DIY Masks: होममेड मास्क में हो सकती हैं फिटिंग से जुड़ी कुछ कमियां, इस्तेमाल करते वक्त इन चीजों रखें खास ख्याल

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) और स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों से आग्रह किया है कि जब भी वे बाहर निकलें, मास्क जरूर पहनें। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 09, 2020
DIY Masks: होममेड मास्क में हो सकती हैं फिटिंग से जुड़ी कुछ कमियां, इस्तेमाल करते वक्त इन चीजों रखें खास ख्याल

भारत में कोरोनावायरस जिस तरह से अपने पैर पसार रहा है ऐसे में रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी), भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय और तमाम राज्य सरकारों ने घर से बाहर निकलते वक्त मास्क पहनने का अनिवार्य कर दिया है। इसी फैसले के साथ मास्क की कमी को देखते हुए तमाम दिशानिर्देशों में घर पर अपने लिए मास्क बनाने के लिए भी सुझाव दिए गए हैं। ऐसे में कई लोग अपने घर में ही बने मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं। वहीं घर में तैयार होममेड मास्क के साथ कुछ चुनौतियां भी होती है, जिनका ख्याल रखते हुए ही हमें उसे बनाना चाहिए और उसका इस्तेमाल करना चाहिए। आइए जानते हैं होममेड मास्क से जुड़ी उन कमियों के बारे में, जिसका हमें इस्तेमाल करते वक्त सावधानी से ध्यान देना चाहिए।

insidemaskforcovid19

होममेड मास्क से जुड़ी इन कमियों का रखें ध्यान

होममेड मास्क बचाव का सबसे अच्छा तरीका तो नहीं हो सकता है, पर ये संक्रमण के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते हैं। ये मास्क विशेष रूप से तब मददगार होते हैं, जब आप सार्वजनिक स्थानों पर होते हैं या लोगों से मिलते हैं। ऐसे में होममेड मास्क एक सस्ता और सही तरीका है मुंह ढंकने का। पर होममेड का इस्तेमाल करते वक्त आपको इन चीजों का जरूर ध्याल रखना चाहिए। 

कोरोना वायरस के बारे में कितना जानते हैं आप? खेलें ये क्विज:

Loading...

खराब फिटिंग वाले मास्क न पहनें

मास्क पहनना निश्चित रूप से अपने आप को बचाने के लिए एक अच्छा उपाय है, हालांकि, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आप इसे सही तरीके से पहन रहे हैं या नहीं।चाहे आप सर्जिकल ग्रेड मास्क का उपयोग कर रहे हों या घर पर बने कपड़े के मास्क का, यह सुनिश्चित करें कि कपड़े नाक और मुंह दोनों को कवर करें। एक मास्क जो बस मुंह क्षेत्र को कवर करता है, वह रोगाणु और संक्रामक वायरस को नाक मार्ग में प्रवेश करने और संक्रमण फैलाने की अनुमति दे सकता है। साथ में होममेड मास्क वायरस के संचरण को रोकने में उतनी कुशलता से काम नहीं कर सकता इसलिए ध्यान रखें मास्क ऐसा हो जो नाक समेत मुंह के नीचे का पूरा हिस्सा ढंकें। इसलिए होममेड मास्क पहनते वक्त उसकी सही फिटिंग का ध्यान रखें।

insideusinghomemademask

इसे भी पढ़ें : कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्‍या 5000 पार, यूपी के 15 जिले 100% लॉकडाउन, मास्‍क पहनना हुआ जरूरी

स्ट्रिंग का उपयोग करके मास्क उतारें

एक और गलती जो लोग करते हैं वह है इसे पहनना या अनुचित समय पर इसे हटाना। अपने घर से बाहर कदम रखने से पहले, सुनिश्चित करें कि आपके हाथ साफ और स्वच्छ हैं ताकि आप घर से बाहर निकलने से पहले मास्क पर कोई कीटाणु न फैलाएं और फिर इसे पहनें। उसी तरह, याद रखें कि इसे जल्द न उतारें। जब आप अपने घर वापिस आ जाएं, हाथों को साफ करें और इसके किनारों पर स्ट्रिंग का उपयोग करके मास्क उतार दें। इसके बाद हर बार जब आप इसे हटाते हैं तो आप अपने घर के बने मास्क को धोने या कीटाणुरहित करने के लिए गर्म पानी का उपयोग कर सकते हैं।

मास्क वाले हिस्से को छूना

जिस तरह हमेशा मास्क के पीछे की तरफ स्ट्रिंग का उपयोग करके निकालना चाहिए, उसी तरह मास्क के बाहरी हिस्से को बार-बार छूने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। मास्क के सामने या बाहर का हिस्सा, खासकर होममेड मास्क में वायरस के ट्रांसमिशन का एक आसान रास्ता हो सकता है। इसलिए जब भी होममेड मास्क पहनें तो उसे ज्यादा न छूएं और घर आकर उसकी सफाई करें।

insideusingdiymask

इसे भी पढ़ें : Coronavirus: बाज़ार में नहीं मिल रहा है मास्क, तो घर पर ही इन 2 तरीकों से बनाएं कपड़े का फेस मास्क

बात करने के लिए मास्क हटाना

मास्क पहनकर बात करना मुश्किल लग सकता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप अपने आसपास के लोगों से बात करने के लिए मास्क को हटा दें। याद रखें, कोरोनोवायरस श्वसन की बूंदों से फैलता है। वायरस फैल सकता है अगर आप उस व्यक्ति से बात कर रहे हैं जो बीमार है। इसलिए बिना कुछ ज्यादा सोचे समझें मास्क पहने रहें चाहे आप लोगों से बात करें या न करें। आप अपने घर के बाहर हैं इसलिए आपको मास्क पहनना ही है। याद रखें कि फेस मास्क पहनना संक्रमण के प्रसार को कम कर सकता है। इसी के साथ बार-बार हाथ धोना, सैनिटाइज करते रहना और सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखना ही हमें कोरोनावायरस को हराने में मदद कर सकता है।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer