पुरूषों के लिए शेविंग टिप्‍स

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 01, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • शेविंग करने के लिए सही रेजर का चुनाव निभाता है अहम भूमिका।
  • जलन और कट से बचने के लिए उल्टी दिशा में न करें शेविंग।
  • ग्लायकोलिक एसिड वाली शेविंग क्रीम का करें इस्तेमाल।
  • ऑफ्टर शेव और हल्के मॉइश्चराईज़र का प्रयोग करना जरूरी है।

शेविंग ज्‍यादातर पुरूषों की दिनचर्या के कामों में से एक होती है। शेविंग के दौरान चेहरे पर कट लगना पुरुषों के लिए बेहद आम समस्या है। कई बार शेविंग के दौरान लगने वाले छोटे कट भी त्वचा को संक्रमित कर देते हैं। शेविंग के दौरान अपनी त्‍वचा की सुरक्षा के लिए इन टिप्‍स को अपनाएं।

जरा सी गलती और चेहरा संवारने वाली शेव आपके चेहरे पर निशान छोड़ सकती है। आपको चाहिए कि शेव इस अंदाज से की जाए कि यह अनचाहे बालों को ही हटाये, आपकी त्‍वचा को नहीं।

 

shaving for men


लंबे स्ट्रोक्स लगाएं

शेविंग सही तरीके से करना भी बहुत जरूरी है। रेजर का इस्तेमाल करते वक्त ध्यान रखें कि इससे लंबे स्ट्रोक्स लगाएं जिससे ब्लेड पर दबाव कम होगा और शेविंग स्मूथ होगी। ब्लेड को अपना काम करने दें। अच्छी शेव के चक्कर में अक्सर लोग ब्लेड पर ज्यादा जोर देते हैं जिससे बाल ही नहीं, त्वचा भी कट जाती है।

 

जरा ध्यान से करें रेजर का चुनाव

शेविंग करते समय इनग्रोन हेयर्स के कारण कई कट् या रेजर बम्प लग जाते हैं। यदि शेविंग से आपकी त्वचा पर जलन होती है तो इसके लिये आपका रेजर कारण हो सकता है। इलेक्ट्रिक और मैनुअल दोनों मेल के रेजरों की अपनी खूबियां और खामियां होती हैं और इनको प्रयोग करने से पहले इनका मूल्यांकन अवश्य कर लेना चाहिये। मैनुअल रेजर से क्लोजर शेव बनती है। क्योंकि इसमें ब्लेड त्वचा के नजदीक पहुंचते हैं, जो त्वचा इरिटेशन की वजह बन सकते हैं। यदि आपको अक्सर रेजर बम्प होते हैं तो आप इलेक्ट्रिक रेजर का उपयोग कर सकते हैं जिससे क्लोज शेव तो नहीं मिलती, लेकिन यह जलन पैदा नहीं करता। हालांकि यह त्वचा को समान रूप से इरिटेट कर सकता है क्योंकि यह बालों को "खींचता" है। जो आपके लिये कारगर हो उसे इस्तेमाल करें।

 

पहले स्क्रब करें

ज्‍यादातर पुरुषों को स्‍क्रब करना पसंद नहीं होता। लेकिन, स्क्रबिंग के बाद शेव करने पर त्वचा पर कट या खरोंच की आशंका कम हो जाती है। स्क्रबिंग से त्वचा से डेड सेल्स की परत निकल जाती है और त्वचा स्मूद हो जाती है। इससे शेव करना आसान हो जाता है।

 

शेविंग के पहले और बाद

आपकी शेविंग दिनचर्या में क्लीन्ज के लिये, प्री-शेव इस्तेमाल के लिये, शेविंग, टोनिंग और माइश्चराईजिंग के लिये बाजार में अनेक शेविंग प्रोडक्ट्स उपलब्ध हैं। शेविंग करने से होने वाली इरिटेशन से राहत पाने के लिये पहले फेश वॉश का इस्तेमाल करें। जिसके बाद प्री-शेव ऑयल का उपयोग करने से आपकी दाढ़ी सॉफ्ट होती है, और फेशियल त्वचा को सुरक्षा प्रदान करता है और क्लोज शेव मुमकिन हो पाती है। शेव करने के बाद ऑफ्टर केयर रूटीन में किसी ऑफ्टर शेव से टोन-अप करना और हल्के मॉइश्चराईज़र का प्रयोग करना ज़रूरी है। एल्कोहल वाले ऑफ्टर शेव से बचें। एलोवेरा युक्त लोशन या विटामिन ई युक्त सूदिंग ऑफ्टरशेव का इस्तेमाल करें ताकि इरिटेटेड त्वचा को राहत मिल सके।

shaving tips for men


ग्लायकोलिक एसिड वाली शेविंग क्रीम एक्सफॉलिएटिंग एजेंट की तरह काम करती है जो डेड त्वचा सेल्स को हटाकर मुलायम शेव मुमकिन बनाती है। बालों के उगने की दिशा में ही शेव करने की सिफारिश की जाती है। क्योंकि बालों के उगने की विपरीत दिशा में शेव करने से त्वचा इरिटेशन की समस्या हो सकती है। खासकर ऑयली त्वचा के लिये एल्कोहल फ्री टोनर या एस्ट्रिंजेंट का प्रयोग करें क्योंकि यह पीएच संतुलन पर असर किये बिना त्वचा रंध्रों को सिकोड़ती और त्वचा को मज़बूत करती है जिससे रिजुवेनेशन में मदद मिलती है।

 

त्वचा प्रॉब्लम जिसे पुरूष कमर के हिस्से में महसूस करते हैं यह बहुत अपसेट करने वाली होती है। कमर के हिस्से में रैश या जॉक इच में रेड इन्फ्लेमेशन के साथ खारिश हो सकती है। ऐसा उन पुरूषों के साथ आमतौर से होता है जिनको पसीना ज़्यादा आता है और एथलीट्स फुट उत्पन्न करने वाली फंगस ही जॉक इच की वजह भी बनती है। आप सामान्य हाइजीन का ख्याल रखकर जॉक इच की रोकथाम कर सकते हैं जिसमें शामिल है रोजाना स्नान करना, अपने इनर्स को जल्दी-जल्दी बदलना यदि आपको ज़्यादा पसीना आता है और कमर के हिस्से को सूखा रखना। अपने पर्सनल्स किसी अन्य के साथ शेयर मत करें और ब्रीदेबल फैब्रिक्स पहनें। कोई ओवर-दि-काउंटर एन्टि-फंगल दवा कारगर हो सकती है।

 

Read More Article on Skin Care in hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES43 Votes 21260 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर