उच्‍च रक्‍तचाप में नियमित इन चीजों से करें बचाव

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 24, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • उच्‍च रक्‍तचाप में धमनियों में रक्‍त का दबाव बढ़ जाता है।
  • ब्लड प्रेशर के बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है, अधिक नमक।
  • एक्सरसाइज की कमी से ब्लड प्रेशर की बीमारी जल्‍दी होती है।
  • धूम्रपान कठोर धमनियां रक्त वाहिकाओं को नुकसान करती है।

उच्‍च रक्‍तचाप एक को अगर नजरअंदाज किया जाये तो यह और भी गंभीर समस्‍या हो सकता है। उच्‍च रक्‍तचाप में धमनियों में रक्‍त का दबाव बढ़ जाता है। दबाव के कारण धमनियों में रक्‍त प्रवाह सुचारू बनाये रखने के लिए दिल को अधिक काम करना पड़ता है। वैसे तो हाई ब्‍लड प्रेशर के कई कारण होते हैं लेकिन इसके लिए जिम्‍मेदार प्रमुख कारणों में तनाव और अनहेल्‍दी आदतें शामिल हैं। इसलिए उच्‍च रक्‍तचाप की समस्‍या होने पर इसके प्रबंधन और नियंत्रण के लिए क्‍या करें और क्‍या करने से बचें, इस बात को जानना बहुत जरूरी है।

high blood pressure in hindi

नमक का अधिक सेवन

ब्लड प्रेशर के बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है, अधिक मात्रा में नमक का सेवन। सोडियम की अधिक मात्रा शरीर में पानी भर देती है जिससे हाइ ब्‍लड प्रेशर होने की समस्‍या और पैदा हो जाती है। जो लोग पहले से ही हाइ ब्‍लड प्रेशर के शिकार हैं, उन्‍हें नमक का प्रयोग डाइट में कम करना चाहिये। अचार, नमकीन, सलाद में नमक, पकौड़ा आदि खाने से बचें।

 

प्रसंस्‍कृत आहार का सेवन

लाल मीट, चीनी युक्‍त मीठ्ठे पेय पदार्थ, प्रसंस्‍कृत आहार से भी ब्‍लड प्रेशर हाई होने लगता है। इसलिए इस समस्‍या से बचने के लिए हमें एक स्‍वस्‍थ डाइट लेनी चाहिए।
जब एक स्‍वस्‍थ और सही डाइट लेने की बात आती है तो वह डाइट फल, सब्जियों, साबुत अनाज और लो डेयरी प्रोडक्‍ड से भरपूर होनी चाहिए। साथ ही अपने आहार में मीट, मछली, नट्स और सेम को शामिल करें। हालांकि ऐसी डाइट लेना हर किसी के लिए संभव नहीं है लेकिन हाई ब्‍लड प्रेशर को कम करने के लिए इसे लिए जरूरी होता है।

processed food in hindi

तनाव में रहना  

तनाव में रहने से भी आपका बीपी बढ़ने लगता है। तनाव आपकी सेहत का सबसे बड़ा दुश्मन है। अक्सर लोग पहचान नहीं पाते कि उनकी शारीरिक समस्याओं का कारण तनाव ही है। इसलिए बेकार का तनाव लेना बंद करें। रोज सुबह वर्कआउट, मेडिटेशन और कुछ ऐसे काम करने में मन लगाएं जिससे आपको खुशी मिलती हो।

 

व्‍यायाम की कमी

अक्‍सर लोग आलस के कारण अपनी दिनचर्या में व्‍यायाम को शामिल नहीं करते। लेकिन जो लोग एक्सरसाइज नहीं करते हैं उन्‍हें हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी जल्‍दी होती है। मोटे लोगों के दिल पर ज्‍यादा प्रेशर पड़ता है और हार्ट ब्‍लॉकेज ज्‍यादा प्रतिशत में होता है। केवल दवाइयां खा कर कुर्सी पर बैठे रहने से हाई ब्लड प्रेशर नहीं ठीक हो सकता।

smoking in hindi

धूम्रपान की आदत

धूम्रपान करने से ब्‍लड प्रेशर बहुत तेजी के साथ बढ़ता है। जिससे धमनियां कठोर बन जाती हैं और वह रक्त वाहिकाओं को चोट पहुंचाती हैं। अगर आप धूम्रपान करते हैं तो इससे दूरी जरूर बना लें, अन्यथा आपको ये समस्या बहुत जल्दी होने का जोखिम रहेगा।

इन सब चीजों के कारण ब्‍लड प्रेशर का स्‍तर बढ़ने लगता है। इसलिए अगर आपको स्‍वस्‍थ और ब्‍लड प्रेशर को नियंत्रण में रखना है तो अपनी दिनचर्या से इन चीजों को दूर करने की कोशिश करें।


Image Source : Getty

Read More Artilces on High Blood Pressure in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES22 Votes 3447 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर