Doctor Verified

क्या अस्थमा के मरीज रक्तदान कर सकते हैं? जानें डॉक्टर से

Blood Donation in Asthma: अस्‍थमा के रोगी रक्‍तदान कर सकते हैं या नहीं। आपके मन में भी ये सवाल है, तो डॉक्‍टर से जानें इसका सही जवाब।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Jan 09, 2023 11:00 IST
क्या अस्थमा के मरीज रक्तदान कर सकते हैं? जानें डॉक्टर से

Can you Donate Blood in Asthma: जरूरतमंदों की मदद के ल‍िए सरकार और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय लोगों से समय-समय पर रक्‍तदान करने की अपील करता है। कई ऐसे भी लोग हैं जो रक्‍तदान (Blood Donation) करना चाहते हैं। लेक‍िन उन्‍हें कोई न कोई बीमारी या स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़ी समस्‍या होती है ज‍िसके कारण वे रक्‍तदान नहीं कर पाते। ऐसी ही एक बीमारी है अस्‍थमा या दमा (Asthma) ज‍िसमें रोगी को समझ नहीं आता क‍ि वो रक्‍तदान कर सकता है या नहीं। अस्थमा फेफड़ों को प्रभाव‍ित करने वाली बीमारी है जिसमें मरीज को सांस लेने में परेशानी होती है। अस्‍थमा के कारण श्वसन मार्ग सिकुड़ जाता है। इस कारण अस्‍थमा में खांसी आती है, सीने में जकड़न और सांस लेने में तकलीफ होने जैसे (Asthma Symptoms) लक्षण नजर आते हैं। इन लक्षणों के साथ अगर मरीज रक्‍तदान करेगा, तो क्‍या उस रक्‍त को लेने वाले व्‍यक्‍त‍ि को भी अस्‍थमा हो सकता है? या क्‍या अस्‍थमा के साथ रक्‍तदान क‍िया भी जा सकता है? ऐसे तमाम सवालों के जवाब आगे जानेंगे इस लेख से। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

blood donation in asthma

अस्‍थमा में रक्‍तदान कर सकते हैं या नहीं?- Blood Donation in Asthma

अस्‍थमा के मरीज रक्‍तदान कर सकते हैं। अस्‍थमा के दौरान रोगी रक्‍तदान केवल तब नहीं कर पाएगा, जब उसे सांस लेने में ज्‍यादा परेशानी (Breathing Problem) हो रही हो। या रोगी को असहज या घबराहट हो रही हो। ऐसी स्‍थि‍त‍ि में रक्‍तदान करने से बचना चाह‍िए। इससे रक्‍त लेने वाले व्‍यक्‍त‍ि को भी परेशानी हो सकती है। ऐसी स्‍थ‍ित‍ि में ल‍िए गए खून में ऑक्‍सीजन को बनाए रखने वाली क्षमता कम होने की संभावना हो सकती है। अस्‍थमा के मरीज को रक्‍तदान से पहले अपने लक्षणों पर गौर करने की सलाह दी जाती है। अगर आपके मन में सवाल है क‍ि क्‍या अस्‍थमा के दौरान ली जाने वाली दवाओं के कारण रक्‍तदान में परेशानी होगी, तो ऐसा नहीं है। इसका प्रभाव खून लेने वाले व्‍यक्‍त‍ि के शरीर पर नहीं पड़ेगा।   

इसे भी पढ़ें- रक्तदान से पहले आपकी ये 5 गलतियां पहुंचा सकती हैं सेहत को नुकसान

अस्‍थमा में कब रक्‍तदान नहीं कर सकते?

अस्‍थमा के मरीज स्‍वस्‍थ्‍य हैं और सक्र‍िय हैं, तो रक्‍तदान (Blood Donation) में समस्‍या नहीं होगी। रक्‍तदान करने से पहले अस्‍थमा के मरीज को इस बात का ख्‍याल रखना चाह‍िए क‍ि उसे बीते दो सप्‍ताह में अस्‍थमा से जुड़े गंभीर लक्षण (Asthma Symptoms) तो नहीं महसूस हुए हैं। अगर ऐसा है, तो डॉक्‍टर से सलाह लेना न भूलें। Redcross Blood Organisation Group की मानें, तो क्रॉनिक ऑब्‍सट्रक्टिव पल्‍मोनरी डिसीज या सीओपीडी के मरीज रक्‍तदान कर सकते हैं। अगर लक्षण सामान्‍य हैं और व्‍यक्‍त‍ि हेल्‍दी है, तो रक्‍तदान में कठ‍िनाई नहीं आएगी।    

ये लोग न करें रक्‍तदान 

  • श्वास की बीमारी जैसे खांसी, जुकाम, गले में सक्रमण हो तो रक्‍तदान न करें।
  • लंबं समय तक एंटीबायोट‍िक्‍स ले रहे हैं, तो रक्‍तदान न करें।
  • अस्‍थमा में स्‍टेरॉइड ले रहे हैं, तो रक्‍तदान नहीं करना चाह‍िए।
  • हाल ही में ऑपरेशन हुआ है, तो रक्‍तदान न करें। 
  • प‍िछले छह महीने में गर्भवती हुई मह‍िला या ब्रेस्‍टफीड‍िंग मदर रक्‍तदान न करें।  

रक्‍तदान करने से पहले क‍िन बातों का ख्‍याल रखें? 

  • डॉक्‍टर से अपने मेड‍िकल इत‍िहास के बारे में बात करें। 
  • हाल में ही आपको कोई गंभीर एलर्जी हुई है, तो डॉक्‍टर से बात करें।
  • रक्‍तदान करने के बाद 48 घंटों तक ध्‍यान रखें क‍ि शरीर हाइड्रेट हो और हेल्‍दी खाएं।
  • रक्‍तदान के बाद भारी वस्‍तुएं उठाना या ज्‍यादा श्रम वाले काम करने से बचना चाह‍िए।  

Can you Donate Blood in Asthma? अस्‍थमा के दौरान रक्‍तदान कर सकते हैं। ध्‍यान रखें क‍ि रक्‍तदान से पहले या बीते 2 हफ्तों में आपको अस्‍थमा के लक्षण नजर न आए हों। घबराहट या सांस लेने में तकलीफ महसूस हो, तो रक्‍तदान न करें।   

Disclaimer