घर के पास होगी हरियाली तो दमे का निकलेगा दम: शोध

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 20, 2017

घर के आसपास फैली हवा में प्रदूषण के कारण क्या आप भी सांस संबंधी समस्याओं का सामना कर रहे हैं? तो अब समय आ गया है कि आप आपना घर ऐसी जगह लें, जहां आपके पड़ोस में ज्यादा से ज्यादा हरे-भरे पेड़ हों। एक नए शोध में पाया गया है कि वे लोग जो प्रदूषित शहरी इलाकों में रहते हैं, लेकिन उनके पड़ोस में बहुत सारे पेड़ हैं, उन लोगों में सांस संबंधी रोग दमा (अस्थमा) जैसी समस्याएं कम होंगी।

पेड़ों से सांस संबंधी बीमारियां नहीं

शोध में पाया गया कि बहुत प्रदूषित शहरी इलाकों में पेड़ों के विस्तार से सांस संबंधी स्वास्थ्य में सुधार किया जा सकता है। पत्रिका 'इंवायरमेंट इंटरनेशनल' में प्रकाशित शोध के निष्कर्ष में कहा गया है कि उच्च स्तर के वायु प्रदूषण वाले शहरी इलाकों में अगर प्रति वर्ग किलोमीटर में 300 या अधिक पेड़ लगाए जाएं तो एक लाख निवासियों में आपातकालीन दमा के 50 मामले कम देखे जा सकते हैं। पौधरोपण कारों से होने वाले वायु प्रदूषण के प्रभाव को कम करने में भी प्रमुख भूमिका निभा सकता है।

15 साल में निकला ये निष्‍कर्ष

डीवॉन के एक्सीटर विश्वविद्यालय के शोधकर्ता इयान अल्कोक ने कहा, "हम यह स्पष्ट करना चाहते थे कि शहरी वनस्पति सांस संबंधी स्वास्थ्य ठीक रख सकता है। हम जानते हैं कि पेड़ हवा के प्रदूषण को दूर करते हैं, जबकि वायु प्रदूषण दमा के हमले ला सकता है।" शोधकर्ताओं की टीम ने पिछले 15 साल के दौरान दमा के 65,000 गंभीर हमलों का आकलन किया है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Health News In Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES814 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK