वजन घटाना है तो वसा नहीं कार्बोहाइड्रेट का सेवन कीजिये कम

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 03, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

eating manमोटापा आज एक बहुत बढ़ी समस्या है। इसकी वजह से लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। एक नए शोध में पाया गया है कि वजन कम करने के लिए कम वसा युक्त भोजन करने की अपेक्षा कम कार्बोहाइड्रेट वाला भोजन करना अधिक कारगर होगा। कम कार्बोहाइड्रेट वाला भोजन न सिर्फ वजन घटाने में कारगर है, बल्कि यह दिल से संबंधित बीमारी को दूर करने में भी उपयोगी है।

वजन घटाने के लिए कम वसा युक्त भोजन करने की अब तक दी जाने वाली सलाह से थोड़ी अलग है। "एनल्स ऑफ इंटरनल मेडिसिन" जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में कहा गया है कि कम वसा वाले भोजन करने की तुलना में कम कार्बोहाइड्रेट वाले भोजन अधिक फायदेमंद हैं।

शोधकर्ताओं ने अमेरिका में 148 पुरूषों एवं महिलाओं पर अध्ययन के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला। अध्ययन में शामिल किए गए इन लोगों को न तो किसी तरह का दिल का रोग था और न ही वे मधुमेह की बीमारी से पीडित थे। प्रतिभागियों में आधे से अधिक अश्वेत नागरिकों को शामिल किया गया था।

बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) के आधार पर प्रतिभागियों को मोटे लोगों की श्रेणी में रखा गया था। कम कार्बोहाइड्रेट और कम वसा युक्त भोजन करने वाले समूहों को नियमित अंतराल पर खानपान को लेकर परामर्श दिए जा रहे थे, लेकिन उनके सामने कैलोरी (ऊर्जा) को लेकर कोई लक्ष्य नहीं रखा गया था।

करीब एक साल बाद अध्ययनकर्ताओं ने पाया कि कम कार्बोहाइड्रेट वाला भोजन लेने वाले अश्वेत और श्वेत, दोनों तरह के प्रतिभागियों के वजन में उनकी तुलना में काफी कमी आई, जो कम वसा युक्त भोजन ले रहे थे। कम कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन लेने वाले लोगों में दिल के रोग का खतरा भी अपेक्षाकृत कम पाया गया।
अध्यनकर्ताओं ने यह भी कहा कि बीएमआई में वृद्धि अक्सर मधुमेह होने के खतरे की सूचना होती है।

 

image courtesy-getty images

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES8 Votes 937 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर