ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए करें इन 4 योगासनों का अभ्यास, मिलेगा फायदा

ब्रेस्ट साइज को कम करने के लिए नियमित रूप से इन योगासनों का अभ्यास बहुत फायदेमंद माना जाता है, जानें अभ्यास का तरीका और फायदे।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Mar 26, 2022Updated at: Mar 26, 2022
ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए करें इन 4 योगासनों का अभ्यास, मिलेगा फायदा

महिलाओं का ब्रेस्ट साइज न सिर्फ उनकी सुंदरता को प्रभावित कर सकता है बल्कि इसका सीधा असर उनकी शरीर की बनावट पर भी देखने को मिलता है। आमतौर पर हर महिला का ब्रेस्ट साइज एक दूसरे से अलग होता है। आज के समय में अनियमित जीवनशैली और खानपान में गड़बड़ी के कारण महिलाओं में मोटापे की समस्या तेजी से बढ़ रही है। मोटापे के कारण महिलाओं का ब्रेस्ट साइज भी प्रभावित होता है जिसकी वजह से महिलाओं की बनावट और सुंदरता पर असर होता है। ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए महिलाएं कई उपाय अपनाती हैं लेकिन उन्हें सफलता जल्दी नहीं मिलती है। ब्रेस्ट साइज कम करने के लिए योगासनों का अभ्यास बहुत उपयोगी होता है। इसका अभ्यास करने से न सिर्फ आप ब्रेस्ट साइज को कम कर सकती हैं बल्कि इससे मोटापे की समस्या को दूर करने में भी फायदा मिलता है। आइये जानते हैं ब्रेस्ट साइज को कम करने के लिए योग के बारे में।

ब्रेस्ट साइज को कम करने के लिए योग (Yoga Poses to Reduce Breast Size in Hindi)

ब्रेस्ट साइज को कम करने के लिए योगासनों का अभ्यास बहुत फायदेमंद माना जाता है। नियमित रूप से कुछ योगासनों का अभ्यास करने से आपको न सिर्फ ब्रेस्ट साइज कम करने में फायदा मिलता है बल्कि इससे आपके शरीर की बनावट भी ठीक होती है। आप ब्रेस्ट साइज को आसानी से कम करने के लिए रोजाना इन योगासनों का अभ्यास कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें : ब्रेस्ट साइज (स्तनों का आकार) अचानक बढ़ने के हो सकते हैं ये 5 कारण

Yoga-Poses-to-Reduce-Breast-Size

1. सेतुबंधासन या ब्रिज पोज (Setubandhasana Or Bridge Pose)

सेतुबंधासन का अभ्यास शरीर की मांसपेशियों के लिए बहुत उपयोगी होता है। ब्रेस्ट साइज को कम करने के लिए भी इस योगासन का अभ्यास बहुत फायदेमंद है। रोजाना सेतुबंधासन का अभ्यास करने से आपके पेट की मांसपेशियों को फायदा मिलता है और पाचन तंत्र भी सुधरता है। आप ब्रेस्ट साइज को कम करने के लिए इन तरीकों से रोजाना सेतुबंधासन का अभ्यास करें।

सबसे पहले आप अपने पैरों के बीच आरामदायक अंतर बनाते हुए अपने पीठ के बल आराम से लेट जाएं। 
अपनी हथेलियों को जमीन पर इस तरह से रखें कि उसका मुख आसमान की तरफ हो। इस आसन को शवासन कहा जाता है। 
अब अपने दोनों पैरों को जोड़ें, फिर अपने दोनों पैरों को मोड़कर अपने कूल्‍हों के पास ले आएं। 
फिर अपने दोनों टखनों को मजबूती से अपने दोनों हाथों से पकड़ें। 
अब धीरे-धीरे सांस अंदर लेते हुए अपने कूल्‍हों को जितना हो सके ऊपर उठाएं, जिससे आपका शरीर एक सेतु या पुल का आकार ले ले। 
सुनिश्‍चित करें कि आपका सिर और कंधे जमीन पर हों और आपके घुटने व पैर एक ही सीध में हो। 
इस अंतिम मुद्रा में अगर आप चाहें तो अपने हाथों से अपनी कमर को सहारा दे सकते हैं। 
इस स्थिति में सामान्‍य रूप से सांस लें और छोड़ें और 10 से 30 सेकेंड तक इसी मुद्रा में बने रहें। 
इस मुद्रा में रहने के बाद आप सांस छोड़ते हुए अपने कुल्‍हों को वापस जमीन पर लाएं। 
अब अपने टखनों को छोड़ते हुए पुन: शवासन के मुद्रा में आ जाएं और विश्राम करें। 

Yoga-Poses-to-Reduce-Breast-Size

2. धनुरासन (Dhanurasana)

नियमित रूप से धनुरासन का अभ्यास शरीर के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसका अभ्यास शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती देने का काम करता है। इसके अलावा इस योगासन का अभ्यास चेस्ट की मांसपेशियों और फेफड़ों के लिए भी बहुत उपयोगी होता है। शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने और हॉर्मोन के संतुलन के लिए धनुरासन का अभ्यास बहुत उपयोगी होता है। धनुरासन का अभ्यास करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • अपने पेट के बल लेटकर शुरुआत करें।
  • अपने घुटनों को मोड़ें और अपनी हथेलियों से अपनी एड़ियों को पकड़ें।
  • मजबूत पकड़ बनाएं।
  • जितना हो सके अपने पैरों और भुजाओं को ऊपर उठाएं।
  • धनुष की मुद्रा में बने रहें।
  • ऊपर देखिए और कुछ देर तक आसन में रहें।

Yoga-Poses-to-Reduce-Breast-Size

3. ताड़ासन (Palm Tree Posture)

ताड़ासन का नियमित अभ्यास शरीर की मांसपेशियों और हड्डियों के लिए बहुत उपयोगी है। इसका अभ्यास करने से आपको ब्रेस्ट साइज कम करने में भी फायदा मिलता है। शरीर के पोश्चर और लंबाई को बढ़ाने के लिए भी इस योगासन का अभ्यास बहुत उपयोगी माना जाता है। ताड़ासन का अभ्यास करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आप अपने दोनों पैर के पंजों को मिलाकर या 10 सेंटीमीटर की दूरी पर रखते हुए सीधे खड़े हो जाएं। भुजाओं को साइड में रखें। 
  • अपने शरीर का वजन दोनों पैरों पर एक समान तरीके से रखें। 
  • अब अपने हाथों को सिर के ऊपर उठाएं और उंगलियों को फंसाकर हथेलियों को ऊपर की ओर रखें। आपके दोनों हाथ सिर के ऊपर सीध में होने चाहिए। 
  • दृष्टि को सीध में किसी बिंदु पर टिकाएं, आपकी नजर इधर-उधर भटकनी नहीं चाहिए। पूरे अभ्‍यास के दौरान आपको ऐसा ही करना है। 
  • सांस लेते हुए भुजाओं, कंधों और छाती के साथ पूरे शरीर को ऊपर की ओर तानें साथ ही अपनी एडियों को ऊपर उठाते हुए पैरों के पंजों पर खड़े हो जाएं।
  • बिना संतुलन खोए पंजों से लेकर सिर तक अपने पूरे शरीर को आसमान की ओर तानें और कुछ क्षड़ों तक सांस रोकर इस स्थिति में खड़े रहें। 
  • इसके बाद सांस छोड़ते हुए वापस पूर्व की मुद्रा में आ जाएं और कुछ छणों तक आराम करें। 
  • यह पूरा एक चक्र माना जाएगा। इसी प्रकार से आपको 10 चक्र करने होंगे। इससे आपको ताड़ासन करने का पूरा लाभ मिलेगा।

4. शीर्षासन (Headstand)

ब्रेस्ट साइज को कम करने के लिए और शरीर में हॉर्मोन संतुलन बनाये रखने के लिए शीर्षासन का अभ्यास बहुत उपयोगी माना जाता है। हेडस्टैंड या शीर्षासन का अभ्यास भी शरीर के लिए बहुत फायदेमंद माना गया है। शीर्षासन या हेडस्टैंड करने से शरीर के रक्त संचार में, तंत्रिका तंत्र और रीढ़ की हड्डी के लिए विशेष फायदा मिलता है। शीर्षासन योग के कठिनतम आसनों में से एक है। इसके अभ्यास में तज्ञ होने के लिए इंसान को रोजाना प्रैक्टिस करने की जरूरत होती है। आप शीर्षासन का अभ्यास करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

Yoga-Poses-to-Reduce-Breast-Size

  • शीर्षासन किसी चद्दर या फिर कंबल पर करना चाहिए।
  • इसके लिए आपको किसी सपाट जगह का चयन करना चाहिए।
  • शीर्षासन के लिए सबसे पहले आपको वज्रासन में बैठना चाहिए। 
  • आप इस तरह से बैठें की आगे की ओर झुकने के लिए आपके पास भरपूर जगह हो।
  • वज्रासन में बैठकर आप दोनों कोहनियों को जमीन पर टिकाकर दोनों हाथों की अंगुलियों को आपस में मिला लें।
  • दोनों हाथों की अंगुलियों को मिलाकर आपकी हथेलियां ऊपर की ओर होनी चाहिए जिससे आप अपने सिर को हथेलियों का सहारा दे सकें।
  • धीरे-धीरे आगे की ओर झुकते हए अपने सिर को हथेलियों पर रखें और सांस सामान्य रखें। 
  • फिर धीरे-धीरे अपने सिर पर शरीर का भार आने दें।
  • इस स्थिति में आकर आपको अपने पैरों को आसमान की ओर उठाना है ठीक इस तरह से जैसे आप सीधें पैरों के बल खड़े होते हैं वैसे ही आप उल्टा सिर के बल खड़े हैं।
  • कुछ देर इसी स्थिती में रहें और फिर सामान्य स्थिति में वापस आ जाएं।

इन योगासनों का नियमित रूप से अभ्यास आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। अगर आप नियमित रूप से इन योगासनों का अभ्यास करते हैं तो इससे आपको ब्रेस्ट साइज कम करने में फायदा मिलेगा और इसके अलावा मोटापे की समस्या को दूर करने में भी फायदा मिलेगा।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer