पीठ या पेट के बल लेटकर खाना खाने की आदत पड़ सकता है भारी, जानें इससे होने वाली समस्याएं और सही पोश्चर

ब‍िस्‍तर पर लेटकर खाने से आपका शरीर बीमारि‍यों का घर बन सकता है। इस आदत से कई तरह की एलर्जी भी हो सकती है।  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 07, 2021
पीठ या पेट के बल लेटकर खाना खाने की आदत पड़ सकता है भारी, जानें इससे होने वाली समस्याएं और सही पोश्चर

बिस्तर पर लेटकर खाना एक बुरी आदत है। क्या आपको भी लेटकर खाने का शौक है? क्या आप इसके नुकसान से वाकिफ हैं? अगर नहीं तो आज हम आपको बतायेंगे की लेटकर खाने से आपकी बॉडी पर इसका बुरा असर पड़ता है। खाने का पॉश्चर ठीक न होने से पेट संबंधित समस्या होने लगती है। खाना फूड पाइप में अटक भी सकता है। इन सबसे बचने के लिये आप सही पॉश्चर का ध्यान रखें और बेड पर खाना अवॉइड करें। इससे न सिर्फ आपकी बॉडी बल्कि सोने वाली जगह भी खराब होती है जिससे संक्रमण हो सकता है। लेट कर खाने की इस आदत पर आज हम आपको बतायेंगे कि ऐसा करने के क्या नुकसान आपको झेलने पड़ सकते हैं। 

eating habit on bed

लेटकर खाने से खाना नहीं पचता (Eating on bed can cause indigestion)

indigestion while eating on bed

आपने देखा होगा कुछ लोग खुद को कम्फर्ट करके कुछ भी खाते या पीते हैं पर उसका बुरा असर हमारे शरीर पर पड़ता है। लेटकर खाने से खाना ठीक तरह से नहीं पचता जिससे आपको पेट संबंधित कई समस्या जैसे पेट दर्द, गैस हो सकती है। ये पॉश्चर खाने के लिये ठीक नहीं है क्योंकि इससे खाना आपके फूड पाइप में अटक सकता है। कई बार छोटा सा बीज ही हलक में अटक जाता है जिससे काफी तकलीफ होती है। इसलिये ऐसी आदत को जल्द से जल्द छोड़ दें। 

इसे भी पढ़ें- दोपहर में कितने बजे खाते हैं खाना? जानें लंच करने का सही समय और देर से लंच करने के कुछ नुकसान

ब‍िस्‍तर पर खाने से क्‍यों होती है स्‍किन एलर्जी? (Eating on bed can cause skin allergy)

बिस्तर पर लेटकर खाने से आपकी चादर गंदी होती है। कुछ भी गिर जाने से वहां चींटी या अन्य कीड़े आ सकते हैं। इससे बचने के लिये बेड पर खाने की कोई चीज़ न रखें। गंदे बिस्तर से आपको स्किन एलर्जी भी हो सकती है। विशेषज्ञ मानते हैं कि आपके खाने और सोने की जगह अलग-अलग होनी चाहिये। ऐसा न करने पर आपकी नींद प्रभावित हो सकती है।बिस्तर पर खाना खाने से बेड से बदबू आना लाजमी है। खाने के कण बेड पर चिपक जाते हैं जिससे कीटाणु बनने लगते हैं और बदबू आने लगती है। बिस्तर पर न खायें तो अच्छा है। अगर आपको बेड पर खाना पड़ता है तो कागज़ या कपड़ा बिछाकर उस पर खाना रखकर खाएं। समय-समय पर चादर बदलती रहें। ज़्यादा दिन तक चादर न बदलने से रैशेज़ की समस्या भी हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें- भूलकर भी न करें इन 5 सब्जियों का सेवन, बढ़ा देगी गैस और कब्ज की परेशानी

लेटकर खाने से क्‍या बढ़ सकता है वजन? (Eating while on bed can make you fatty)

बिस्तर पर लेटकर खाने की आदत से आपका वजन बढ़ सकता है। अगर आप वजन को कम करना चाहते हैं तो बैठकर खाने की आदत डालें। पहले के समय में लोग नीछे बैठकर खाना खाते थे जिसे खाने का सही पॉश्चर माना जाता है। आप डाइनिंग टेबल पर बैठकर भी खा सकते हैं। बैठकर खाने से खाना अच्छी तरह पच जाता है। बैठकर खाने से पेट की मसल्स ठीक से काम करती हैं और खाना आसानी से पच जाता है।

इन आदतों को अपनायें  (Good eating habits)

  • शरीर की बेहतरी के लिये खाने की आदतों को सुधारें। टेबल पर बैठकर खाना शुरू करें। 
  • खाने का समय निश्चित करें। इससे आपको निश्चित समय पर भूख लगेगी। 
  • खाना खाते समय टीवी या फोन न देखें। इससे आपको अपनी भूख का अंदाज़ नहीं होगा और आप ज्यादा खा लेंगे। 
  • अगर बेड पर खाने की मजबूरी है तो सीधे बैठकर खायें और गंदी चादर पर खाने की कोई चीज़ न रखें। 
  • लेटकर खाने से आपको किसी भी समय भूख लगने की आदत हो जाती है जिससे बचने के लिये खाने का समय नोट करें। 
  • किसी थाली या बर्तन में ही खाना परोस कर खाएं। इससे खाने की क्‍वांटिटी पता चलेगी। 

लेटकर खाने की आदत को जल्द छोड़ दें। अच्छे आहार के साथ बॉडी के लिये सही पॉश्चर भी जरूरी है। 

Read more on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer