बच्चों की नूडल्स की लत छुड़ाने के लिए अपनाएं ये 5 आसान उपाय

नूडल्स खाने की लत सिर्फ बच्चों को ही नहीं बल्कि कुछ बड़ों को भी होती है। ऐसे में इस आदत में बदलाव लाने के आप इन टिप्स को अपना सकते हैं। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Oct 12, 2021
बच्चों की नूडल्स की लत छुड़ाने के लिए अपनाएं ये 5 आसान उपाय

नूडल्स (noodles) खाना लगभग हर किसी को पसंद है। बड़े तो अपने नूडल्स खाने की आदत को कंट्रोल कर लेते हैं पर बच्चे इसे लेकर जिद्दी हो जाते हैं। ऐसे में धीमे-धीमे उन्हें नूडल्स खाने की लत लग जाती है। पर चिंता की बात ये है कि नूडल्स सेहत के लिहाज से सही नहीं है। ये शरीर को अनहेल्दी कार्ब्स और फैट देते हैं जो कम उम्र में ही बच्चों को कई बीमारियों का शिकार बना लेते हैं। जैसे कि बच्चों में मोटापा और डायबिटीज। इसके अलावा नूडल्स बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास को बाधित करते हैं और उनके नेचुरल ग्रोथ के साथ छेड़छाड़ करते हैं। लगातार नूडल्स खाने की वजह से उनका मेटाबोलिज्म और पाचनतंत्र भी धीमा हो जाता है और स्वस्थ तरीके से काम नहीं कर पाता है। ऐसे में सबसे जरूरी है कि आप अपने बच्चे में नूडल्स की लत छुड़ाने की कोशिश करें। ये काम एक दिन में तो नहीं होगा पर आप अगर धीमे-धीमे कोशिश करें, तो बच्चे एक दिन इसे खुद की कंट्रोल कर लेंगे। तो, आइए जानते हैं बच्चों की नूडल्स की लत छुड़ाने के 5 आसान उपाय।

Insidenoodles

image credit: Medindia

बच्चों की नूडल्स की लत कैसे छुडाएं-Tips to restrict kids from eating noodles

1. नूडल्स के हेल्दी ऑपशन को चुनें

अगर आपके बच्चे तो नूडल्स खाना बहुत पसंद है और उसे इसे खानी की जिद्द और लत है, तो सबसे पहले आपको इसके लिए हेल्दी विकल्प तलाश करने होंगे। ऐसे में कुछ और देने की जगह सबसे पहले आपको उन्हें नूडल्स के हेल्दी ऑप्शन (healthier option for noodles) देना होगा। ताकि इससे उनके शरीर को कम नुकसान पहुंचे और आप उनके टेस्ट व मेटाबोलिज्म के साथ आराम से बदलाव भी कर सकते हैं।तो,  इसके लिए आप दो तरीके का नूडल्स चुन सकते हैं। 

a. क्विनोआ नूडल्स (quinoa noodles)

क्विनोआ के आटे से बने नूडल्स कई तरह के पोषण लाभ प्रदान करते हैं। इसमें नौ आवश्यक अमीनो एसिड होते हैं जिनकी शरीर को आवश्यकता होती है। इस नूडल्स में विटामिन बी, विटामिन ई और आयरन खनिज भी होते हैं जो कि बच्चों के लिए फायदेमंद ही है। इसलिए, बच्चों क्विनोआ नूडल दें। 

Inside3ricenoodles

image credit: Pinterest

b. चावल के नूडल्स

चावल के नूडल्स बाकी नूडल्स से ज्यादा हेल्दी होते हैं। साथ ही बाकी नूडल्स की तरह तेजी से वजन नहीं बढ़ाता है। पर इन्हें भी बच्चों को ज्यादा खाने को ना दें। बस उनकी आदत को तोड़ने की कोशिश करें। 

इसे भी पढ़ें : बच्चों में इन 6 कारणों से बढ़ती है हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या, जानें लक्षण, इलाज और बचाव के टिप्स

2. सब्जियों के साथ क्रिएटिविटी दिखाएं

कभी आपने स्पाइरलाइज्ड वेजिटेबल (spiralized vegetables) के बारे में सुना है? नहीं ना। दरअसल, इसमें सब्जियों को नूडल्स के डिजाइन यानी कि लंबा और रेशेदार तरीके से काटा जाता है। इसमें सब्जियों को लंबी स्ट्रिप्स में काटी जाती है जो कि नूडल्स की तरह दिखती है। तो, आप अपने बच्चों को ये सब्जियों वाला हेल्दी नूडल्स दे सकते हैं। इसमें आप तोरी, शिमला, गाजर, शलजम, बीट्स और खीरे जैसी सब्जियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। बस ध्यान देने वाली बात ये है कि इसमें नूडल्स जैसे ही मसाले डालें ताकि बच्चों को ये अच्छा लगे। 

Inside2veges

image credit: The Leaf Nutrisystem Blog - Nutrisystem

3. रोज कुछ नया खिलाएं

अगर आपके बच्चे को एक ही चीज खाने की आदत लग गई है तो उसे हर रोज कुछ नया खिलाएं। जैसे कि नाश्ते में उन्हें हेल्दी सैंडविज, वेजी पराठा और हलवा आदि दें। तो, दोपहर में पनीर भुर्जी रोटी और अंडा पराठा दें। इसी तरह रात में भुने हुए शकरकंद,  ग्रिल्ड कॉर्न,  उबले हुए आलू और चावल आदि खिलाएं। कोशिश करें कि खाने में अनाज का रोटेशन और सब्जियां का बदलाव करते रहें। 

4. बच्चों की पसंदीदा चीजों में सब्जियां और फल मिलाएं

अगर आपके बच्चे को कोई खास सब्जी और फल पसंद नहीं है, तो आप कुछ दिनों उन्हें वो खाने को ना दें। फिर धीमे-धीमे उनकी बाकी खाने में उन फलों और सब्जियों को शामिल करें। जैसे कि बनाना ड्रिंक में पीनट बटर और कीवी मिला दें। उनके कस्टर्ड में तमाम फल मिला दें। फलों को पीस कर और आईसक्रीम बना कर खिला दें। इसी तरह सब्जियों को हाफ फ्राई करके पनीर सैंडविच और पराठे में भर कर दे दें। इस तरह बिना बताए उनके खाने में ये बदलाव करें। 

इसे भी पढ़ें : बच्चों में अपेंडिसाइटिस (अपेंडिक्स) के क्या कारण होते हैं? जानें इसके लक्षण और इलाज

Inside4egg

image credit: Australian Eggs

5. अंडे की रेसिपी ट्राई करें

अंडे की रेसिपी कई प्रकार की और टेस्टी होती हैं। अंडे से आप अलग-अलग शेप में स्नैक्स बना सकते हैं। साथ ही आप इसे उनके फेवरेट चॉकलेट कुकीज और केक पर रख कर ओवन में हाफ फ्राई करके दे सकते हैं। आप बच्चों के वेज बिरयानी में अंडा डाल सकते हैं। अंडे में लपेटकर पराठा बना कर दे सकते हैं। इस तरह आप उन्हें कई प्रकार से अंडे खाने से दे सकते हैं। 

ध्यान रहे कि नूडल्स की आदत एक दिन में नहीं जाएगी। ऐसे में उनके नूडल्स खाने के अंतराल को बढ़ाएं। बहुत दिनों बाद खाने दें। घर पर नूडल्स रखें ही नहीं। फिर धीमे-धीमे इन टेस्टी चीजों से उनकी आदत में बदलाव लाएं। 

Main image credit: Parents

Disclaimer