बवासीर में बहुत फायदेमंद होते हैं ये 6 तरह जूस, दर्द और जलन की समस्या से दिलाते हैं आराम

बवसीर की परेशानियों को दूर करने के लिए डाइट पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है। इस दौरान आप अपने डाइट में कुछ हेल्दी जूस को शामिल कर सकते हैं।

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Mar 14, 2022Updated at: Mar 21, 2022
बवासीर में बहुत फायदेमंद होते हैं ये 6 तरह जूस, दर्द और जलन की समस्या से दिलाते हैं आराम

बवासीर (hemorrhoids in hindi) एक बहुत ही दर्दनीय समस्या है। इस परेशानी से ग्रसित लोगों के मलाशय और गुदे के क्षेत्र में स्थित रक्त वाहिकाओं में सूजन होने लगती है। साथ ही मरीज को मल त्यागने के बाद काफी ज्यादा सूजन और दर्द का (which juice good for piles ) अनुभव होता है। वहीं, मल त्यागने के दौरान काफी जोर देना पड़ता है। बवासीर की परेशानियों (hemorrhoids in hindi) को कम करने के लिए घरेलू उपायों के साथ-साथ बेहतर डाइट की भी आवश्यकता होती है। इससे आप अपनी समस्याओं को कंट्रोल कर सकते हैं। अधिकतर हेल्थ एक्सपर्ट बवासीर के मरीजों को फाइबरयुक्त डाइट लेने की सलाह देते हैं। इसके साथ-साथ आपको इस दौरान कुछ हेल्दी जूस भी अपने आहार में शामिल करना चाहिए, ताकि बवासीर की परेशानी (Which Juice is for piles?) कम हो सके। आज हम इस लेख में बवासीर के दौरान पीने से कुछ हेल्दी जूस के बारे में बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं बवासीर में कौन सा जूस पीना आपके लिए हेल्दी (best fruit juice for piles) हो सकता है।

बवासीर में कौन सा जूस पिएं? (which juice is good for piles)

1. मूली का रस जूस 

बवासीर मरीजों के लिए मूली का रस (how to prepare radish juice for piles) फायदेमंद होता है। अगर आपको बवासीर की परेशानी है, तो सुबह और रात के समय मूली का जूस पिएं। इसके लिए पहले 1/4 कप मूली का रस लें। धीरे-धीरे आप इसे आधा कप अपने आहार में शामिल करें। इसके साथ ही आप मूली के पेस्ट के साथ शहद मिलाकर प्रभावित हिस्से पर लगा सकते हैं। इससे बवासीर में होने वाली समस्याओं से आराम मिल सकता है। 

इसे भी पढ़ें - नीम से हो सकता है बवासीर का इलाज, एक्सपर्ट से जानें इसके इस्तेमाल का आसान तरीका

2. करेले का जूस

बवासीर की समस्याओं से राहत पाने के लिए करेले का जूस आपके लिए लाभकारी (which juice good for piles ) हो सकता है। इसके लिए करेले के पत्तों को मसलकर जूस निकाल लें। अब इसमें 1 गिलास छाछ और 3 चम्मच करेले का रस मिक्स कर लें। रोजाना सुबह खाली पेट 1 महीने तक लगातार इस जूस का सेवन करने से बवासीर की समस्याओं से आराम मिलेगा। 

3. नींबू का रस

नींबू का जूस (Is Lemon Juice Good for piles) बवासीर की परेशानियों को नैचुरल तरीके से दूर करने में आपकी मदद कर सकता है। यह रस रक्त वाहिकाओं की दीवारों को मजबूत करने में आपकी मदद कर सकता है।  इसके लिए रोजाना 1 गिलास पानी में नींबू का रस खाली पेट लें। इसके अलावा आप नींबू के रस को प्रभावित हिस्से पर लगा भी सकते हैं। इससे दर्द से काफी आराम मिलेगा। 

इसके अलाना गर्म पानी में नींबू और शहद का मिश्रण भी आपके लिए लाभदायक हो सकता है। इसके अलावा आप नींबू के पत्तों को काढ़ा भी पी सकते हैं।

4. एलोवेरा जूस

बवासीर की समस्याओं से राहत पाने के लिए एलोवेरा जूस (which juice good for piles ) आपके लिए फायदेमंद है। एलोवेरा जूस में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाया जाता है, जो बवासीर की समस्याओं को दूर करने में प्रभावी है। इस जूस को तैयार करने के लिए एलोवेरा की पत्तियों से जेल निकाल लें। अब इस जेल को पानी में डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर लें। रोजाना सुबह इस जूस का सेवन करने से काफी लाभ होगा। इसके अलावा आप एलोवेरा जेल को अपने प्रभावित हिस्से पर भी लगा सकते हैं। 

इससे बवासीर के दर्द से आराम मिल सकता है। वहीं, रोजाना दो चम्मच एलोवेरा जूस पीने से बवासीर की पुनरावृत्ति को रोकने में मदद मिल सकती है।

5. खीरे का जूस

बवासीर की समस्याओं को कम करने के लिए खीरे से तैयार जूस भी आपके लिए लाभकारी हो सकता है। इस जूस को तैयार करने के लिए 1 मध्यम आकार के खीरे को काटकर इस ग्राइंडर में डालें। अब इसमें कुछ पुदीने की पत्तियां और जीरा पाउडर मिक्स कर लें। अब मिक्सर ग्राइंडर की मदद से इसे पीस लें। इस जूस को पीने से बवासीर की परेशानी दूर हो सकती है।

इसे भी पढ़ें - बवासीर में लहसुन के फायदे : बवसीर में होने वाली इन 5 परेशानी को दूर करता है लहसुन, जानें इस्तेमाल का तरीका

6. अनार का जूस

अनाज के जूस में फाइबर और आयरन भरपूर रूप से होता है, जो बवासीर में होने वाली मल त्यागने की परेशानी को कम कर सकता है। साथ ही इससे शरीर में आयरन की कमी को दूर किया जा सकता है।

बवासीर की समस्याओं को कम करने के लिए नैचुरल रूप से तैयार यह जूस आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। हालांकि, ध्यान रखें कि इन जूस का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें। 

Disclaimer