विसेरल फैट क्या होता है ? जानें इसे कम करने के उपाय

विसरेल फैट कम करने के लिए आपको भरपूर एक्सरसाइज के साथ स्मार्ट ईटिंग भी करनी चाहिए ताकि शरीर स्वस्थ रहे। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: May 10, 2022Updated at: May 10, 2022
विसेरल फैट क्या होता है ? जानें इसे कम करने के उपाय

आमतौर पर हम वजन कम तो करना चाहते है लेकिन हमें कई तरह के फैट्स के बारे में पता नहीं होता है, जिससे शरीर का वजन बढ़ता है। कई बार हम बैली फैट या पेट कम करने की कोशिश में एक्सरसाइज करते है लेकिन इससे हमारा वजन कम नहीं होता है। दरअसल इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं और आपको समझने की जरूरत है कि विसेरल फैट क्या होता है क्योंकि अगर अंदरूनी रूप से आपके शरीर में वसा की मात्रा कम नहीं होती है, तो आप आसानी से वजन कम नहीं कर पाते है। कई लोग तो खाना छोड़कर वजन कम करने की कोशिश करते है लेकिन इससे कोई खास लाभ नहीं होता है। बल्कि शरीर में पोषक तत्वों की कमी से आपको नुकसान हो सकता है और कई बीमारियां हो सकती है। 

विसरेल फैट क्या होता है?

आपकी आंतों के पास जमा होने वाला फैट शरीर के अंगों पर भले दिखाई न दे लेकिन इससे शरीर का मोटापा बढ़ता है। ये भी हो सकता है कि विसरेल फैट बढ़े होने के बावजूद आपका पेट सपाट नजर आए लेकिन ये आपके शरीर को अंदर से नुकसान पहुंचा सकता है और ये शरीर के अंदर एक पतली चर्बी की परत बना सकता है। इसे आप कई तरह के टेस्ट की मदद से माप सकते हैं कि आपके शरीर के अंदर कितना फैट जमा है। 

विसरेल फैट के नुकसान

शरीर में किसी तरह का फैट भी जमा होना आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है लेकिन आंत में जमा होने वाले फैट शरीर की त्वचा के नीचे जमा होने वाले फैट से अधिक हानिकारक हो सकता है। इससे कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती है। हृदय रोग, अल्जाइमर, टाइप 2 मधुमेह, स्ट्रोक और हाई कोलेस्ट्रॉल की परेशानी हो सकती है और अगर आपको पहले से ये समस्याएं है, तो ये और बढ़ने की संभावना रहती है। शरीर में विसरेल फैट की मात्रा ऊतकों को ट्रिगर कर सकती है और आपकी रक्त वाहिकाओं को संकीर्ण कर सकती है। इससे हाई ब्लड प्रेशर और अन्य समस्याएं भी बढ़ सकती है। 

visceral-fat

Image Credit- Freepik

विसरेल फैट बढ़ने के लक्षण

कमर का साइज बहुत अधिक होना भी विसरेल फैट का कारण हो सकता है। कमर के चारों ओर के फैट की वजह से आपको अपने कपड़े ही बार-बार छोटे हो जाते हैं या आप अपनी मनपसंद ड्रेस भी नहीं पहन पाते हैं। विसरेल फैट बढ़ने का दूसरा लक्षण है बहुत अधिक बीएमआई (बॉडी मास इंडेक्स), अगर आपके शरीर का बीएमआई बहुत अधिक है, तो आपको सावधान होना चाहिए। इसके अलावा अगर आपके शरीर का शेप भी सही नहीं है, तो इसके पीछे भी विसरेल फैट कारण हो सकता है। इससे आपके शरीर का वजन अचानक बढ़ सकता है। इसलिए इसे कम करने के लिए आपको अपने दैनिक क्रियाकलापों में बदलाव जरूर करना चाहिए। 

विसरेल फैट कम करने के उपाय

1. एक्सरसाइज करें

विसरेल फैट कम करने के लिए आपको एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए। इसके लिए आप एरोबिक एक्सरसाइज का सहारा ले सकते हैं। ये काफी फायदेमंद हो सकता है। साथ ही आप चाहे तो जिम जाकर भी फैट कम कर सकते हैं। 

visceral-fat

Image Credit- Freepik

2. प्रोटीन और फाइबर की अधिक मात्रा 

विसरेल फैट कम करने के लिए आप अपने खाने में प्रोटीन और घुलनशील फाइबर का अधिक उपयोग करें ताकि खाने का पाचन अच्छे से हो सके। वहीं प्रोटीन शरीर के ऊतकों का निर्माण और रखरखाव करने में मदद कर सकता है। इससे आप सही तरीके से वजन कम कर सकते हैं। 

3. स्मार्ट तरीके से करें भोजन 

कई लोग खाने में प्रोटीन और फाइबर मात्रा तो शामिल करते है लेकिन अन्य पोषक तत्वों की मात्रा शामिल नहीं कर पाते हैं। ऐसे में उनके लिए एक बैलेंस डाइट का सेवन करना काफी मुश्किल हो जाता है और शरीर में कमजोरी आ सकती है। आपको चाहिए कि अगर आप फैट कम करने की कोशिश कर रहे हैं, तो आपको स्मार्ट तरीके से अपनी डाइट को प्लान करना चाहिए ताकि सारे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मिल सकें और आप वजन कम करने के दौरान भी स्वस्थ रहें। 

इसे भी पढे़ं- शरीर में इन 5 प्रकारों के होते हैं फैट, जानें क्या है विसरल फैट (Visceral Fat) और क्यों है नुकसानदायक

4. भरपूर मात्रा में पानी पिएं

पानी पीना शरीर के लिए सबसे फायदेमंद होता है। फैट कम करने के दौरान यह आपको हाइड्रेट और तरोताजा रहने में मदद कर सकता है। साथ ही कई तरह की समस्याओं के लक्षण को भी कम  कर सकता है। इससे भोजन का पाचन भी अच्छे से होता है।

Main Image Credit- Freepik

Disclaimer