यूटीआई (UTI) की समस्या होने पर इस्तेमाल करें धनिया, मिलेगी राहत

Coriander for UTI: अगर आपको यूटीआई की समस्या है, तो आप धनिया का उपयोग कर सकते हैं। धनिया इंफेक्शन को कम कर सकता है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jun 28, 2022Updated at: Jun 28, 2022
यूटीआई (UTI) की समस्या होने पर इस्तेमाल करें धनिया, मिलेगी राहत

Coriander for Urinary Tract Infection: धनिया का उपयोग हर भारतीय घर में किया जाता है। कुछ लोग धनिया का तड़का लगाते हैं, तो कुछ लोग धनिया की पत्तियों से खाने की गार्निशिंग करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं धनिया सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। धनिया में  एंटीसेप्टिक, एंटीफंगल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं।  ये गुण आपको बैक्टीरिया और वायरस से बचाते हैं। इतना ही नहीं धनिया का उपयोग यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (मूत्रमार्ग में संक्रमण) को दूर करने में भी मदद कर सकता है।

coriander for UTI

यूटीआई के लिए धनिया (Coriander Benefits for UTI in Hindi) 

यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन यानी यूटीआई महिलाओं में होने वाली एक आम समस्या है। इस दौरान महिलाओं को पेशाब में जलन और दर्द महसूस हो  सकता है। यूटीआई इंफेक्शन ई-कोलाई बैक्टीरिया के कारण  होता है। वैसे तो यूटीआई का इलाज उपलब्ध है, लेकिन आप चाहें तो घरेलू उपाय (uti home remedies in hindi) से भी इसके लक्षणों में कमी कर सकते हैं। धनिया के बीज यूटीआई को कम करने में असरदार हो  सकते हैं।

  • धनिया मूत्र पथ के संक्रमण के इलाज के लिए प्रभावी होता है। दरअसल, धनिया मूत्र के उत्पादन को बढ़ाता है। यह किडनी की सफाई करने में भी मदद करता है। 
  • धनिया के सेवन से शरीर से विषाक्त पदार्थों और रोगाणुओं को बाहर निकालने में मदद मिलती है। इससे यूरिनरी ट्रैक्ट (मूत्र मार्ग) की सफाई होती है और संक्रमण दूर हो सकता है।
  • आयुर्वेद के अनुसार धनिया की तासीर ठंडी होती है, यह शरीर को ठंडा रखता है। इससे यूटीआई में पेशाब करते समय होने वाली जलन शांत होती है। 
  • इसके अलावा धनिया में  फोटोकेमिकल्स भी होते हैं, जो यूटीआई को रोकते हैं। 

यूटीआई के लिए धनिया का उपयोग (How to Use Coriander For UTI)

यूटीआई का इलाज करने के लिए आप धनिया  की पत्तियों,  बीजों और पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। धनिया को खाने से यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन को ठीक किया जा सकता है। आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक की डायटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से जानें यूटीआई में धनिया का उपयोग कैसे करें-

coriander water for UTI

धनिया का पानी (Is Coriander Water Good for UTI?)

यूटीआई का इलाज करने के लिए आप धनिया का पानी पी सकते हैं। इसके लिए आप रातभर धनिया के बीजों को एक गिलास पानी में डाल दें। सुबह उठकर इस पानी को छानकर पी लें। इसके अलावा आप चाहें तो धनिया की पत्तियों को भी पानी में डालकर पी सकते हैं। 

धनिया की चाय (Coriander Tea)

धनिया की चाय यूटीआई का इलाज कर  सकती है। इसके लिए आप एक गिलास पानी में धनिया के बीजों को उबाल लें। जब आधा रह जाए, तो इसे छानकर पी लें। इस हर्बल टी को पीकर आपको यूटीआई की वजह से पेशाब में होने वाली जलन, खुजली से राहत मिलेगी।

इसे भी पढ़ें- आंखों के नीचे हो गए हैं डार्क सर्कल्स, तो इन 5 तरीकों से लगाएं एलोवेरा

धनिया का जूस (Coriander Juice)

धनिया के बीज ही नहीं इसकी पत्तियां भी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन का इलाज करने में कारगर हो सकती हैं। इसके लिए आप धनिया की पत्तियों का जूस बनाकर पी सकते हैं। आप धनिया की  ताजी पत्तियां लें। इन्हें पानी में ग्राइंड कर लें और इस जूस को छानकर पी लें। रोज सुबह खाली पेट धनिया का जूस पीने से यूटीई से काफी आराम मिल सकता है। आप चाहें तो इसके साथ पुदीने की पत्तियां भी मिला सकते हैं। 

अगर आप भी यूटीआई का इलाज घरेलू उपायों से करना चाहते हैं, तो धनिया का उपयोग कर सकते हैं। लेकिन अगर 2-4 दिनों में कोई फर्क न पड़े, तो तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करें। साथ ही अगर बार-बार पेशाब में जलन, दर्द रहता है, तो इस स्थिति को नजरअंदाज भी न करें। 

Disclaimer