हार्ट की बीमारी में शरीर सबसे पहले देता है ये 5 संकेत, सावधानी बरतेंगे तो कम कर सकते हैं खतरा

हार्ट की बीमारी में बॉडी कई तरह के संकेत देती है, ऐसे ही 5 संकेतों पर गौर करेंगे तो द‍िल को बीमार होने से रोक सकते हैं 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Apr 29, 2021Updated at: Apr 29, 2021
हार्ट की बीमारी में शरीर सबसे पहले देता है ये 5 संकेत, सावधानी बरतेंगे तो कम कर सकते हैं खतरा

हार्ट की बीमारी के लक्षण क्‍या हैं? हम सब जानते हैं क‍ि हॉर्ट ड‍िसीज का पहला लक्षण द‍िल में दर्द होता है। लेक‍िन हॉर्ट पेन के अलावा और भी कई ऐसे लक्षण हैं जो हॉर्ट की बीमारी की ओर संकेत करते हैं। आज ऐसे ही 5 संकेतों के बारे में बात करेंगे ज‍िन्‍हें पहचानकर आप अपना इलाज जल्‍दी शुरू करवा सकते हैं। अगर आपको कसरत या चलते समय अचानक से चेस्‍ट में पेन हो या थकान लगने लगे तो ये भी द‍िल की बीमारी के लक्षण हो सकते हैं। अगर आपको हॉर्ट में अक्‍सर पल्‍पटेशन महसूस होती है तो भी आपको कार्ड‍ियोलॉज‍िस्‍ट को द‍िखाना चाह‍िए। सांस लेने में परेशानी, बॉडी में सूजन, गले या जबड़े में सूजन ये सभी द‍िल की बीमारी के लक्षण हो सकते हैं। हॉर्ट की बीमारी से बचने के ल‍िए आपको सही डाइट, कसरत, स्‍लीप साइक‍ल पर ध्‍यान देने की जरूरत है।  ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के पल्‍स हॉर्ट सेंटर के कॉर्ड‍ियोलॉज‍िस्‍ट डॉ अभ‍िषेक शुक्‍ला से बात की। 

heart diseases

1. कसरत या वॉक‍ करते समय छाती में दर्द और थकान (Pain in  chest and fatigue During Exercise or Walk)

आपको कसरत करते समय भी ध्‍यान देना है क्‍योंक‍ि इस समय सांस तेज चलती है आप आसानी से हॉर्ट ड‍िसीज के लक्षण पकड़ सकते हैं। अगर रन‍िंग या कसरत के दौरान चेस्‍ट में तेज दर्द उठता है तो भी आपको डॉक्‍टर से सलाह लेने की जरूरत पड़ सकती है। अगर छाती में दर्द के साथ बहुत अध‍िक थकान होती है और पांच म‍िनट में ठीक न हो तो तुरंत डॉक्‍टर के पास जाकर चेकअप करवाएं। 

2. हार्ट पल्‍पटेशन (Heart Palpitation)

अगर आपको हॉर्ट में पल्‍पटेशन महसूस हो तो आपको हॉर्ट ड‍िसीज का खतरा हो सकता है। अगर आपको लगता है क‍ि आपका द‍िल अचानक ही बहुत तेज या अन‍ियम‍ित तरीके से धड़क रहा है तो आपको ब‍िना देरी क‍िए डॉक्‍टर के पास जाना चाह‍िए। हॉर्ट पल्‍पटेशन का एक कारण कैफीन, एल्‍कोहॉल का सेवन और स्‍ट्रेस भी है। 

इसे भी पढ़ें- द‍िल के मरीज हैं तो डाइट पर करें गौर, जानें हेल्दी फूड्स और जरूरी पोषक तत्‍व ज‍िनसे हेल्‍दी रहेगा हार्ट

3. गले या जबड़े में दर्द (Throat or Jaw Pain)

अगर आपके हॉर्ट के अलावा आपके गले या जबड़े में दर्द है तो भी आपको हॉर्ट ड‍िसीज का खतरा हो सकता है। द‍िल की बीमारी में गले, जबड़े में दर्द, थकान, हॉर्टबीट का अन‍ियम‍ित होना कॉमन लक्षण हैं, इन पर ध्‍यान दें। 

4. सांस लेने में कठ‍िनाई (Shortness of Breath)

heart pulptation

अगर आपको नॉर्मल द‍िनचर्या के काम करने में परेशानी हो रही है तो ये द‍िल की बीमारी के लक्षण हो सकते हैं। सीढ़ी चढ़ने या चलने में अगर आपकी सांस फूलती है तो सावधान हो जाएं। कुछ लोग सांस फूलने को वजन बढ़ने से जोड़ते हैं पर ये हॉर्ट ड‍िसीज का लक्षण हो सकता है।  

5. सूजन (Swelling)

हॉर्ट ड‍िसीज होने का एक लक्षण सूजन भी हो सकता है। कुछ मरीज पैर में या बॉडी के अन्‍य ह‍िस्‍से में सूजन की श‍िकायत करते हैं। अगर आपको हॉर्ट में पेन के साथ बॉडी या पैर में सूजन भी है तो डॉक्‍टर को द‍िखाएं। ये हॉर्ट ड‍िसीज के लक्षण हो सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- दिल का दौरा पड़ने से बचा सकते हैं ये 7 आसान टिप्स, जानें इन्हें फॉलो करने का तरीका

द‍िल को बीमार‍ियों से कैसे बचाएं? (Prevention tips from Heart Disease)

  • अगर आपको हॉर्ट को हेल्‍दी रखना है तो आपको अपनी बॉडी में मौजूद कई लेवल को चेक करते रहना होगा जैसे- बॉडी मास इंडेक्‍स नंबर, ब्‍लड प्रेशर, कोलेस्‍ट्रॉल लेवल, शुगर लेवल आद‍ि। क्‍योंक‍ि इन सब लेवल के फ्लकच्‍युएट होने से द‍िल पर असर पड़ता है।
  • आपको हर द‍िन कम से कम 40 म‍िनट वॉक करना चाह‍िए। हेल्‍दी हॉर्ट के ल‍िए ये एक आसान ट‍िप है।
  • हेल्‍दी हॉर्ट के ल‍िए कैफीन, एल्‍कोहॉल का सेवन ब‍िल्‍कुल भी न करें, इससे हॉर्ट रेट फ्लकच्‍युएट हो सकता है।
  • अगर आपको स्‍ट्रेस है तो भी आप अपने हॉर्ट को बीमार कर रहे हैं इसल‍िए हेल्‍दी हॉर्ट के ल‍िए टेंशन न लें, मेड‍िटेशन इसमें आपकी मदद करेगा।
  • हॉर्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए आप पर्याप्‍त नींद लें, हेल्‍दी हॉर्ट के ल‍िए आपको हर द‍िन 7 से 8 घंटे सोना चाह‍िए। 

इन आसान ट‍िप्‍स को फॉलो करके आप अपने द‍िल को बीमार‍ियों से दूर रख सकते हैं। 

Read  more on Heart Health in Hindi 

Disclaimer