छः साल का 'बैट बॉय' जो बिना आंखों के भी देख सकता है दुनिया

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 23, 2015
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • 'बैट बॉय' मेसन बिना आंखों के देख सकता है दुनिया।
  • चमकादड़ की तकनीक करते हैं देखने के लिये इस्तेमाल।
  • ईकोलोकशन एक्सपर्ट डेनियल किश ने सिखाया यह गुर।
  • डेनियल खुद 13 महीने की उम्र से ही नेत्रहीन हैं।

क्या अपने कभी सुना है कि कोई नेत्रहीन इंसान भी दुनिया देख सकता है। जी हां छः साल का नेत्रहिन मगर गुणवान मेसन द्ज़ोरा (Mason Dzora)  चमकादड़ की नेविगेट करने शिकार करने के गुर की ही तरह इस तकनीक को देखने के लिये इस्तेमाल कर सकता है। तो चलिये मिलें बैट बॉय मेसन से जो देखने के लिये ध्वनि का इस्तेमाल करना सीख रहा है।

मेसन ने इकोलोकेशन (echolocation) का प्रशिक्षण लिया (इकोलोकेशन वही तकनिक है जिसका इस्तेमाल चमकादड़ रात के अंधेरे में शिकार करने के लिये करते हैं।) मेसन को अपने ही क्लिक की ध्वनि का उपयोग करना सिखाया गया है, बिल्कुल वैसे ही जबकि हम किसी खाली कमरे में घुसते समय ईको को महसूस करते हैं।

 

Blind Bat Boy in Hindi

 

नेत्रहीन पैदा हुआ था मेसन

छः साल का मेसन ग्रेटब्रिटेन का चौथ ऐसा बच्चा है जिसे अमेरिकन ईकोलोकशन एक्सपर्ट डेनियल किश की आर्गेनाईजेशन द्वारा यह तकनीक सिखाई गयी है। डेनियल की मां 44 वर्षीय लॉरेन कहती हैं, "यह देखपाना वाकई आश्चर्यजनक है कि इतने कम समय में मेसन इतना कुछ सीख पाया। उसका भविष्य सच में काफी सुनहरा होगा।" डेनियल ने मेसन को जांचने के लिये उसके चारों और प्लेटें रखीं और मेसन ने उन सभी को ढूंढ लिया। ये वाकई कमाल का था। मेसन गर्भावस्था के समय होने वाले अंधेपन (Leber's congenital amaurosis) की वजह से नेत्रहीन पैदा हुआ था, जोकि एक वंशागत बीमारी है और माता-पिता दोनों के एक दोषपूर्ण जीन के कारण होती है। मेसन के ड्राइवर पिता मार्क और मां लॉरेन को जब यह प ता चला तो मेसन आठ महीने का था, वे यह सुनकर पूरा तरह टूट गए थे।    

मेसन की मां लॉरेन कहती हैं कि, "मैने इसके बारे में गूगल पर सर्च करना शुरू किया तो इ स रोग के बाद की स्थिति के बारे में काफी डारावनी जानकारियां मिलीं।"


मेसन शेफील्ड में मौजूद नेत्रहीनों के स्कूल में जाने लगा, जोकि बाद में पैसों की तंगी के चलते बंद हो गया। इसके बाद मेसन विरपूल के स्कूल में जाने लगा। मेसन के माता पिता को डेनियल की तकनीक के बारे में तब पता चला जब मेसन के विसुअल इम्पैर्मेंट टीचर ने उन्हें इसके बारे में बताया। इसके बाद मेसन ने डेनियल से यह तकनाक सीखना शुरू किया और तीन महिने के बाद पहली बार खुद से मेसर बॉक के लिये बाहर गया। उसकी प्रेक्टिस के लिये डेनियल ने रास्ते में कुछ अवरोध भी लगाए। डेनियल ने मेसन की इस तकनिक के चलते उसका नाम बेटमैन रखा। क्योंकि डेनियल क्लिक की आवाज़ निकलकर आसपास के वातावरण की जांच तकते हुए चलता था।   


जब डेनियल से पूछा गया कि क्या यह तकनीक भीड़ में या फिर रोड़ पर साइकिल चलाते समय काम करती है, तो डेनियल कहते हैं कि कार का अंदाज़ा आराम से लगाया जा सकता है, क्योंकि वे ध्वनि को बेहतर तरीके से वापस भेजती हैं। डेनियल खुद 13 महीने की उम्र से नेत्रहीन हैं। उन्हें अपनी दोनों आंखे निकलवानी पड़ी थीं, क्योंकि वे रेटिनोब्लास्टोमा (retinoblastoma) नामक आंखों के कैंसर से पीड़ित पैदा हुए थे।



Image Source - Getty Images

Read More Articles On Medical Miricles In Hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES2 Votes 2473 Views 0 Comment