दिवाली में न निकले आपकी सेहत का दिवाला, अपनाएं ये टिप्स

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 26, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • दिवाली में रखें अपनी सेहत का भी ख्याल
  • मिठाइयों के सेवन में सावधानी बरतें
  • पटाखें जलाते समय सावधानियां बरतें
  • मिलावटी खाद्य पदार्थों के सेवन से बचें

दिवाली खुशियों एवं रौशनी का त्योहार है। दिवाली के दौरान पटाखों का शोर होना भी लाजमी है। लिहाजा दीपावली जहां दीये, मोमबत्तियों और इनसे पैदा होने वाली जगमगाहट का त्योहार है, दिवाली पर स्वस्थ रहने के लिए भी आपको थोड़ी सी सावधानी बरतने की जरूरत है,  ताकि आप हंसी-खुशी अपनी दिवाली सेलिब्रेट कर सकें। आइए जानें कैसे दिवाली आपकी सेहत का दिवाला निकाल सकती है और आपको इससे बचने के लिए क्या। कुछ कदम उठाने चाहिए।

 

diwali in hindi

इसे भी पढ़ें: दिवाली पर सेफ रहने के लिए आजमाएं ये तरीकें

दिवाली में ऐसे रखें अपनी सेहत का ख्याल

  • दिवाली के मौके पर लोग धड़ल्ले से मिठाइयों का सेवन करते हैं, नतीजन आप कई बीमारियों का शिकार हो जाते हैं। इन बीमारियों का कारण जहां एक ओर मिठाइयां खाना है, वही आपकी दिनचर्या अस्त-व्यस्त होना भी है। इसके साथ ही आप मिलावटी खाद्य पदार्थों का भी लगातार सेवन करते है।
  • कुछ स्वार्थपरक लोग अपनी जेबें भरने के लिए दिवाली जैसे त्योहारों पर मिठाईयों और खानपान की चीजों में मिलावट करते है जिससे इन मिलावटी खाद्य पदार्थों के सेवन और उपयोग से फूड पॉइजनिंग समेत पेट संबंधी कई बीमारियों का खतरा रहता है।
  • मिलावटी खाद्य पदार्थ के सेवन से किडनी, हार्ट जैसे शरीर के बड़े अवयवों को भी नुकसान पहुंच है क्योंकि इनमें मिलें कुछ कैमिकल के कारण ऐसा होता है।
  • दिवाली के मौके पर मिलने वाली कई वैराइटी में डिजाइन और रंगों में मिलने वाली मिठाई आपकी सेहत के लिए सबसे अधिक नुकसानदेह हो सकती है। दरअसल, बाजार में नकली दूध, खोवा और घी बड़े पैमाने पर मिल रहे हैं।
  • दिवाली के दौरान बहुत सी मिठाईयों के बिकने से हलवाई भी सस्ते सामान का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस वजह से रंग-बिरंगी मिठाइयों में केमिकल और मिलावटी पदार्थो का ज्यादा उपयोग किया जाता है, जिससे वह दिखने में आकर्षक लगे। ऐसी मिठाइयों के सेवन से लोगों की सेहत को खतरा है।
  • खाने-पीने के अलावा लोग आमतौर पर दिवाली जैसे अवसरों पर व्यायाम इत्यादि करना छोड़ देते है जिससे उनकी सेहत पर नकारात्मक प्रभाव साफ दिखाई पड़ता है। दिवाली का मौका हो या फिर कोई भी त्योहहार आपको फिट रहने के लिए व्यायाम अवश्य करना चाहिए।
  • दमा एवं दिल के मरीजों को दिवाली के मौके पर खास तौर पर सावधानियाँ बरतनी चाहिए। यही नहीं इस त्योहार पर जलने, आँखों को गंभीर क्षति पहुँचने और कान का पर्दा फटने, दिल का दौरा पड़ने, सिर दर्द, अनिद्रा और उच्च रक्तचाप जैसी घटनाएं भी होने की आशंका बनी रहती है।
  • दिवाली पर आपकी सेहत का दिवाला न निकले इसीलिए आपको बम-पटाखों इत्यादि को जलाने से बचना चाहिए। पटाखों इत्यादि से न सिर्फ जलने बल्कि सांस संबंधी बीमारियां होने का खतरा भी बढ़ जाता है।
  • डॉक्टर्स हमेशा से ही दिवाली के मौके पर तेज आवाज वाले पटाखे चलाने से परहेज करने और दमा तथा दिल के मरीजों को पटाखों से दूर रहने की सलाह दी है। पटाखों के कारण दिवाली के बाद वायु प्रदूषण छह से दस गुना और आवाज का स्तर 15 डेसिबल तक बढ़ जाता है। इससे सुनने की क्षमता प्रभावित हो सकती है।
  • अपनी दिवाली को खुशहाल बनाने के लिए आप सावधानी बरते हुए अपने बच्चों के आसपास ही रहें और आपातकालीन स्थिति के लिए बिल्कुल तैयार रहें।

 

Image Source: Getty

Read More Articles on Festival special in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES3 Votes 11888 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर