आई फ्लू के लक्षण और प्रकार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 15, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • आई-फ्लू आर्द्रता भरे मौसम की सामान्‍य बीमारी है।
  • आई-फ्लू फैलाने वाले वायरस तेजी से फैलते हैं।
  • आई-फ्लू में आंखे गुलाबी और सूज जाती हैं।
  • कई बार आंख में मवाद भी उत्पन्न हो जाता है।

आई-फ्लू आर्द्रता भरे मौसम के दौरान आंखों में होने वाली सामान्‍य बीमारी है। यह एक संक्रमित बीमारी है जिसे आम बोलचाल की भाषा में आंख आना भी कहते हैं। जानकार मानते हैं आर्द्र मौसम वायरस के फैलने के लिए मुफीद मौसम होता है। ऐसे में इस रोग से ग्रसित होने वाले व्‍यक्तियों की संख्‍या में इजाफा होता है। सर गंगाराम अस्पताल के नेत्र विज्ञान विभाग के वरिष्ठ परामर्शदाता, डा. हरबंश लाल कहते हैं कि यह मौसम आई-फ्लू फैलाने वाले वायरस तेजी से फैलते हैं।

Eye flu


लोग इस मामले में स्वयं के उपचार को अन्देखा करते हैं। उनका वायरल कंजक्‍टिवाइटिस (Eye Chemosis) से पीड़ित होने की वजह एक मरीज की स्थिति तीव्र या क्रोनिक(पुरानी बिमारी) पर निर्भर करता है कि इस स्थिति को हुए कितना समय हो गया है।

गुलाबी आखं के विभिन्न प्रकारो के बारे में कुछ तथ्‍य


बैक्टीरियल कंजक्‍टिवाइटिस

बैक्टीरियल कंजक्‍टिवाइटिस में, वहां नेत्रश्लेषमा या पारदर्शी झिल्ली के तीव्र सूजन जो आंख के उपरी सतह का एक रूप है। यह पायोजेनिक बेक्‍टीरिया  के कारण उत्पन्न होता है जो आंख में मवाद के उत्पन्न होने की विशेषता के लिए जाना जाता है।

बैक्टीरियल कंजक्‍टिवाइटिस के लक्षणः

•    आंखो में ग्रीटीनेस या कुकुरापन।

•    खुरदुरापन महसूस होना।

•    संक्रमित आंख के आसपास पपङा आना।

•    पीलापन, भूरा और कभी कभी आंखो से स्राव होने पर हरापन होना


वायरल कंजक्‍टिवाइटिस (Eye Chemosis)

वायरल कंजक्टिवाइटिस के लिए ऊष्मायन अवधि केवल एक दिन या दो दिन की ही होती है। हालांकि कई बार यह एक महामारी की तरह फैल सकता है। इसके साथ आम जुकाम या सर्दी और अदेनोविरुस नामक वायरस के कारण जुङे होते है।

वायरल कंजक्टिवाइटिस के लक्षण

•    आंखो का लाल होना

•    पानी बहना

•    कंजक्टिवा में सूजन।

•    प्रकाश में संवेदनशीलता

•    लिम्फ नोड में सूजन

•    आमतौर पर एक आंख प्रभावित होती है


तीव्र रक्तस्रावी कंजक्‍टिवाइटिस

एक तेजी से शुरू हुआ दर्द कंजक्‍टिवाइटिस  के द्वारा, तीव्र रक्तस्रावी कंजक्‍टिवाइटिस (एसीएच) एक संसर्ग से फैलने वाला वायरल संक्रमण है। मुख्य कारण में एसीएच के दो वायरस नामक, एन्ट्रोवायरस 70 और  ओक्ष्सक्किएविरुस ए 24  है।

तीव्र रक्तस्रावी कंजक्‍टिवाइटिस के लक्षण

•    पलकों का सूजना

•    लम्फि मोड में वृद्धि

•    नेत्र श्लेष्मा का रक्तस्राव

•    सूजन आंखो के लाल होने के द्वारा शायद सूजन के साथ नही हो सकती है.


 एलर्जी कंजक्टिवाइटिस

एलर्जी कंजक्टिवाइटिस ऐन्टिजन (प्रतिजन) द्वारा जैसे कि धूल, पराग या सौंदर्य प्रसाधन के कारण होता है। उनमें मुख्य रूप से जो एलर्जी रोगो के लक्षण प्रकट करते है जैसे अस्थमा, बुखार में एलर्जी नेत्रश्लेष्माशोथ संक्रमण में प्रवृत है।

एलर्जी कंजक्टिवाइटिस के लक्षण

•    आंखो में अधिक खुजली होना

•    आंखो से अत्यधिक पानी का बहना

•    आंखो से स्राव

•    पलको पर पपङी आना

•    आंखो का सूजना

•    आंखो से धुंधला दिखाई देना

•    आमतौर पर यह दोनो आंखो को प्रभावित करते है।

डॉ. लाल सलाह देते है कि स्वयं दवा के प्रयोग के लिए स्टेरॉयड आधारित आई ड्रॉप से परहेज किया जाना चाहिए। हालांकि, एंटीबायोटिक का उपयोग करे जो संक्रमण और लूब्रकंट आई ड्रॉप से आंखो की देखभाल करनी चाहिए जो आंखो पर एक आरामदायक प्रभाव डालता है।

अतः, मन में उपरोक्त वर्णित तथ्यो को रखे और अवसर पर कटौती कर सकते है जिससे आपकी गुलाबी आंखे(आई फ्लू) ठीक हो सकती है।

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES5 Votes 13999 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर