सिरदर्द से राहत दिला सकती है जम्‍हाई

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 28, 2014
Quick Bites

  • जम्‍हाई लेने से सिरदर्द की समस्‍या से मिलती है राहत।
  • थकान और ऑक्‍सीजन की कमी से आती है जम्‍हाई।
  • अनिद्रा, माइग्रेन, एपीलेप्‍सी के उपचार में भी सहायक।
  • जम्‍हाई के आने का कोई निश्चित समय नहीं होता है।

जम्‍हाई लेने के कई फायदे हैं, इससे न केवल सिरदर्द से राहत मिलती है बल्कि यह अनिद्रा, माइग्रेन और एपीलेप्‍सी जैसी समस्‍या के उपचार में भी सहायक है। एक शोध में यह बात सामने आयी है कि अगर आप सिरदर्द की समस्‍या से परेशान हैं तो जम्‍हाई लेने से सिर और दिमाग दोनों ठंडे हो जाते हैं।

वैसे जम्‍हाई को आलस का प्रतीक माना जाता है, यानी अगर हम कोई ऐसा काम करते हैं जो बोरिंग होता है तब जम्‍हाई आती है। लेकिन इसके कई प्रकार के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं। इस लेख में विस्‍तार से जानिये कि जम्‍हाई लेने से कैसे सिरदर्द से राहत मिलती है।

Yawning can help You from Headache in Hindi

क्‍या कहते हैं शोध

वैज्ञानिकों की मानें तो जम्‍हाई दो कारणों से आती है - थकान के कारण और शरीर में ऑक्‍सीजन की कमी के कारण। बाल्‍टीमोर में यूनिवर्सिर्टी ऑफ मैरीलैंड डेंटिस्‍ट्री के वैज्ञानिक गैरी हॉक के अनुसार, ''हमने जम्‍हाई के कारणों का पता लगाने के लिए लोगों को चांद पर भेजा लेकिन इसके वास्‍तविक कारणों का पता वहां भी नहीं चला।''

शोध की मानें तो जम्‍हाई लेने से दिमाग में ऑक्‍सीजन को ऑक्‍सीजन मिलता है जिसके कारण दिमाग उलझनों से मुक्‍त होकर ठंडा हो जाता है। इससे दिमाग के वॉल्‍स भी ठंडे हो जाते हैं। दिमागी उलझनों के कारण तनाव और सिरदर्द होता है, लेकि जम्‍हाई लेने से सिरदर्द से राहत मिल सकती है।

 

जम्‍हाई को लेकर संशय

जम्‍हाई को लेकर भले ही कई प्रकार के शोध हो चुके हैं लेकिन इसके वास्‍तविक कारणों के बारे में वैज्ञानिकों में मतभेद है। वैज्ञानिक अभी तक जम्हाई की ठोस वजह का पता नहीं लगा सके हैं और अब तक इस बारे में बहुत कम साक्ष्यों के आधार पर कयास ही लगाए गए हैं।

अमेरिकन एकेडमी ऑफ स्लीप मेडिसिन में प्रकाशित शोध के मुताबिक जम्हाई लेना शरीर में ऑक्सीजन की कमी की भरपाई का संकेत हो सकता है। शोधकर्ताओं का मानना है कि फेफड़ों को अगर पंप करने के लिए पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिलती है तो उसकी क्षतिपूर्ति के लिए मुंह से ऑक्सीजन जम्हाई के जरिए लेते हैं।

इससे पहले हुए अध्‍ययनों में जम्‍हाई का प्रमुख कारण बहुत अधिक बोरियत महसूस होने पर दिमाग का संकेत होना माना गया है। जबकि नेशनल जियोग्रॉफिक चैनल ने अपने अध्ययन में माना है कि दिमाग अपनी वॉल्स को ठंडा रखने और मस्तिष्क में ऑक्सीजन पंप करने के लिए जम्हाई का संकेत देता है।

Yawning help You from Headache in Hindi

कब आती है जम्‍हाई

हालांकि जम्‍हाई सुबह उठने के बाद आती है, लेकिन इसके आने का कोई निश्चित समय नहीं होता है। अगर आपके सामने बैठा व्यक्ति जम्हाई ले रहा है और उसे देखकर आपको जम्हाई आ जाए तो चौंकने वाली बात नहीं है। 2004 के एक अध्ययन में पाया गया कि 50 प्रतिशत लोग सामने वाले को देखकर जम्हाई लेते हैं। शोध में माना गया कि जम्हाई किसी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं है बल्कि संक्रामक संकेत है क्योंकि उन्हें ध्यान भी नहीं रहता कि सामने वाले व्यक्ति को जम्हाई लेते देखकर उन्होंने उबासी ली।

 

बीमारियों से भी जुड़ी है जम्‍हाई

अमेरिका के नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अध्‍ययनकर्ताओं ने अपने शोध के आधार पर माना है कि बहुत अधिक जम्हाई लेने का संबंध वैगस नर्व से हो सकता है जो हृदय रोगों से संबंधित है। कुछ शोधों ने बहुत अधिक जम्हाई आने का संबंध मस्तिष्क से संबंधित समस्याओं से भी माना है।



सामान्‍यतया जम्‍हाई लेने की अवधि छ: सेकेंड की होती है, लेकिन इससे अधिक समय तक की जम्‍हाई भी हो सकती है। गर्भ के अंदर शिशु भी जम्‍हाई लेता है।

 

 

Read More Articles on Migraine in Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES20 Votes 7207 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK