Doctor Verified

माजूफल और फिटकरी लेने से सेहत को मिलेंगे ये 5 फायदे

Majufal and Fitkari ke Fayde: माजूफल और फिटकरी कई तरह की समस्याओं का इलाज करने में असरदार साबित हो सकते हैं। जानें माजूफल और फिटकरी के फायदे

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Sep 02, 2022Updated at: Sep 02, 2022
माजूफल और फिटकरी लेने से सेहत को मिलेंगे ये 5 फायदे

Fitkari and Majufal Benefits in Hindi: माजूफल एक जड़ी-बूटी होती है। इसका इस्तेमाल कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है। यह मुंह के संक्रमण को दूर करने में मदद कर सकता है। वहीं फिटकरी का उपयोग भी अधिकतर घरों में किया ही जाता है। कुछ लोग फिटकरी को शेविंग के बाद लगाते हैं, तो कुछ फिटकरी के पानी से कुल्ला भी करते हैं। इतना ही नहीं फिटकरी के पानी से नहाया भी जा सकता है। इससे शरीर में मौजूद कीटाणु और बैक्टीरिया नष्ट हो जाते हैं। वैसे तो अधिकतर लोग माजूफल को अलग-अलग ही इस्तेमाल करते हैं, लेकिन आप चाहें तो माजूफल और फिटकरी को एक साथ भी ले सकते हैंमाजूफल और फिटकरी के इस्तेमाल से कई लाभ मिल सकते हैं

माजूफल और फिटकरी के अनगिनत फायदे मिलते हैं। आइए, माजूफल और फिटकरी के फायदे (Alum and Majufal ke Fayde) के बारे में विस्तार से जानते हैं।

माजूफल और फिटकरी के फायदे- Alum and Majufal Benefits in Hindi

1. यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन ठीक करे

रामहंस चेरिटेबल हॉस्पिटल, सिरसा के आयुर्वेदिक डॉक्टर श्रेय शर्मा बताते हैं कि यूटीआई यानी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन एक आम समस्या है। योनि में खुजली, जलन और इरिटेशन यूटीआई के सामान्य लक्षण माने जाते हैं। माजूफल और फिटकरी यूटीआई के इलाज में उपयोगी साबित हो सकते हैं। 

इसके लिए आप गर्म पानी में माजूफल और फिटकरी को अच्छी तरह से उबाल लें। अब इस पानी से प्राइवेट पार्ट की सफाई करें। इससे इंफेक्शन को खत्म करने में मदद मिलेगी। वेजाइनल हाइजीन भी बनी रहेगी।

इसे भी पढ़ें- फिटकरी कौन कौन सी बीमारी में काम आती है?

2. चोट या घाव का इलाज करे

अगर आपको चोट लग गई है, तो ऐसे में आप माजूफल और फिटकरी का इस्तेमाल कर सकते हैं। माजूफल और फिटकरी त्वचा के घावों को जल्दी भरने में मदद कर सकते हैं। साथ ही घाव को संक्रमण से भी बचाते हैं। इसके लिए आप माजूफल और फिटकरी के पानी से त्वचा के घाव को धोएं। सुबह-शाम घाव को धोने से आपको दर्द और सूजन में भी आराम मिलेगा।

3. अंडकोष की सूजन कम करे

अगर आपको अंडकोष में कोई समस्या है, तो इसके लिए भी आप माजूफल और फिटकरी का उपयोग कर सकते हैं। माजूफल और फिटकरी का लेप अंडकोष की सूजन को कम करने में मदद कर सकता है।

इसके लिए आप माजूफल और फिटकरी लें। दोनों को पीस लें या फिर पानी में उबाल लें। इस लेप को अंडकोष पर लगाएं। कुछ दिनों तक लगातार माजूफल और फिटकरी अंडकोष पर लगाने से आपको काफी लाभ मिलेगा। लेकिन अगर एलर्जी है, तो उपयोग से बचें।

majufal and fitkari for oral health

4. दांतों दर्द में उपयोगी

माजूफल दांतों के दर्द में भी उपयोगी साबित हो सकता है। इसके लिए आप माजूफल और फिटकरी का पानी तैयार कर लें। अब इस पानी से माउथ वॉश करें। आप चाहें तो माजूफल को बारीक पीसकर इसका मंजन भी बना सकते हैं। रोजाना माजूफल से ब्रश करने से आपको मुंह की दुर्गंध, दर्द और अन्य समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है। 

माजूफल और फिटकरी का पानी मुंह या जीभ के छालों का भी इलाज कर सकता है। इसके लिए आप माजूफल को धीरे-धीरे चबा भी सकते हैं। लेकिन अगर मुंह में गंभीर अल्सर है, तो इस स्थिति में डॉक्टर से ही कंसल्ट करना बेहतर होता है।

इसे भी पढ़ें- Fitkari and Suhaga: एक-दूसरे से अलग होते हैं फिटकरी और सुहागा, जानें अंतर

5. मुहांसों से छुटकारा दिलाए

आजकल अधिकतर लोग चेहरे पर होने वाले मुहांसों से परेशान हैं। इसके लिए वे कई तरह के कॉस्मेटिक्स प्रोडक्ट्स यूज करते हैं। आप चाहें तो मुहांसों से छुटकारा पाने के लिए माजूफल और फिटकरी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप माजूफल और फिटकरी के पानी को मुहांसों पर लगा सकते हैं। दरअसल, माजूफल में एस्ट्रिंजेंट (Majuphal Benefits in Hindi) होता है, जो त्वचा में ऑयल के उत्पादन को कम करता है। इससे चेहरे के ओपन पोर्स कम होते हैं, साथ ही मुहांसों से भी छुटकारा मिलता है।

Majufal and Alum Health Benefits in Hindi: आप भी यूटीआई, अंडकोष की सूजन और दांतों के दर्द को ठीक करने के लिए माजूफल और फिटकरी का उपयोग कर सकते हैं। इसके साथ ही माजूफल और फिटकरी त्वचा के मुहांसों और घाव में भी फायदेमंद हो सकते हैं। लेकिन माजूफल और फिटकरी किसी भी बीमारी का संपूर्ण इलाज नहीं होता है। ये सिर्फ समस्याओं को बढ़ने से रोकने में मदद कर सकता है। इसलिए कोई भी समस्या होने पर डॉक्टर की राय जरूर लें।

Disclaimer