स्ट्रेच मार्क्स को पड़ने से रोकने के लिए 7 घरेलू नुस्खे बता रही हैं एक्सपर्ट

निशानों को पढ़ने से रोकने के लिए क्या करें और पढ़ने के दौरान कौन-कौन से घरेलू उपचार आपके काम आ सकते हैं। जानें एक्सपर्ट से...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Nov 04, 2020Updated at: Nov 04, 2020
स्ट्रेच मार्क्स को पड़ने से रोकने के लिए 7 घरेलू नुस्खे बता रही हैं एक्सपर्ट

स्ट्रेच मार्क्स यानी त्वचा के फैलने और सुकड़ने से पड़ने वाले निशान। सवाल यह है कि आखिर क्यों पड़ते हैं यह निशान? बता दें कि निशान के पड़ने के पीछे प्रेगनेंसी है। त्वचा दो हिस्सों में बटी है। चूंकि गर्भावस्था में वजन बढ़ता है इसीलिए त्वचा की बाहरी परत खींच जाती है। और जो अंदर की त्वचा होती है वह इस खिंचाव को लंबे समय तक नहीं संभाल पाती, जिसके कारण अंदर के टिशूज टूटने लगते हैं। यही कारण होता है कि इसके कारण त्वचा पर लकीरें दिखाई देनी शुरू हो जाती है, जिसे स्ट्रेच मार्क का नाम दिया जाता है। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे कि इन निशानों को पढ़ने से रोकने के लिए क्या करें और पढ़ने के दौरान कौन-कौन से घरेलू उपचार आपके काम आ सकते हैं। पढ़ते हैं आगे....

 Stretch Marks

निशान पड़ने से रोकने के लिए इन बातों का रखें ध्यान-

  • गर्भावस्था में कपड़ों की फिटिंग पर ध्यान दें कि पेट के निचले हिस्से के पास कसे कपड़े पहनने की भूल ना करें। ढीले-ढीले सूती वस्त्र पहनें।
  • पानी की कमी से भी निशान पड़ते हैं। इसलिए अगर आप शरीर को हाइड्रेट रखेंगे तो इन निशानों का सामना नहीं करना पड़ेगा। ऐसे में खूब पानी पिएं, जिससे त्वचा की नमी बनी रहे।
  • अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखें। अपनी डाइट में प्रोटीन विटामिन सी को जरूर जोड़ें। इसके अलावा जिंक, विटामिन ए, सी और फैटी एसिड आदि को शामिल करें।
  • व्यायाम को अपनी दिनचर्या में जोड़ें।
  • हरी सब्जियों का सेवन करें। बता दें कि हरी सब्जियों में प्रचुर मात्रा में आयरन पाया जाता है। यह निशानों को पढ़ने से रोकता है।
  • आप अपनी डाइट में सोया मिल्क, सेम, बींस, टोफू को भी जोड़ सकते हैं। इनकी मदद से शरीर में कॉलेजन का उत्पादन बढ़ाया जा सकता है।
  • अपने वजन को नियंत्रित रखें।

स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के लिए घरेलू उपाय

  • संतरे और नींबू के छिलके स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने में कारगर साबित हुए हैं। इसके लिए आप छिलकों को सुखाएं और बारीक पीस लें। अब दो चम्मच पिसे हुए मिश्रण में एक चम्मच बादाम के पाउडर गुलाबजल की बूंदे मिला लें। जो पेस्ट तैयार होगा उस पेस्ट को 15 मिनट तक अपने निशाने पर लगाएं। फिर धो लें।
  • इस स्क्रब की मदद से भी निशान मिटाए जा सकते हैं इसके लिए आप अखरोट या खूबानी का स्क्रब इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • अपने निशाने पर अगर आप 10 बूंद मेहंदी और दो चम्मच बादाम का तेल मिलाकर लगाएं तब भी निशान कम होने शुरू हो जाएंगे
  • 5 बूंद लेवेंडर तेल, 3 चम्मच जोजोबा और 10 बूंदे पंचौली को मिलाकर एक पेस्ट बनाएं और 15 मिनट तक मालिश करें।
  • अगर आप लेवेंडर तेल के साथ खूबानी यानी एप्रीकॉट को मिलाते हैं और मालिश करते हैं तब भी निशान कम हो सकते हैं।
  • बदाम तेल, निशान को दूर करने के लिए बेहद कारगर है। ऐसे में दो चम्मच बादाम तेल के साथ एक चम्मच वीट जर्म तेल मिलाएं। इसके बाद 5 बूंदे मेहंदी ऑयल की डालें और इसे कम से कम 15 से 20 मिनट तक लगाएं फायदा मिलेगा।
  • जैतून का तेल भी निशान मिटाने में बेहद कारगर है। इसके लिए आपको जैतून के तेल की कुछ बूंदें मिलानी है। लेवेंडर तेल के साथ मालिश करें फायदे होगा।
  • विटामिन सी युक्त पोषक को डाइट में शामिल जरूर करें। इसके अलावा विटामिन ई युक्त तेल की मालिश पेट के निचले हिस्से पर करने से भी निशान दूर हो जाते हैं।

इसे भी पढ़ें- कितना जानते हैं आप अंदरूनी हिस्से की स्वास्थ्य सुरक्षा के बारे में, कम उम्र से ही अपनाएं साफ सफाई की सही आदतें

(ये लेख अकाश हेल्थकेयर की डर्मेटोलॉजिस्ट डॉक्टर पूजा चौपड़ा से बातचीत पर आधारित है।)

Read More Articles on women Health in Hindi

Disclaimer