इन 7 आयुर्वेदिक तरीकों से डिटॉक्‍स करें अपनी बॉडी, आस-पास भी नहीं फटकेगा रोग

अनियमित दिनचर्या और खानपान की बिगडती आदतों से हमारे जीवन में कई अनियमितताएं आ गयी हैं, जो हमारे शरीर को प्रभावित करती हैं. ऐसे में बहुत जरूरी है कि शरीर को डीटोक्सिफाई किया जाए.

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Mar 28, 2018
इन 7 आयुर्वेदिक तरीकों से डिटॉक्‍स करें अपनी बॉडी, आस-पास भी नहीं फटकेगा रोग

हमारे शरीर में कुछ न कुछ जहरीले तत्व बनते रहते हैं और हमारे शरीर से वे अपने आप बाहर भी निकलते रहते हैं. हमारे शरीर को साफ करने का काम हमारा लीवर करता है. हमारा लीवर ही शरीर में कैसी ऐसे एंजाइम को बनाता है जो हमारे कई अंगों के कार्यों को नियंत्रित करते हैं जैसे आँखें, दिल, दिमाग, किडनी और जोड़. मगर कभी कभी ऐसा नहीं होता, अनियमित दिनचर्या और खानपान की बिगडती आदतों से हमारे जीवन में कई अनियमितताएं आ गयी हैं, जो हमारे शरीर को प्रभावित करती हैं. ऐसे में बहुत जरूरी है कि शरीर को डीटोक्सिफाई किया जाए.

शरीर को तरो ताज़ा करने के लिए डीटोक्सिफाई करना बहुत ही जरूरी है जिसे खानपान और ध्यान दोनों से किया जा सकता है. मूल रूप से जब हम डीटोक्सिफिकेशन की बात करते हैं तो इसका मतलब है अपने खून, और अपने लीवर से अशुद्धताओं को हटाना, जहाँ जहरीले तत्व इकट्ठा हो जाते हैं. शरीर अपने आप ही किडनी, आंतों, फेफड़ों और त्वचा से जहरीले तत्वों को निकाल देती है. मगर जब ऐसा नहीं हो पाता है तो हमें डीटोक्सिफाई करने की जरूरत होती है.

शरीर को डीटोक्सिफाई करने के लिए सबसे पहले उन चीज़ों को खाने से बचना चाहिए जो शरीर में जहरीले तत्वों को बनाती हैं जैसे चाय, कॉफ़ी, सिगरेट, सैच्युरेट फैट, शराब आदि. और इसी के साथ आपको उन सभी हाउसहोल्ड क्लीनर और सौन्दर्य उत्पादों से दूर होना होगा जो आपके शरीर में किसी न किसी तरीके से जाते हैं जैसे क्लींजर, शैम्पू, डियोड्रेंट और टूथपेस्ट आदि.

शारीर को स्वस्थ रखने के लिए स्वामी परमानन्द प्राकृतिक चिकित्सालय के प्रवक्ता डॉ सुबोध भटनागर  कुछ आयुर्वेदिक उपायों के बारे में बताते हैं जो हमारे शारीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है. आयुर्वेद में शरीर को डीटोक्सिफाई करने के लिए कई उपाय हैं.

इसे भी पढ़़े: ब्रेस्‍ट मिल्‍क को तुरंत बढ़ाता है ये आयुर्वेदिक नुस्‍खा

आयुर्वेद में शरीर को डीटोक्सिफाई के उपाय

  • हल्दी शरीर को डीटोक्सिफाई करने के लिए बहुत ही आवश्यक है और यह आपके लीवर को साफ़ कर सकती है. लीवर डीटोक्स ड्रिंक भी आप बना सकते हैं, जिसमें एक कप पानी को कुछ हल्दी के साथ उबाल सकते हैं. इसे ठंडा करें और इसमें एक चम्मच शहद और कुछ बूँदें नीबू के रस की डालें.
  • शरीर को डीटोक्सिफाई करने के लिए ऐसी ही नीम्बू वाली चाय आप दिन में तीन बार पियें, क्योंकि नीबू का विटामिन सी आपके लीवर में मौजूद जहरीले तत्वों को बाहर निकालेगा.
  •  
  • इसी प्रकार अपने शरीर को डीटोक्सिफाई करने के लिए आपको अपने आहार में लहसुन लेना होगा, क्योंकि लहसुन में प्राकृतिक एंटीबायोटिक गुण होते हैं जो शरीर से गंदगी निकालने में काफी सहयोग देते हैं.

इसे भी पढ़़े: इस लकड़ी के बर्तन में पानी पीकर पाएं अर्थराइटिस और डायबिटीज से छुटकारा

  • शरीर को डीटोक्सिफाई करने के लिए ग्रीन टी बहुत उपयोगी हो सकती है. यह आपके शरीर के मेटाबोलिज्म के लिए बहुत ही अच्छी होती है और जो आपके लीवर को कई तरह की बीमारियों से लड़ने की ताकत देती है.
  • भरपूर मात्रा में धनिया, खीरा आदि का सेवन करें. खीरा में पानी काफी मात्रा में पाया जाता है और जो शरीर में पानी की कमी को पूरा करने के लिए गर्मियों में बहुत बढ़िया स्रोत है.
  • नशा न करें, और सबसे बढ़कर नींद पूरी करें. आज के समय में लोगों के पास नींद पूरी करने का समय नहीं होता जिससे वे चिडचिडे हो जाते हैं और आलस बना रहता है.
  • अपने शरीर में हर तरह के जहरीले तत्वों को दूर करने के लिए आपको व्यायाम करना चाहिए, दौड़ लगानी चाहिए, प्राणायाम करना होगा, जॉगिंग करनी होगी.
  • और इसी के साथ आपको अधिक से अधिक पानी पीना होगा, जिससे शरीर की गंदगी पेशाब और पसीने के माध्यम से बाहर निकल सके.

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Ayurveda In Hindi

Disclaimer

Tags