बाल झड़ने की समस्या में करें इन 4 योगासनों का अभ्यास, मिलेगा फायदा

बाल झड़ने की समस्या आजकल आम हो गयी है, बाल झड़ने की समस्या से बचाव के लिए आप इन योगासनों का अभ्यास कर सकते हैं। 

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Feb 07, 2022Updated at: Feb 07, 2022
बाल झड़ने की समस्या में करें इन 4 योगासनों का अभ्यास, मिलेगा फायदा

आज के समय में ज्यादातर लोग बालों के टूटने और झड़ने की समस्या से परेशान हैं। बालों का झड़ना आज के समय में एक आम समस्या बन गयी है और इसके लिए कई कारण जिम्मेदार माने जाते हैं। अच्छे, मजबूत और घने बालों की चाहत हर किसी की होती है लेकिन असंतुलित खानपान, स्ट्रेस और खराब जीवनशैली के कारण लोग इस समस्या से ग्रसित हो रहे हैं। मौजूदा वक्त में दुकानों पर तमाम ऐसे प्रोडक्ट्स आसानी से मिल जायेंगे जो बालों के झड़ने की समस्या और टूटने की समस्या से बचाने का दावा करते हैं लेकिन इन प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से सही फायदा नहीं मिलता है। तमाम ऐसे प्रोडक्ट्स केमिकल का इस्तेमाल कर बनाए जाते हैं ऐसे में इनके साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। बाल झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए सबसे पहले आपको संतुलित और पौष्टिक आहार और अच्छी जीवनशैली अपनानी चाहिए। नियमित रूप से योगासनों का अभ्यास भी इस समस्या से छुटकारा देने में बहुत उपयोगी माना जाता है। आइये जानते हैं ऐसे ही 4 योगासनों के बारे में जिनका नियमित अभ्यास कर आप झड़ते बालों की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

बाल झड़ने से रोकने के लिए योगासन (Yoga To Control Hair Fall)

बालों को मजबूत बनाने उन्हें झड़ने से रोकने के लिए नियमित रूप से योगासनों का अभ्यास बहुत फायदेमंद माना जाता है। ये 4 योगासन बालों की समस्या में बहुत उपयोगी होते हैं।

Yoga-To-Control-Hair-Fall

1. पवनमुक्तासन (Pavanmukthasana)

बालों से जुड़ी समस्या से छुटकारा पाने के लिए पवनमुक्तासन का अभ्यास बहुत फायदेमंद माना जाता है। यह एक ऐसा योगासन है जिसके अभ्यास से आपकी आंत और पेट से वायु यानी पवन को निकलने में सहायता मिलती है। इस योगासन का नियमित अभ्यास कर आप बालों के झड़ने की समस्या को कंट्रोल कर सकते हैं।

पवनमुक्‍तासन का अभ्यास करने का तरीका

  • इस योगासन का अभ्यास करने के लिए आप सबसे पहले अपने दोनों हाथों और पैरों फैलाकर जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं। 
  • इस दौरान आपकी दोनों हथेलियों का मुख आसमान की तरफ हो। इस पोज को शवासन भी कहा जाता है।
  • अब शवासन से आगे बढ़ते हुए अपने दोनों पैरों को जोड़ें और अपने घुटनों को मोड़ते हुए अपनी जांघों को छाती के पास ले आएं। 
  • अपने दोनों हाथों की अंगुलियों को दोनों हाथों में गूंथे और घुटनों के नीचे अपनी पिंडलियों के पास पकड़ें। 
  • अब सांस छोड़ते हुए अपने कंधों को तब तक उठाएं जब तक आपकी ठोंडी घुटनों को छू न ले। 
  • ऐसा करते समय आपको अपने कटिप्रदेश यानी कमर के हिस्‍से में खिंचाव उत्‍पन्‍न होगा। 
  • अपनी आंखें बंद रखें और अपने कमर के हिस्‍से में पूरा ध्‍यान केंद्रित करें। इस स्थिति में सामान्‍य रूप से सांस लें और छोड़ें और कुछ देर तक आराम से रहें। 
  • कुछ समय तक इस स्थिति में बने रहने के बाद सांस छोड़ते हुए अपने सिर और कंधों को पुन: जमीन पर रखें। 
  • अब सांस छोड़ते हुए अपनी टांगों को सीधा करें और पुन: शवासन की मुद्रा में आकर विश्राम करें।  

Yoga-To-Control-Hair-Fall

2. अधोमुख स्‍वान आसन (Adho Mukha Svanasana)

अधोमुख स्‍वान आसन का अभ्यास बेहद सरल माना जाता है और इस आसन में आप श्वान या कुत्ते की तरह आगे झुककर पोज करते हैं। इसका नियमित अभ्यास बालों के लिए बहुत फायदेमंद है। 

अधोमुख स्‍वान आसन का अभ्यास करने का तरीका 

  • सबसे पहले आप अपने पैरों के समानान्‍तर हाथों के बल आगे की ओर करें।
  • इसके बाद शरीर को एक मेज की स्थिति में ले आयें। 
  • आपकी पीठ मेज  की ऊपरी हिस्से की तरह हो और दोनों हाथ और पैर मेज के पैर की तरह। 
  • सांस छोड़ते हुए कमर को ऊपर उठाएं। 
  • अपने घुटने और कोहनी को मजबूती देते हुए सीधे करते हुए अपने शरीर से उल्टा v आकार बनाएं। 
  • हाथ कंधो के जितने दूरी पर हों। पैर कमर के दूरी के बराबर और एक दुसरे के समानांतर हों। 
  • इसके बाद अपनी हथेलियों को जमीन पर दबाएं, कंधो के सहारे इसे मजबूती प्रदान करें। 
  • गले को तना हुआ रखते हुए कानों को बाहों से स्पर्श कराएं। 
  • लम्बी गहरी श्वास लें, अधोमुख स्वान की अवस्था में बने रहें। 
  • इसके बाद श्वास छोड़ते हुए घुटने को मोड़े और वापस मेज वाली स्थिति में आ जाएं। 
Yoga-To-Control-Hair-Fall

3. उत्थानासन (Utthanasana)

बालों और स्किन के लिए उत्थानासन बहुत फायदेमंद माना जाता है। इस आसन का अभ्यास करने से चिंता और मानसिक समस्याएं भी दूर होती हैं। दिमाग को शांत रखने के लिए भी यह आसन बहुत उपयोगी माना जाता है।

उत्थानासन का अभ्यास करने का तरीका 

  • इसका अभ्यास करने के लिए सबसे पहले आप योगा मैट पर खड़े हो जाएं। 
  • इसके बाद अपने पैरों के बीच एक फीट की दूरी बनाएं।
  • अब लंबी सांस लेते हुए अपने हाथों को ऊपर की तरफ ले जाएं।
  • सांस छोड़ते हुए हाथों को नीचे की तरफ लाएं।
  • अब अपने हाथों से पैरों के अंगूठे को छुएं।
  • इस दौरान ध्यान रहें आपके घुटने मुड़ें न।
  • कुछ देर इसी स्थिति में रहने के बाद सामान्य मुद्रा में आयें और 5 से 6 बार इसका अभ्यास करें।

4. वज्रासन (Vajrasana)

वज्रासन को ध्‍यान मुद्रा में किया जाना चाहिए। ध्‍यान मुद्रा में इसका अभ्‍यास करते समय अपनी आंखों को बंद रखें। इसका अभ्यास करने से आपका पाचन तंत्र ठीक रहता है और बालों को फायदा मिलता है। 

Yoga-To-Control-Hair-Fall

वज्रासन के अभ्यास का तरीका 

  • वज्रासन का अभ्यास करने के लिए पहले दण्‍डासन की मुद्रा में बैठें।  
  • हाथों को अपने कूल्‍हों के पास रखें। 
  • दांए पैर को मोड़ें और दाएं कूल्‍हे के नीचे रखें और फिर अपना बांया पैर मोड़कर बांए कूल्‍हे के नीचे रखें। 
  • इस दौरान आपकी जांघे सटी हुई हों और आपके अंगूठे आपस में जुड़े हुए हों। 
  • अब अपने हाथों को घुटनों पर रखें। 
  • अपना मेरूदंड सीधा रखें और शरीर को ढीला छोड़ें। 
  • अब सामान्‍य रूप से सांस लें और छोड़ें और कुछ देर तक आराम से रहें। 

इसे भी पढ़ें : दिमाग को शांत रखने और इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए रोज करें ये 4 योगसन, मिलेंगे कई अन्य फायदे

इन योगासनों के नियमित अभ्यास से आपको बालों के झड़ने की समस्या में फायदा मिलेगा और इससे आपके बाल घने और मजबूत भी होंगे। शुरुआत में इन योगासनों का अभ्यास एक्सपर्ट की देखरेख में किया जाना चाहिए। अगर आपको किसी भी तरह की बीमारी या समस्या है तो इसके अभ्यास से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer