व्रत-उपवास का सही तरीका

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 21, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Fasting The Right Way In Hindiभारतवासियों में उपवास करने की प्रथा सालों से चली आ रही है, लेकिन आज उपवास फिटनेस मंत्र के रूप में भी काम करता है। कुछ लोग अपना वेट कम करने के लिए उपवास रखते हैं तो कुछ को अपनी मान्यताओं के चलते उपवास रखना पसंद करते है। लेकिन उपवास को किस तरह एन्ज्वॉय किया जाए यह जानना बहुत जरूरी है। आइये जानते हैं व्रत में कैसा हो खान-पान।

 

  • व्रत-त्योहारों के दिनों में उपवास करने से शरीर में उत्पन्न होने वाले टॉक्सिन, पेशाब एवं पसीने के रूप में हमारे शरीर से बाहर निकल जाते हैं।
  • उपवास के समय में पानी और तरल पदार्थ अधिक से अधिक पिएं।
  • फाइबरयुक्त, रेशेदार कम नमक और कम मसालों के साथ ही फलाहार और सलाद लें।
  • सकारात्मक सोच रखें।
  • उपवास के एक दिन पूर्व शाम से ही हैवी भोजन का त्याग कर दें।
  • उपवास के दिन नींद पूरी लें और समय पर भोजन करें।
  • मन को शांत रखें और अपने व्यवहार में विनम्रता बरतें।
  • उपवास में भी हल्की-फुल्की एक्सरसाइज और व्यायाम जारी रखें।
  • उपवास के समय में अधिक कमजोरी होने पर नींबू-पानी ले सकते हैं। इससे आँतों की सफाई अच्छी तरह से हो जाती है।
  • किसी बीमारी से पीड़ित होने पर उपवास न करें, यदि आप बीमार रह कर भी उपवास कीना चाहते हैं तो अपनी दवाईयां समय पर लें।
  • स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहते हुए निर्जल उपवास पर न उतरे।
  • एसीडिटी की शिकायत या बीमारी होने पर थोड़े-थोड़े अंतराल के बाद सलाद या फल खाते रहें।


    उपवास के दौरान क्या न करें
  • उपवास के दौरान पकी हुई सब्जियां, अन्न या अन्न के बने दूसरे पदार्थ, रोटियां, ब्रेड, बिस्कुट, पास्ता नहीं खाना चाहिए।
  • इसके अलावा चाय, आइस्क्रीम, मक्खन, फास्ट फूड, जंक फूड से तैयार किया हुआ भोजन, आलू की चिप्स, साबुदाने की खिचड़ी, मूंगफली के दाने या मिक्चर इत्यादि उपवास के स्वास्थ्य लाभों को को नष्ट कर देते हैं।
  • उपवास करने वालों को यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि यदि वे किसी बीमारी से पीड़ित हैं या किसी बीमारी का इलाज लंबा चल रहा है तो अपने चिकित्सक की सलाह लिए बिना उपवास नहीं करना चाहिए।
  • डायबिटीज के रोगियों, गर्भवती महिलाओं व स्तनपान करा रही माताओं को भी उपवास नहीं करना चाहिए। उपवास अपनी शारीरिक सामर्थ्य से अधिक नहीं करना चाहिए। यदि डाइटिंग के लिए व्रत रख रही हैं तो अच्छा होगा किसी एक्सपर्ट की सलाह लें और शेड्यूल बना कर उसे फॉलो करें।
Write a Review
Is it Helpful Article?YES10 Votes 12466 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर