ऑयली स्किन से निपटने के लिए आजमाएं ये घरेलू नुस्खे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 23, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • ऑयली त्‍वचा में मिट्टी और मैल जमा होता है।
  • ऑयल फ्री स्किन के लिए तनाव से दूर रहें।
  • घरेलू फेस पैक से ऑयली स्किन का करें इलाज।
  • पपीता, सेब और शहद ऑयली स्किन का उत्‍तम इलाज।

ऑयली स्किन महिलाओं की बड़ी समस्‍या है। कई महिलाओं को अपने चेहरे पर चमक दिखाई देती है, जो उनके मेकअप और मॉश्‍चराइजर को नुकसान पहुंचाती है। वक्‍त की कमी के चलते यह समस्‍या और ज्‍यादा बढ़ गई है। हमारे आहार में पोषण की कमी ने इस समस्‍या में इजाफा ही किया है। खुद को बचाने के लिए त्‍वचा अधिक मेहनत करती है और परिणामस्‍वरूप वह तेल का निर्माण करने लगती है।

 

ऑयली स्किन के नुकसान

ऑयली स्किन वाले लोगों को चेहरे पर चिपचिपाहट महसूस होती रहती है। शॉवर के फौरन बाद उनका चेहरा ऑयली और मैला लगने लगता है। ऑयली त्‍वचा मिट्टी और मैल को जल्‍दी पकड़ लेती है और साथ ही इससे आपका मेकअप भी बहुत जल्‍दी पिघल जाता है। ऑयली स्किन वाली महिलाओं को दिन में कई बार मेकअप लगाना पड़ता है। मैल और मिट्टी के जो कण त्‍वचा के साथ चिपक जाते हैं, वे आगे चलकर एक्‍ने और त्‍वचा संबंधी अन्‍य परेशानियों का कारण बनते हैं।

 

क्‍यों होती है ऑयली स्किन ?

अगर आप कायदे से हर ब्‍यूटी टिप्‍स का पालन कर रहे हैं। और इसके साथ ही आप स्किन के ऑयल प्रोडक्‍शन की संभावनाओं से बचने के सभी जरूरी प्रयास भी कर रहे हैं और इसके बाद भी अगर आपकी स्किन ऑयली है, तो इसके लिए आप अनुवांशिकता को उत्‍तरदायी ठहरा सकते हैं। जब ऑयली स्किन अनुवांशिकता के कारण हो, तो इस बात की पूरी संभावना है कि परिवार के हर सदस्‍य को ऑयली‍ स्किन की परेशानी होगी। परिवार के हर सदस्‍य में ऑयल निर्माण करने वाली ग्रंथियां ज्‍यादा होंगी।

 

स्किन केयर उत्‍पादों का अधिक इस्‍तेमाल

शानदार चमकदार त्‍वचा पाने की चाह में कई लोग क्‍लींजर, एक्‍फोलिएट और स्‍क्रब का जरूरत से ज्‍यादा इस्‍तेमाल करती हैं। इससे रोम छिद्रों पर बेकार का दबाव पड़ता है, जो आगे चलकर ऑयली स्किन का कारण बनता है।

इसे भी पढ़ें- शहनाज हुसैन के टिप्स: घर पर कैसे करें हेयर कलर

मौसम में बदलाव

गर्मियों और बरसातों में वातावरण में उमस और नमी काफी बढ़ जाती है। इससे त्‍वचा में ऑयल का अधिक निर्माण होता है। सर्दियों के दौरान, त्‍वचा रूखी हो जाती है। उसमें नमी और पोषण की कमी हो जाती है। इसे पूरा करने के लिए त्‍वचा अधिक मात्रा में ऑयल का निर्माण करती है।

 

दवायें

हॉर्मोन बैलेंस के लिए दी जाने वाली दवाओं के कारण भी त्‍वचा में अधिक ऑयल का निर्माण होने लगता है। इसके साथ ही कुछ दवायें त्‍वचा में नमी की कमी का भी कारण बनती हैं। पोषण के इस असंतुलन से लड़ने के लिए त्‍वचा अधिक मात्रा मे ऑयल का निर्माण करती है।

 

गलत उत्‍पादों का इस्‍तेमाल

जब महिलायें ऐसे उत्‍पादों का इस्‍तेमाल करती हैं, जो उन्‍हें सूट नहीं करता, तो त्‍वचा अधिक मात्रा में ऑयल का निर्माण करने लगती है। यदि किसी की मिश्रित त्‍वचा है और वह ऑयली स्किन वाला माश्‍चराइजर या क्‍लींजर इस्‍तेमाल करना शुरू कर दे, तो उसकी त्‍वचा अधिक ऑयली होनी शुरू हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें- बालों में बस इतनी देर ही लगाएं तेल, क्योंकि....

तनाव

तनाव भी ऑयली स्किन की बड़ी वजह होता है। जब व्‍यक्ति तनाव में होता है तो शरीर एंड्रोगन्‍स हॉर्मोन का निर्माण शुरू कर देता है। जिससे ऑयली स्किन होती है।

facepack

ऑयली स्किन के लिए घरेलू उपाय

ऑयली स्किन की देखभाल के लिए काफी समय और संयम की जरूरत होती है। बड़े रोम छिद्रों को बंद करना और चिपचपेपन को हटाने के लिए आपको अतिरिक्‍त मेहनत करने की जरूरत होती है। यहां हम आपको कुछ ब्‍यूटी टिप्‍स की जानकारी दे रहे हैं, जिन्‍हें अपनाकर आप ऑयली स्किन की समस्‍या से बच सकते हैं। इन उपायों को आसानी से घर पर रहकर ही आजमाया जा सकता है।


क्‍ली‍जिंग

अपनी त्‍वचा को क्‍ली‍न करने का सबसे पहला नियम है कि आप उस पर जमा अतिरिक्‍त ऑयल निकालें। दिन में दो बार चेहरा जरूर धोयें। और ऑयली स्किन वालों के लिए यह जरूरी है। सुबह और शाम चेहरा धोने की आदत बनायें। अधिक ऑयल से आपके चेहरे पर गंदगी चिपकी रहती है। लेकिन, अपने चेहरे को बार-बार धोने से बचें। ज्‍यादा बार धोन से त्‍वचा का कुदरती पोषण कम हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- क्या सच में पानी पीने से त्‍वचा में आता है निखार

मेकअप हटाइये

भले ही आप मेकअप लगाने की आदी न हों, लेकिन इसे हटाना कभी न भूलें। सोने से पहले अच्‍छे से क्‍लींजर से मेकअप हटाये और चेहरा धोकर सोने जाएं। मेकअप रिमूविंग क्रीम और ऑयली फेस के लिए फेसवॉश इस्‍तेमाल करें। आपको ऐसा फेसवॉश इस्‍तेमाल करना चाहिए जिसमें से‍लिसिलिक एसिड हो।

 

एक्‍ने के लिए क्रीम

चेहरा साफ करने के बाद उस पर एस्ट्रिंगजेंट लगाएं। अगर आप एस्ट्रिंगजेंट लगाते हैं, तो याद रखें वह अल्‍कोहोलिक न हो। साथ ही दिन में एक बार से ज्‍यादा इसका इस्‍तेमाल न करें। ये उत्‍पाद त्‍वचा को रूखा कर सकते हैं। त्‍वचा विशेषज्ञ से सलाह लेकर दिन में दो बार एक्‍ने से लड़ने वाली क्रीम लगाइए।

 

माश्‍चराइजर

आपकी त्‍वचा के लिए माश्‍चराइजर बहुत जरूरी है। लेकिन, मॉश्‍चराइजर चुनते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप गलती न करें। ऐसा मॉश्‍चराइजर चुनें जो आपकी त्‍वचा के लिए सही हो। आप कितना माश्‍चराइजर लगाते हैं यह पूरी तरह आपकी त्‍वचा के रूखेपन पर निर्भर करता है। आपको ऐसा माश्‍चराइजर नहीं लगाना चाहिए जिसमें कोका बटर और मिनरल ऑयल हों। नॉन-कॉमेडोजेनिक मॉश्‍चराइजर आपके लिए सही रहेगा।

 

oil free

सनस्‍क्रीन

भले ही आसमान में बादल छा रहे हों, लेकिन आपको सनस्‍क्रीन लगाये बिना घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। आपका सनस्‍क्रीन कम से कम 15 एसपीएफ होना चाहिए। लेकिन, जरूरत है कि आप ऑयली स्किन के लिए बने सनस्‍क्रीन का इस्‍तेमाल करें।

 इसे भी पढ़ें- सर्दियों में इन घरेलू उपायों से दूर करें अपने हाथों का रूखापन!

घरेलू उपाय

अपनी त्‍वचा की देखभाल करने के लिए आपको कुछ घरेलू उपाय आजमाने चाहिए। ये उपाय कारगर तथा किफायती होते हैं। घरेलू उपाय न केवल आपकी त्‍वचा को ऑयल फ्री बनाते हैं बल्कि दाग-धब्‍बे हटाने का भी काम करते हैं।

 

शहद और सेब

सेब को काटकर उसे ब्‍लैंड कर लीजिए। इसमें थोड़ा शहद मिला लीजिए। इस मिश्रण को चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दीजिए। इसके बाद गुनगुने पानी से धो लीजिए।

 

बादाम का तेल

बादाम के तेल में कुछ बूंदें नींबू के रस की मिला लीजिए। इस मिश्रण को चेहरे पर लगा लीजिए। इस प्रयोग को एक महीने तक कीजिए। और इसके बाद आपको बहुत अच्‍छे नतीजे मिलेंगे।

 

पपीता

पपीते को मैश कर लीजिए और इसे अच्‍छे से मिला लीजिए। इस मिश्रण से अपने चेहरे पर मसाज कीजिए और इसे 15-20 मिनट के लिए छोड़ दीजिए। इसके बाद इसे ठंडे पानी से धो लीजिए।

 

Read more articles on Beauty in Hindi.

 

"ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें ओनलीमायहेल्थ एप्प" https://goo.gl/UaXpa2

 

ऑयली स्किन के लिए घरेलू उपाय
ऑयली स्किन की देखभाल के लिए काफी समय और संयम की जरूरत होती है। बड़े रोम छिद्रों को बंद करना और चिपचपेपन को हटाने

के लिए आपको अतिरिक्‍त मेहनत करने की जरूरत होती है। यहां हम आपको कुछ ब्‍यूटी टिप्‍स की जानकारी दे रहे हैं, जिन्‍हें अपनाकर

आप ऑयली स्किन की समस्‍या से बच सकते हैं। इन उपायों को आसानी से घर पर रहकर ही आजमाया जा सकता है।

क्‍ली‍जिंग
अपनी त्‍वचा को क्‍ली‍न करने का सबसे पहला नियम है कि आप उस पर जमा अतिरिक्‍त ऑयल निकालें। दिन में दो बार चेहरा जरूर

धोयें। और ऑयली स्किन वालों के लिए यह जरूरी है। सुबह और शाम चेहरा धोने की आदत बनायें। अधिक ऑयल से आपके चेहरे पर

गंदगी चिपकी रहती है। लेकिन, अपने चेहरे को बार-बार धोने से बचें। ज्‍यादा बार धोन से त्‍वचा का कुदरती पोषण कम हो सकता है।

मेकअप हटाइये
भले ही आप मेकअप लगाने की आदी न हों, लेकिन इसे हटाना कभी न भूलें। सोने से पहले अच्‍छे से क्‍लींजर से मेकअप हटाये और

चेहरा धोकर सोने जाएं। मेकअप रिमूविंग क्रीम और ऑयली फेस के लिए फेसवॉश इस्‍तेमाल करें। आपको ऐसा फेसवॉश इस्‍तेमाल करना

चाहिए जिसमें से‍लिसिलिक एसिड हो।

एक्‍ने के लिए क्रीम
चेहरा साफ करने के बाद उस पर एस्ट्रिंगजेंट लगाएं। अगर आप एस्ट्रिंगजेंट लगाते हैं, तो याद रखें वह अल्‍कोहोलिक न हो। साथ ही

दिन में एक बार से ज्‍यादा इसका इस्‍तेमाल न करें। ये उत्‍पाद त्‍वचा को रूखा कर सकते हैं। त्‍वचा विशेषज्ञ से सलाह लेकर दिन में दो

बार एक्‍ने से लड़ने वाली क्रीम लगाइए।

माश्‍चराइजर
आपकी त्‍वचा के लिए माश्‍चराइजर बहुत जरूरी है। लेकिन, मॉश्‍चराइजर चुनते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप गलती न करें।

ऐसा मॉश्‍चराइजर चुनें जो आपकी त्‍वचा के लिए सही हो। आप कितना माश्‍चराइजर लगाते हैं यह पूरी तरह आपकी त्‍वचा के रूखेपन पर

निर्भर करता है। आपको ऐसा माश्‍चराइजर नहीं लगाना चाहिए जिसमें कोका बटर और मिनरल ऑयल हों। नॉन-कॉमेडोजेनिक

मॉश्‍चराइजर आपके लिए सही रहेगा।

सनस्‍क्रीन
भले ही आसमान में बादल छा रहे हों, लेकिन आपको सनस्‍क्रीन लगाये बिना घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। आपका सनस्‍क्रीन कम

से कम 15 एसपीएफ होना चाहिए। लेकिन, जरूरत है कि आप ऑयली स्किन के लिए बने सनस्‍क्रीन का इस्‍तेमाल करें।
Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES267 Votes 13842 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर