Tofu vs Chicken: टोफू या चिकन किसमें है ज्यादा प्रोटीन? सेहत के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद

चिकन के विषय में तो आप सब जानते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि टोफू भी एक प्रोटीन युक्त फूड है। तो जानें कि दोनों में से किसमें है अधिक पोषण।

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 18, 2021Updated at: Jul 18, 2021
Tofu vs Chicken: टोफू या चिकन किसमें है ज्यादा प्रोटीन? सेहत के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद

चिकन (chicken) मीट है तो टोफू (Tofu) सोया और दोनों के टेस्ट, आकार और पोषण में भी फर्क है। चिकन की ही तरह टोफू में भी प्रोटीन की काफी मात्रा होती है। इसी वजह से इसे शाकाहारी (Vegetarians) लोगों का चिकन भी कहा जाता है। दरअसल शाकाहारी लोग प्रोटीन की मात्रा को पूरी करने के लिए चिकन पर निर्भर नहीं रह सकते। इस वजह से शाकाहारी लोगों के लिए टोफू नामक विकल्प है। लेकिन शाकाहारी और मांसाहारी लोगों के बीच इस बात को लेकर अक्सर बहस रहती है कि टोफू और चिकन (tofu vs. chicken)में से कौन सी चीज अधिक हेल्दी है या अधिक प्रोटीन युक्त है। अगर आपके मन में भी इन दोनों के पोषक तत्व को लेकर कोई शंका है तो जानिए विस्तार से। 

Inside2chicken

चिकन में पोषण (Nutrients In Chicken)

अगर हम चिकन के पोषण की बात करते हैं तो एक तीन औंस चिकन ब्रेस्ट में लगभग 21 ग्राम प्रोटीन और और 3.5 ग्राम टोटल फैट पाया जाता है। चिकन में ब्लड बनाने वाला आयरन भी होता है, इसके साथ ही इम्यून सिस्टम को मजबूत करने वाले जिंक और मैग्नेशियम भी चिकन में पाए जाते है। यही नहीं यह विटामिन बी का भी एक अच्छा स्रोत होता है। यह हमें थकान से राहत दिलाने में मदद करता है और दिमाग के लिए लाभदायक होता है। साथ में मसल मास को बढ़ाने में भी सहायता करता है।

टोफू में पोषण (Nutrients In Tofu)

यह एशियन सुसीन का एक अहम हिस्सा है और टोफू सोयाबीन द्वारा बना होता है। इसे आप साधारण रूप से या उबाल कर खा सकते हैं। अगर आप एक संतुलित और शाकाहारी मील ले रहे हैं, जो आपके लिए बहुत अधिक हेल्दी है तो इसे आपको अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। टोफू की 3 ओंस सर्विंग में 8 ग्राम प्रोटीन, 4 ग्राम फैट होता है और इसमें कैल्शियम, आयरन, जिंक, मैग्नेशियम की भी अच्छी खासी मात्रा होती है, जो हमारे ब्लड प्रेशर को भी संतुलित रखती है। 

Inside1tofu

इसे भी पढ़ें : हरे प्याज की पत्तियों की तरह दिखने वाले 'चाइव्स' के सेवन से सेहत को मिलते हैं ये 5 फायदे

इसमें पोटैशियम नामक मिनरल भी होता है जो फ्लूइड लेवल को बैलेंस रखता है और मसल्स के लिए भी बहुत सहायक होता है। टोफू में फाइबर की भी अच्छी मात्रा होती है। जो पाचन और ब्लड शुगर को नियंत्रित रखने में मदद करता है। टोफू के अच्छे फ्लेवर की वजह से यह खाने में भी काफी स्वादिष्ट होता है। साथ ही यदि इसे अन्य चीजों में मिला कर खाया जाये तो पोषण की मात्रा बढ़ जाती है।

चिकन और टोफू में से कौन सा है अधिक हेल्दी -Which is More Healthy?

दोनों ही चीजों में बहुत पोषण अधिक मात्रा में और लगभग एक से पोषक तत्त्व पाए जाते हैं। यह दोनों ही लीन प्रोटीन का बढ़िया स्रोत हैं। यह प्रोटीन ही नहीं अन्य बहुत से पोषण भी प्रदान करते हैं। आपको )अपनी डाइट में हमेशा ही अलग अलग चीजें शामिल कर के खानी चाहिए। दोनों ही चीज आपकी सेहत और पोषण की प्राप्ति के लिए बहुत अच्छे हैं। अगर आप शाकाहारी नहीं हैं तो आप दोनों ही चीजों को अपनी डाइट में  शामिल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : न्यूट्रीशनिस्ट से जानें 9 भुने अनाज खाने के फायदे, गांवों में आज भी स्नैक की तरह खाया जाता है भुना अनाज

अगर आप किसी एक चीज को शामिल करने के बारे में सोच रहे हैं तो बता दें कि चिकन में प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है और लगभग टोफू के दोगुनी होती है। चिकन ब्रेस्ट में फैट की मात्रा भी कम होती है लेकिन इस लिस्ट में टोफू टॉप करता है, क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में फैट होते हैं। चिकन में सैचुरेटेड फैट और कोलेस्ट्रॉल होते हैं जो टोफू में नहीं पाए जाते हैं। दोनों ही चीजों में कुछ चीज ज्यादा तो कुछ कम होती है। आप अपनी पसंद के हिसाब से किसी भी एक चीज को डाइट में शामिल कर सकते है।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer