम पाने के लिए आप अरंडी के पत्तों का उपयोग कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें - दूध में कैस्टर ऑयल (अरंडी का तेल) मिलाकर पीने के 5 फायदे, न्यूट्रीशनिस्ट से जानें सही तरीका

4. चोट लगने पर लगाएं अरंडी के पत्ते

कई बार हमें चोट लगती है, वो चोट दिखाई नहीं देता लेकिन दर्द का अहसास होता है। इसे गुम चोट कहा जाता है। गुट चोट के दर्द को कम करने के लिए भी अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए आप तेल गर्म करें, इसमें अरंडी के पत्ते डालें और दर्द वाली जगह पर लगाएं। इससे आपके दर्द में आराम मिलेगा, चोट की लालिमा भी कम होगी।

5. नींद न आने पर करें अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल

अरंडी के पत्तों का उपयोग अनिद्रा की समस्या दूर करने के लिए भी किया जा सकता है। अगर आपको नींद नहीं आती है, तो अरंडी के पत्ते इस समस्या को दूर करने में फायदेमंद हो सकते हैं। इसके लिए आप सबसे पहले तेल गर्म करें, इसमें अरंडी के पत्ते डाल दें। जब तेल सामान्य हो जाए, तो इससे सिर पर लगाएं। इससे आपका स्ट्रेस कम होगा, नींद भी अच्छी आएगी

अरंडी के पत्तों के नुकसान (Castor Leaves Side Effects)

अरंडी के पत्ते आपकी कई समस्याओं को दूर करने में कारगर होते हैं। अरंडी के पत्तों की तासीर बहुत गर्म होती है। ऐसे में कुछ लोगों को अरंडी के पत्तों से नुकसान (Castor Leaves Side Effects) भी पहुंच सकता है।

  • पेट में दर्द
  • सीने में जलन
  • डायरिया
  • एलर्जी, त्वचा पर चकत्ते, लालिमा

अरंडी के पत्तों (Castor Leaves Uses in Hindi) का उपयोग करने से कई लोगों को इस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए अरंडी के पत्तों का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की राय जरूर लें। आयुर्वेदिक डॉक्टर आपको सही तरीके से अरंडी के पत्तों का उपयोग करने की सलाह देंगे।

इसे भी पढ़ें - जानें नजर की कमजोरी दूर करने और मोतियाबिंद से बचने में कैसे फायदेमंद है अरंडी का तेल

Disclaimer