दांत दर्द, खांसी, पेट दर्द जैसी इन 5 समस्याओं का रामबाण इलाज है जूफा का पौधा, जानें इसके प्रयोग

जूफा एक औषधीय गुणों से भरपूर पौधा है ज‍िसकी पत्‍त‍ियों से कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का इलाज क‍िया जाता है, आइए जानते हैं इसके बारे में

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Aug 02, 2021Updated at: Aug 02, 2021
दांत दर्द, खांसी, पेट दर्द जैसी इन 5 समस्याओं का रामबाण इलाज है जूफा का पौधा, जानें इसके प्रयोग

जूफा (Jufa) के पौधे में औषधीय गुण होते हैं। कई बीमारियों या स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़ी समस्‍याओं में जूफा का इस्‍तेमाल क‍िया जाता है जैसे दांत का दर्द, खांसी, पेट से जुड़ी बीमारी आद‍ि। आयुर्वेद के मुताब‍िक जूफा पेड़ की पत्‍त‍ियां, फल, जड़ आद‍ि का प्रयोग बीमार‍ियों को दूर करने के ल‍िए क‍िया जाता है। जूफा का सेवन काढ़ा, चूरण, रस, लेप, तेल के तौर पर कि‍या जाता है। जूफा का स्‍वाद कड़वा और तीखा होता है। इस लेख में हम कई समस्‍याओं में जूफा के फायदे और इस्‍तेमाल करने के तरीके पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की। 

jufa benefits

1. पेट में दर्द और अन्‍य समस्‍याओं में फायदेमंद है जूफा (Benefits of jufa in stomach pain)

जूफा की पत्‍त‍ियों से पेट का दर्द भी दूर होता है। अगर आप इसके पत्‍तों को शहद में म‍िलाकर उसका सेवन करें तो पेट के कीड़े भी मरते हैं। पेट में दर्द, कब्‍ज आद‍ि समस्‍याओं में आप जूफा के पत्‍तों का काढ़ा बनाकर प‍िएं। काढ़ा बनाने के ल‍िए पत्‍तियों को पानी में उबाल लें जब पानी आधा रह जाए तो उसमें एक चुटकी जीरा और काला नमक म‍िलाकर प‍िएं। इससे पेट का दर्द दूर हो जाएगा। 

इसे भी पढ़ें- ताड़ की पत्तियों और छाल में होते हैं औषधीय गुण, इन 6 बीमारियों में प्रयोग करने से मिलता है आराम

2. चोट लगने पर होने वाले घाव को ठीक करता है जूफा (Jufa helps to cure wound)

अगर आपको कहीं चोट लगी हो तो जूफा का इस्‍तेमाल गुणकारी माना जाता है। जूफा के इस्‍तेमाल से घाव जल्‍दी भर जाता है। आपको जूफा के पत्‍त‍ियों को पीसकर उसमें हल्‍दी म‍िलाकर लेप को घाव पर लगाना है। इससे घाव जल्‍दी ठीक होगा, अगर घाव गहरा है या उसमें कोई इंफेक्‍शन है तो डॉक्‍टर की सलाह पर ही लेप लगाएं। गर्भवती मह‍िलाओं को जूफा का इस्‍तेमाल नहीं करना चाह‍िए।

3. दांत में दर्द को दूर करती हैं जूफा की पत्‍त‍ियां (Jufa cures tooth ache)

jufa uses

जूफा का इस्‍तेमाल कई तरह की बीमारी और उनसे जुड़े लक्षणों को कम करने के ल‍िए क‍िया जाता है। इनमें से एक दांत का दर्द। अगर आपके दांत में दर्द है तो आप जूफा का इस्‍तेमाल करें। जूफा के पत्‍तों का काढ़ा बनाएं और उससे गरारे करें, इससे दांत का दर्द दूर होगा। आप जूफा के पत्‍तों का रस दांतों पर लगाकर 15 म‍िनट के ल‍िए छोड़ दें और फ‍िर गुनगुने पानी से कुल्‍ला कर लें, इससे भी दांत का दर्द ठीक हो जाता है। 

4. जूफा की पत्‍त‍ियों से दूर होगी खांसी की समस्‍या (Jufa helps to cure cough)

मौसम बदलने से कई लोगों को खांसी की समस्‍या होती है ऐसे में आप जूफा के फूल और पत्‍त‍ियों को पीस लें औश्र उसमें गरम पानी म‍िलाकर, म‍िश्रण का सेवन करें। इससे गला खुलेगा और खांसी की समस्‍या दूर हो जाएगी। गले में सूजन आना आम समस्‍या है पर जूफा के इस्‍तेमाल से वो भी ठीक हो जाती है। खांसी की समस्‍या दूर करने के लि‍ए आप जूफा के पत्‍त‍ियों को पीसकर उसमें गुड़ म‍िलाकर भी खा सकते हैं, इससे भी खांसी की समस्‍या दूर होती है। 

इसे भी पढ़ें- सिर दर्द, खांसी, दस्त जैसी इन 6 समस्याओं में फायदेमंद है कनक चंपा, जानें अन्य औषधीय लाभ

5. सांस लेने में तकलीफ होने पर जूफा का सेवन फायदेमंद (Jufa helps to cure breathing problem)

ज‍िन लोगों को अस्‍थमा है या सांस लेने में तकलीफ हो रही हो उनके ल‍िए जूफा के पत्‍तों से बना काढ़ा फायदेमंद माना जाता है। इससे गले में सूजन की समस्‍या भी दूर होती है। सांस लेने में तकलीफ होने पर जूफा के फूलों का काढ़ा भी फायदेमंद होता है। लीवर से जुड़ी समस्‍याओं में भी जूफा का काढ़ा फायदेमंद माना जाता है। 

अगर आपको त्‍वचा या शरीर के क‍िसी अंग से जुड़ी गंभीर बीमारी है तो आप डॉक्‍टर की सलाह के अनुसार ही जूफा का इस्‍तेमाल करें। 

Read more on Ayurveda in Hindi 

Disclaimer