इन 5 अंगों पर सबसे पहले दिखना शुरू होते हैं बुढ़ापे के लक्षण, जानें कैसे रोक सकते हैं अपनी एजिंग

शरीर के कुछ अंगों पर आपकी उम्र का असर जल्दी दिखने लगता है। जानें एजिंग के आम कारण और इसे रोकने के आसान तरीके।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jan 16, 2020Updated at: Jan 16, 2020
इन 5 अंगों पर सबसे पहले दिखना शुरू होते हैं बुढ़ापे के लक्षण, जानें कैसे रोक सकते हैं अपनी एजिंग

उम्र के साथ हमारे शरीर पर कुछ ऐसे लक्षण दिखाई देते हैं, जो बुढ़ापे का इशारा होते हैं। मगर कई बार तनाव, गलत खानपान, पर्यावरण और हार्मोन्स की गड़बड़ी के कारण आप उम्र से पहले ही बूढ़े नजर आने लगते हैं। आपके शरीर के कुछ अंगों की एजिंग तेज होती है, इसलिए इनपर उम्र के लक्षण जल्दी दिखने लगते हैं। इनकी अपेक्षा कुछ अंग जैसे- हृदय और मस्तिष्क खुद को रिपेयर करते रहते हैं, इसलिए ये देर से बूढ़े होते हैं। आज हम आपको बता रहे हैं कि आपके किन अंगों पर एजिंग के लक्षण सबसे पहले दिखना शुरू होते हैं और आप इन्हें कैसे रोक सकते हैं।

सीने और ब्रेस्ट

शोध बताते हैं कि हिलाओं के ब्रेस्ट और पुरुषों के सीने के हिस्से की बायलॉजिकल उम्र उनके शरीर के दूसरे हिस्सों के मुकाबले 2-3 साल ज्यादा पुरानी होती है। इसलिए महिलाओं में बुढ़ापे के लक्षण सबसे पहले ब्रेस्ट (स्तनों) पर दिखना शुरू होते हैं। एजिंग के कारण स्तन ढीले और थुलथुले नजर आने लगते हैं। मोटी महिलाओं में अनावश्यक चर्बी के कारण ये समस्या और भी जल्दी दिखना शुरू हो जाती है।

इसे भी पढ़ें: जानें क्या है एंटी-एजिंग प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने की सही उम्र, किन बातों का रखें ध्यान

आंखों के आसपास का हिस्सा

25-30 की उम्र के बाद आपकी आंखों के आसपास की त्वचा में बदलाव आने लगता है। 35-40 की उम्र आने तक आईलिड की त्वचा अपना लचीलापन खो देती है और ढीली-ढाली नजर आने लगती है। यही वो सबसे पहला लक्षण है, जिसे चेहरा देखकर पहचाना जा सकता है। इसके कारण आप बूढ़े और थके हुए नजर आते है। आंखों के आसपास की एजिंग तब और ज्यादा बढ़ती है, जब आप नींद सही नहीं लेते हैं या खानपान गलत रखते हैं। इसलिए-

  • रोजाना 7-9 घंटे की नींद जरूर लें।
  • रोजाना 3 लीटर से ज्यादा पानी पिएं।
  • सुबह उठकर मुंह और आंखों पर ठंडे पानी के छींटे मारें।

चेहरे और गालों पर


चेहरे के दूसरे हिस्सों में भी एजिंग के लक्षण अन्य अंगों की अपेक्षा जल्दी दिखने लगते हैं। झुर्रियां, फाइन लाइन्स, दाग धब्बे आदि इसका पहला संकेत हैं। इसके अलावा बातचीत करते हुए एक्सप्रेशन्स के दौरान आपकी त्वचा के ढीलेपन के कारण त्वचा का फोल्ड होना भी बढ़ती उम्र का एक बड़ा लक्षण है। इसे रोकने के लिए जरूरी है कि आप-

  • रोजाना सुबह और शाम मॉइश्चराइजर का प्रयोग जरूर करें।
  • सप्ताह में एक बार त्वचा के डेड सेल्स (डेड स्किन सेल्स) को स्क्रब की मदद से निकालें।
  • अपना खानपान अच्छा रखें। खाने में विटामिन सी और विटामिन ई वाले आहार जरूर लें।

गर्दन

गर्दन की त्वचा आपके चेहरे से ज्यादा पतली होती है। इसलिए गर्दन पर भी बुढ़ापे के लक्षण जल्दी नजर आने लगते हैं। गर्दन की त्वचा का लटकना, ठुड्डी की त्वचा का ढीलापन आदि आपकी एजिंग के बताने के लिए काफी हैं। इन्हें रोकने के लिए आप कई तरह की फेशियल एक्सरसाइज कर सकते हैं, जिससे आपकी त्वचा का लचीलापन बना रहे। इसके अलावा खुद को हाइड्रेट रखकर भी आप उम्र के प्रभाव को रोक सकती हैं।

हाथ

हाथों पर उम्र के लक्षण चेहरे की अपेक्षा बाद में दिखना शुरू होते हैं। मगर कई बार जब आप कोई ऐसा काम करते हैं, जिसमें आप हाथों का बहुत ज्यादा प्रयोग कर रहे हैं, तो आपके हाथ भी आपकी उम्र जल्दी बताने लगते हैं। ज्यादा प्रयोग करने से हाथ की त्वचा का लचीलापन चला जाता है, जबकि हथेलियां सख्त हो जाती हैं और इनमें दरारें नजर आने लगती हैं। हाथों की एजिंग का एक बड़ा कारण धूप की अल्ट्रावायलेट किरणें हैं। इसलिए आप हर मौसम में हाथों में सनस्क्रीन का प्रयोग जरूर करें और पानी खूब पिएं, जिससे त्वचा हाइड्रेट रहे।

Read more articles on Skin Care in Hindi

Disclaimer