इन 5 स्थितियों में न करें मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल, बढ़ सकती है दिक्कत

इन दिनों मेंस्ट्रुअल कप की मांग बढ़ रही हैं। पीरियड्स के दिनों में महिलाएं इसका अधिक इस्तेमाल कर रही हैं। आपको कुछ स्थितियों में इसका यूज करने से बचें

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jan 27, 2022Updated at: Feb 01, 2022
इन 5 स्थितियों में न करें मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल, बढ़ सकती है दिक्कत

मेंस्ट्रुअल कप क्या है? पहले माहवारी में रक्तस्त्राव को कपड़ों पर लगने से रोकने के लिए अधिकतर महिलाएं सूती कपड़े का इस्तेमाल किया करती थीं। लेकिन कपड़ा संक्रमण का कारण बनता है, ऐसे में सैनिटरी पैड का इस्तेमाल शुरू किया गया। अब पीरियड्स के ब्लीडिंग को कपड़ों पर लगने से रोकने के लिए कुछ महिलाएं मेंस्ट्रुअल कप (menstrual cup use) का भी यूज कर रही है। मेंस्ट्रुअल कप को पैड की तुलना में काफी अच्छा माना जाता है। मेंस्ट्रुअल कप काफी सुविधाजनक (menstrual cup benefits) भी है। अगर आप भी अब पैड के बजाय मेंस्ट्रुअल कप का यूज करती हैं, तो कुछ ऐसी स्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से बचें। जी हां, महिलाओं से जुड़ी कुछ ऐसी स्थितियां है, जिनमें मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल करना नुकसानदायक हो सकता है। सीके बिड़ला अस्पताल, दिल्ली की प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ रूबी सेहरा (Dr Ruby Sehra, Obstetrician and Gynaecologist, CK Birla Hospital, Delhi) से जानें-

इन स्थितियों में न करें मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल (when should you not use a menstrual cup)

वैसे तो माहवारी में रक्तस्त्राव को कपड़ों पर लगने से रोकने और संक्रमण से बचने के लिए मेंस्ट्रुअल कप काफी लाभकारी होता है। लेकिन अगर आप इन स्थितियों का सामना कर रही हैं, तो ऐसे में मेंस्ट्रुअल कप (why not to use menstrual cups) की जगह सैनिटरी पैड का इस्तेमाल करना बेहतर होगा।

menstrual cup

1. असहज महसूस होने पर

अब महिलाएं पैड के बजाय मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल करना सही मानती हैं। मेंस्ट्रुअल कप को पर्यावरण के लिए भी अच्छा माना जाता है। मेंस्ट्रुअल कप अच्छा होता है। कुछ महिलाएं मेंस्ट्रुअल कप का उपयोग करने में डरती हैं। वैसे तो मेंस्ट्रुअल कप को आसानी से योनि के अंदर फिट किया जा सकता है, लेकिन अगर आप असहज महसूस करें तो मेंस्ट्रुअल कप का यूज करने से बचें। इस स्थिति में आप सैनिटरी पैड, टैम्पॉन का इस्तेमाल कर सकती हैं। 

2. योनि से संबंधित समस्या होने पर

अगर आप योनि से जुड़ी किसी समस्या का सामना कर रही हैं, तो बेहतर होगा मेंस्ट्रुअल कप के बजाय सैनिटरी पैड का इस्तेमाल करें। क्योंकि मेंस्ट्रुअल कप योनि के अंदर फिट होता है, ऐसे में आपकी समस्या बढ़ भी सकती है।

इसे भी पढ़ें - महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन का लेवल बढ़ने पर दिखते हैं ये 9 लक्षण, जानें इसे कैसे करें कम

3. योनि सर्जरी या डिलीवरी

मेंस्ट्रुअल कप योनि के अंदर बिल्कुल फिट बैठता है, यह योनि की दीवारों को अच्छी तरह सील कर देता है। यही वजह है कि माहवारी में रक्तस्त्राव कपड़ों पर नहीं लगता है। लेकिन अगर आपको हाल ही में कोई योनि सर्जरी हुई है, तो मेंस्ट्रुअल कप के इस्तेमाल से बचें। इसके अलावा डिलीवरी, गर्भपात की स्थिति में भी इसे यूज करने से बचना चाहिए। 

menstrual cup use

4. सिलिकॉन एलर्जी

मेंस्ट्रुअल कप सिलिकॉन से बना होता है। यह पीरियड्स के दौरान निकलने वाले ब्लड को कपड़ों पर लगने से रोकता है। लेकिन कुछ लोगों को सिलिकॉन से एलर्जी होती है, ऐसे में आपको मेंस्ट्रुअल कप का यूज नहीं करना चाहिए। लाल चकत्ते, सूजन, खुजली, जलन और थकान सिलिकॉन एलर्जी के लक्षण (silicone allergy symptoms) होते हैं। अगर आपको ये लक्षण दिखाई दे, तो डॉक्टर की सलाह पर ही मेंस्ट्रुअल का यूज करें।

इसे भी पढ़ें - स्तनों के साइज में अंतर: दोनों ब्रेस्ट क्यों होते हैं एक-दूसरे से अलग? जानें इसके 6 कारण

5. गर्भनिरोधक उपकरण का इस्तेमाल किया हो

कई महिलाएं प्रेगनेंसी को रोकने के लिए गर्भनिरोधक उपकरणों का इस्तेमाल करती हैं। ऐसे में अगर आपकी योनि में इंट्रोटेरिन डिवाइस है, तो मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। दरअसल, गर्भनिरोधक उपकरण को गर्भाशय के अंदर फिट किया जाता है। ऐसे में अगर आप मेंस्ट्रुअल का इस्तेमाल करती हैं, तो इसे बाहर निकालते समय कभी गर्भनिरोधक उपकरण बाहर निकल सकता है। यह काफी पीड़ादायक होता है। ऐसे में आपको इसका यूज करने से बचना चाहिए।

अगर आप भी इन स्थितियों का सामना कर रहे हैं, तो मेंस्ट्रुअल का यूज करने से बचें। अन्यथा आपकी समस्या बढ़ सकती है।

(images source: freepik)

Disclaimer